40 हजार करोड़ के चीनी सामान बिकने पर रोक लगाएंगे व्यापारी, गणेश चतुर्थी पर मिट्‌टी की प्रतिमाओं की होगी पूजाDainik Bhaskar


कॉन्फेडरेशन ऑफ ऑल इंडिया ट्रेडर्स (कैट) ने चीनी वस्तुओं के बहिष्कार के लिए राष्ट्रीय अभियान ‘भारतीय सामान, हमारा अभिमान’ चला रखा है। इसके तहत कैट ने आगामी त्योहारी सीजन में चीनी वस्तुओं के बजाय भारतीय सामान का इस्तेमाल करने की अपील की है।

कैट के राष्ट्रीय अध्यक्ष बीसी भरतिया एवं राष्ट्रीय महामंत्री प्रवीण खंडेलवाल ने कहा कि अब से लेकर दिवाली तक देश में त्योहारी सीजन है। इस सीजन में चीन से आयात हुआ करीब 35 से 40 हजार करोड़ रुपए का सामान बिकता है। इनमें भगवान की मूर्तियां, अगरबत्ती, खिलौने, इलेक्ट्रॉनिक्स, पटाखे और दीये समेत कई प्रकार का सामान शामिल है।

कैट ने बनवाई पर्यावरण मित्र गणेश की प्रतिमाएं

इस साल देश के व्यापारियों ने तय किया है कि वो इस साल चीन का सामान नहीं बेचेंगे। व्यापारी अपने देश में ही बना हुआ सामान बेचकर चीन को 40 हजार करोड़ रुपए का झटका देंगे। इसी क्रम में गणेश चतुर्थी को नए अंदाज में मनाने के लिए कैट भगवान गणेश की छोटी-छोटी ईको-फ्रेंडली प्रतिमाएं बनवा रहा है। कैट ने कुछ तस्वीरें भी जारी की हैं। गजानन की ये प्रतिमाएं मिट्‌टी, खाद और गोबर से बनी हैं। कैट ने इन प्रतिमाओं को ‘पर्यावरण मित्र गणेशजी’ नाम दिया है।

आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें


इस साल व्यापारी अपने देश में ही बना हुआ सामान बेचकर चीन को 40 हजार करोड़ रुपए का झटका देंगे।

कॉन्फेडरेशन ऑफ ऑल इंडिया ट्रेडर्स (कैट) ने चीनी वस्तुओं के बहिष्कार के लिए राष्ट्रीय अभियान ‘भारतीय सामान, हमारा अभिमान’ चला रखा है। इसके तहत कैट ने आगामी त्योहारी सीजन में चीनी वस्तुओं के बजाय भारतीय सामान का इस्तेमाल करने की अपील की है। कैट के राष्ट्रीय अध्यक्ष बीसी भरतिया एवं राष्ट्रीय महामंत्री प्रवीण खंडेलवाल ने कहा कि अब से लेकर दिवाली तक देश में त्योहारी सीजन है। इस सीजन में चीन से आयात हुआ करीब 35 से 40 हजार करोड़ रुपए का सामान बिकता है। इनमें भगवान की मूर्तियां, अगरबत्ती, खिलौने, इलेक्ट्रॉनिक्स, पटाखे और दीये समेत कई प्रकार का सामान शामिल है। कैट ने बनवाई पर्यावरण मित्र गणेश की प्रतिमाएं इस साल देश के व्यापारियों ने तय किया है कि वो इस साल चीन का सामान नहीं बेचेंगे। व्यापारी अपने देश में ही बना हुआ सामान बेचकर चीन को 40 हजार करोड़ रुपए का झटका देंगे। इसी क्रम में गणेश चतुर्थी को नए अंदाज में मनाने के लिए कैट भगवान गणेश की छोटी-छोटी ईको-फ्रेंडली प्रतिमाएं बनवा रहा है। कैट ने कुछ तस्वीरें भी जारी की हैं। गजानन की ये प्रतिमाएं मिट्‌टी, खाद और गोबर से बनी हैं। कैट ने इन प्रतिमाओं को ‘पर्यावरण मित्र गणेशजी’ नाम दिया है। आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें

इस साल व्यापारी अपने देश में ही बना हुआ सामान बेचकर चीन को 40 हजार करोड़ रुपए का झटका देंगे।Read More

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *