मुंबई के पवनहंस श्मशान घाट पर पंडितजी का अंतिम संस्कार आज, सोशल मीडिया पर लाइव टेलीकास्ट जारीDainik Bhaskar


पद्म विभूषण पंडित जसराज का गुरुवार को राजकीय सम्मान के साथ मुंबई के विले पार्ले के पवनहंस श्मशान घाट पर अंतिम संस्कार होगा। कोरोना संक्रमणकाल की वजह से अंतिम संस्कार में ज्यादा लोग शामिल नहीं होंगे। किसी तरह की अंतिम यात्रा भी नहीं निकाली जाएगी। यह भी कहा जा रहा है कि तिरंगे में लिपटे पार्थिव शरीर को हेलिकॉप्टर से श्मशान तक लाया जाएगा।

वर्सोवा स्थित घर में पंडितजी का पार्थिव शरीर अंतिम दर्शनों के लिए रखा गया है। उनकी अंतिम यात्रा का फेसबुक पर लाइव टेलिकास्ट हो रहा है। फेसबुक पर आर्ट एंड आर्टिस्ट्स और दुर्गा जसराज, सारंग देव, मधुरा जसराज और पंडित जसराज फैंस के पेज पर ये लाइव हो रहा है। पंडितजी का 17 अगस्त की शाम 5.15 बजे अमेरिका के न्यूजर्सी में निधन हो गया था। पंडितजी का पार्थिव शरीर बुधवार को मुंबई पहुंचा।

भजन सम्राट अनूप जलोटा पंडित जसराज को अंतिम नमन करने के लिए पहुंचे।
म्यूजिक कंपोजर ललित पंडित भी पंडित जसराज को अंतिम विदाई देने के लिए पहुंचे।
एक विशेष शव वाहन में पंडित जी का पार्थिव एयरपोर्ट से वर्सोवा स्थित घर तक लाया गया।
विशेष वाहन में पंडितजी का पार्थिव शरीर एयरपोर्ट से वर्सोवा स्थित घर तक लाया गया था।
पद्म विभूषण पंडित जसराज के साथ उनके गुरु की तस्वीर को भी रखा गया है।

पंडित जसराज को 90 साल की उम्र में कार्डिएक अरेस्ट हुआ था। पद्म विभूषण पंडित जसराज पिछले कुछ समय से परिवार के साथ अमेरिका में ही थे।

पंडित जसराज के पार्थिव शरीर के अंतिम दर्शन करते हुए उनके परिवार के सदस्य।

विशेष विमान से पार्थिव मुंबई लाया गया
इससे पहले पंडितजी का पार्थिव शरीर एयर इंडिया के विमान एआई-144 में लाया गया। विमान बुधवार दोपहर मुंबई पहुंचा। इसके बाद पार्थिक देह को अंधेरी (पश्चिम) के वर्सोवा स्थित आवास पर ले जाया गया। पारिवारिक प्रवक्ता प्रीतम शर्मा ने कहा कि पंडित जसराज की पत्नी मधुरा, बेटी दुर्गा, बेटे सारंग और पोते ने उनका पार्थिव शरीर रिसीव किया।

मुंबई में पार्थिव के पहुंचने के दौरान उनकी बेटी दुर्गा जसराज और उनके बेटे सारंग देव मीडिया कर्मियों को नमस्कार करते हुए।
मुंबई में पार्थिव शरीर के पहुंचने के दौरान पंडितजी की बेटी दुर्गा जसराज और बेटे सारंग देव।

आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें


पंडित जसराज के पार्थिव शरीर को अंधेरी (पश्चिम) के वर्सोवा स्थित आवास पर अंतिम दर्शन के लिए रखा गया है।

पद्म विभूषण पंडित जसराज का गुरुवार को राजकीय सम्मान के साथ मुंबई के विले पार्ले के पवनहंस श्मशान घाट पर अंतिम संस्कार होगा। कोरोना संक्रमणकाल की वजह से अंतिम संस्कार में ज्यादा लोग शामिल नहीं होंगे। किसी तरह की अंतिम यात्रा भी नहीं निकाली जाएगी। यह भी कहा जा रहा है कि तिरंगे में लिपटे पार्थिव शरीर को हेलिकॉप्टर से श्मशान तक लाया जाएगा। वर्सोवा स्थित घर में पंडितजी का पार्थिव शरीर अंतिम दर्शनों के लिए रखा गया है। उनकी अंतिम यात्रा का फेसबुक पर लाइव टेलिकास्ट हो रहा है। फेसबुक पर आर्ट एंड आर्टिस्ट्स और दुर्गा जसराज, सारंग देव, मधुरा जसराज और पंडित जसराज फैंस के पेज पर ये लाइव हो रहा है। पंडितजी का 17 अगस्त की शाम 5.15 बजे अमेरिका के न्यूजर्सी में निधन हो गया था। पंडितजी का पार्थिव शरीर बुधवार को मुंबई पहुंचा। भजन सम्राट अनूप जलोटा पंडित जसराज को अंतिम नमन करने के लिए पहुंचे।म्यूजिक कंपोजर ललित पंडित भी पंडित जसराज को अंतिम विदाई देने के लिए पहुंचे।विशेष वाहन में पंडितजी का पार्थिव शरीर एयरपोर्ट से वर्सोवा स्थित घर तक लाया गया था।पद्म विभूषण पंडित जसराज के साथ उनके गुरु की तस्वीर को भी रखा गया है।पंडित जसराज को 90 साल की उम्र में कार्डिएक अरेस्ट हुआ था। पद्म विभूषण पंडित जसराज पिछले कुछ समय से परिवार के साथ अमेरिका में ही थे। पंडित जसराज के पार्थिव शरीर के अंतिम दर्शन करते हुए उनके परिवार के सदस्य।विशेष विमान से पार्थिव मुंबई लाया गया इससे पहले पंडितजी का पार्थिव शरीर एयर इंडिया के विमान एआई-144 में लाया गया। विमान बुधवार दोपहर मुंबई पहुंचा। इसके बाद पार्थिक देह को अंधेरी (पश्चिम) के वर्सोवा स्थित आवास पर ले जाया गया। पारिवारिक प्रवक्ता प्रीतम शर्मा ने कहा कि पंडित जसराज की पत्नी मधुरा, बेटी दुर्गा, बेटे सारंग और पोते ने उनका पार्थिव शरीर रिसीव किया। मुंबई में पार्थिव शरीर के पहुंचने के दौरान पंडितजी की बेटी दुर्गा जसराज और बेटे सारंग देव।आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें

पंडित जसराज के पार्थिव शरीर को अंधेरी (पश्चिम) के वर्सोवा स्थित आवास पर अंतिम दर्शन के लिए रखा गया है।Read More

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *