अमेरिका में दिसंबर तक 1.34 लाख मौतें और हो सकती हैं, लोग मास्क पहनें तो 3 महीने में 70 हजार जानें बचेंगी; दुनिया में अब तक 2.32 करोड़ केसDainik Bhaskar


दुनिया में कोरोनावायरस संक्रमण के अब तक 2 करोड़ 32 लाख 47 हजार 196 मामले सामने आ चुके हैं। इनमें 1 करोड़ 58 लाख 2 हजार 571 मरीज ठीक हो चुके हैं, जबकि 8 लाख 5 हजार 588 की मौत हो चुकी है। ये आंकड़े www.worldometers.info/coronavirus के मुताबिक हैं।

वॉशिंगटन यूनिवर्सिटी के इंस्टीट्यूट फॉर हेल्थ मेट्रिक्स एंड इवैल्यूएशन की रिपोर्ट में कहा गया कि अमेरिका में अगर कोई और सुरक्षा उपाय अनिवार्य नहीं किए गए तो दिसंबर तक यहां 1 लाख 34 हजार लोगों की मौत हो सकती है। यदि ज्यादा से ज्यादा अमेरिकियों ने मास्क पहना, तो उनमें 70,000 लोगों की जान बच जाएगी।

रिसर्चर्स का यह भी कहना है कि महामारी की शुरुआत से अब तक देश में 1.79 लाख मौतें हो चुकी हैं। संस्थान ने अनुमान लगाया कि यदि रोकथाम के पर्याप्त उपाय नहीं किए गए तो सितंबर में और ज्यादा मौतें होंगी, लेकिन बाद मे इसमें कमी आएगी। वहीं, दिसंबर तक मरने वालों की संख्या लगभग 3 लाख 10 हजार तक पहुंच जाएगी।

इन 10 देशों में कोरोना का असर सबसे ज्यादा

देश

संक्रमित मौतें ठीक हुए
अमेरिका 58,02,145 1,79,290 31,27,633
ब्राजील 35,36,488 1,13,454 26,70,755
भारत 30,01,379 56,194 22,43,427
रूस 9,51,897 16,310 7,67,477
साउथ अफ्रीका 6,03,338 12,843 5,00,102
पेरू 5,76,067 27,245 3,84,908
मैक्सिको 5,49,734 59,610 3,76,409
कोलंबिया 5,22,138 16,568 3,48,940
स्पेन 4,07,879 28,838 उपलब्ध नहीं
चिली 3,93,769 10,723 3,67,897

जर्मनी: एक दिन में 2034 नए मामले

जर्मनी में शनिवार को संक्रमण के 2034 नए मामले सामने आए हैं। 26 अप्रैल के बाद हर दिन सामने आने वाले मामलों में यह सबसे बड़ा आंकड़ा है। यहां अप्रैल की शुरुआत में हर दिन 6 हजार से ज्यादा केस सामने आए थे। देश में अब तक 2.33 लाख लोग संक्रमित हो चुके हैं, जबकि 9328 लोगों की मौत हो चुकी है।

जर्मनी में महामारी के बीच स्कूल खोल दिए गए हैं। फोटो में एक 6 साल की बच्ची अपना मास्क ठीक कर रही है। देश में 2.33 लाख लोग अब तक संक्रमित हो चुके हैं।

ऑस्ट्रेलिया : हालात सुधरे

ऑस्ट्रेलिया में संक्रमण की दूसरी लहर का असर कम होने लगा है। विक्टोरिया के चीफ हेल्थ ऑफिसर ब्रेट सटन ने कहा- हमने सख्त उपाय किए हैं। अब इनके नतीजे भी मिलने लगे हैं। दो दिन से लगातार नए मरीजों की संख्या कम हो रही है। गुरुवार के बाद शुक्रवार को भी नए संक्रमितों की संख्या 200 से कम रही। यहां 20 हजार टेस्ट हर दिन किए जा रहे हैं। सरकार का कहना है कि सितंबर की शुरुआत तक प्रतिदिन मिलने वाले केसों की संख्या 30 के आसपास करने का लक्ष्य है।

इटली: हेल्थ डिपार्टमेंट अलर्ट पर
इटली में सरकार ने हेल्थ मिनिस्ट्री को अलर्ट पर रहने को कहा है। यहां मई के बाद एक दिन में सबसे ज्यादा केस दर्ज हुए। शुक्रवार को कुल 947 मामले सामने आए। यह 14 मई के बाद सबसे बड़ा आंकड़ा है। सरकार ने कहा है कि वो इन मामलों की जांच कर रही है। इसके बाद यह पता लगाया जाएगा कि कोई क्लस्टर तो नहीं बन रहा। दूसरी तरफ, शनिवार शाम इन मामलों की समीक्षा की जाने की भी तैयारी है। इसके बाद नई रणनीति तैयार की जाएगी।

मिलान एयरपोर्ट पर मौजूद हेल्थ वर्कर एक फ्लाइट के अराइवल के पहले पीपीई किट पहनकर स्क्रीनिंग की तैयारी करते हुए। इटली में 14 मई के बाद एक दिन में सबसे ज्यादा केस मिले हैं।

ब्राजील : मौतों का आंकड़ा बढ़ा
ब्राजील में मौतों का आंकड़ा फिर तेजी से बढ़ा है। शुक्रवार को यहां 1054 लोगों की मौत हो गई। इतना ही नहीं, नए संक्रमितों की संख्या में भी बढ़त हुई। कुल 30 हजार 356 नए मामले सामने आए। हेल्थ मिनिस्ट्री का कहना है कि जिन मरीजों की मौत हुई उनमें से ज्यादातर पहले से किसी न किसी बीमारी से पीड़ित थे। डब्ल्यूएचओ की टीम शनिवार को पांच दिन के दौरे पर ब्राजील आ रही है। इसके एक्सपर्ट सरकारी अधिकारियों के साथ संक्रमण पर काबू पाने के नए उपायों पर विचार करेंगे।

ब्राजील में शुक्रवार को मरने वालों का आंकड़ा एक हजार से ज्यादा रहा। आज यहां डब्ल्यूएचओ की एक टीम पहुंच रही है। यह टीम सरकार के साथ संक्रमण रोकने के तरीकों पर नए सिरे से रणनीति तैयार करेगी। (फाइल)

डब्ल्यूएचओ : दो साल में खत्म होगी महामारी
डब्ल्यूएचओ ने महामारी को लेकर नया अनुमान जारी किया है। इसमें कहा गया है कि दो साल से कम वक्त में महामारी पर पूरी तरह काबू पा लिया जाएगा और यह खत्म हो जाएगी। संगठन के मुताबिक, समय पर सही कदम उठाए जा रहे हैं और इसका फायदा दुनिया के गरीब देशों को भी मिलेगा। इसके साथ ही नए शोध और वैक्सीन पर दुनिया के ज्यादातर देशों में काम जारी है। संगठन के मुताबिक, 1918 में आए फ्लू को भी खत्म होने में दो साल लगे थे। डब्ल्यूएचओ ने इसके साथ ही 12 साल से ऊपर के बच्चों को मास्क पहनने की सलाह दी है।

आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें


न्यूयॉर्क में कोरोनावायरस से जान गंवाने वालों के सम्मान में लोगों ने मार्च निकाला। इस दौरान प्रदर्शन करते हुए लोगों ने अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प से इस्तीफे की मांग की।

दुनिया में कोरोनावायरस संक्रमण के अब तक 2 करोड़ 32 लाख 47 हजार 196 मामले सामने आ चुके हैं। इनमें 1 करोड़ 58 लाख 2 हजार 571 मरीज ठीक हो चुके हैं, जबकि 8 लाख 5 हजार 588 की मौत हो चुकी है। ये आंकड़े www.worldometers.info/coronavirus के मुताबिक हैं। वॉशिंगटन यूनिवर्सिटी के इंस्टीट्यूट फॉर हेल्थ मेट्रिक्स एंड इवैल्यूएशन की रिपोर्ट में कहा गया कि अमेरिका में अगर कोई और सुरक्षा उपाय अनिवार्य नहीं किए गए तो दिसंबर तक यहां 1 लाख 34 हजार लोगों की मौत हो सकती है। यदि ज्यादा से ज्यादा अमेरिकियों ने मास्क पहना, तो उनमें 70,000 लोगों की जान बच जाएगी। रिसर्चर्स का यह भी कहना है कि महामारी की शुरुआत से अब तक देश में 1.79 लाख मौतें हो चुकी हैं। संस्थान ने अनुमान लगाया कि यदि रोकथाम के पर्याप्त उपाय नहीं किए गए तो सितंबर में और ज्यादा मौतें होंगी, लेकिन बाद मे इसमें कमी आएगी। वहीं, दिसंबर तक मरने वालों की संख्या लगभग 3 लाख 10 हजार तक पहुंच जाएगी। इन 10 देशों में कोरोना का असर सबसे ज्यादा देश संक्रमित मौतें ठीक हुए अमेरिका 58,02,145 1,79,290 31,27,633 ब्राजील 35,36,488 1,13,454 26,70,755 भारत 30,01,379 56,194 22,43,427 रूस 9,51,897 16,310 7,67,477 साउथ अफ्रीका 6,03,338 12,843 5,00,102 पेरू 5,76,067 27,245 3,84,908 मैक्सिको 5,49,734 59,610 3,76,409 कोलंबिया 5,22,138 16,568 3,48,940 स्पेन 4,07,879 28,838 उपलब्ध नहीं चिली 3,93,769 10,723 3,67,897 जर्मनी: एक दिन में 2034 नए मामले जर्मनी में शनिवार को संक्रमण के 2034 नए मामले सामने आए हैं। 26 अप्रैल के बाद हर दिन सामने आने वाले मामलों में यह सबसे बड़ा आंकड़ा है। यहां अप्रैल की शुरुआत में हर दिन 6 हजार से ज्यादा केस सामने आए थे। देश में अब तक 2.33 लाख लोग संक्रमित हो चुके हैं, जबकि 9328 लोगों की मौत हो चुकी है। जर्मनी में महामारी के बीच स्कूल खोल दिए गए हैं। फोटो में एक 6 साल की बच्ची अपना मास्क ठीक कर रही है। देश में 2.33 लाख लोग अब तक संक्रमित हो चुके हैं।ऑस्ट्रेलिया : हालात सुधरे ऑस्ट्रेलिया में संक्रमण की दूसरी लहर का असर कम होने लगा है। विक्टोरिया के चीफ हेल्थ ऑफिसर ब्रेट सटन ने कहा- हमने सख्त उपाय किए हैं। अब इनके नतीजे भी मिलने लगे हैं। दो दिन से लगातार नए मरीजों की संख्या कम हो रही है। गुरुवार के बाद शुक्रवार को भी नए संक्रमितों की संख्या 200 से कम रही। यहां 20 हजार टेस्ट हर दिन किए जा रहे हैं। सरकार का कहना है कि सितंबर की शुरुआत तक प्रतिदिन मिलने वाले केसों की संख्या 30 के आसपास करने का लक्ष्य है। इटली: हेल्थ डिपार्टमेंट अलर्ट पर इटली में सरकार ने हेल्थ मिनिस्ट्री को अलर्ट पर रहने को कहा है। यहां मई के बाद एक दिन में सबसे ज्यादा केस दर्ज हुए। शुक्रवार को कुल 947 मामले सामने आए। यह 14 मई के बाद सबसे बड़ा आंकड़ा है। सरकार ने कहा है कि वो इन मामलों की जांच कर रही है। इसके बाद यह पता लगाया जाएगा कि कोई क्लस्टर तो नहीं बन रहा। दूसरी तरफ, शनिवार शाम इन मामलों की समीक्षा की जाने की भी तैयारी है। इसके बाद नई रणनीति तैयार की जाएगी। मिलान एयरपोर्ट पर मौजूद हेल्थ वर्कर एक फ्लाइट के अराइवल के पहले पीपीई किट पहनकर स्क्रीनिंग की तैयारी करते हुए। इटली में 14 मई के बाद एक दिन में सबसे ज्यादा केस मिले हैं।ब्राजील : मौतों का आंकड़ा बढ़ा ब्राजील में मौतों का आंकड़ा फिर तेजी से बढ़ा है। शुक्रवार को यहां 1054 लोगों की मौत हो गई। इतना ही नहीं, नए संक्रमितों की संख्या में भी बढ़त हुई। कुल 30 हजार 356 नए मामले सामने आए। हेल्थ मिनिस्ट्री का कहना है कि जिन मरीजों की मौत हुई उनमें से ज्यादातर पहले से किसी न किसी बीमारी से पीड़ित थे। डब्ल्यूएचओ की टीम शनिवार को पांच दिन के दौरे पर ब्राजील आ रही है। इसके एक्सपर्ट सरकारी अधिकारियों के साथ संक्रमण पर काबू पाने के नए उपायों पर विचार करेंगे। ब्राजील में शुक्रवार को मरने वालों का आंकड़ा एक हजार से ज्यादा रहा। आज यहां डब्ल्यूएचओ की एक टीम पहुंच रही है। यह टीम सरकार के साथ संक्रमण रोकने के तरीकों पर नए सिरे से रणनीति तैयार करेगी। (फाइल)डब्ल्यूएचओ : दो साल में खत्म होगी महामारी डब्ल्यूएचओ ने महामारी को लेकर नया अनुमान जारी किया है। इसमें कहा गया है कि दो साल से कम वक्त में महामारी पर पूरी तरह काबू पा लिया जाएगा और यह खत्म हो जाएगी। संगठन के मुताबिक, समय पर सही कदम उठाए जा रहे हैं और इसका फायदा दुनिया के गरीब देशों को भी मिलेगा। इसके साथ ही नए शोध और वैक्सीन पर दुनिया के ज्यादातर देशों में काम जारी है। संगठन के मुताबिक, 1918 में आए फ्लू को भी खत्म होने में दो साल लगे थे। डब्ल्यूएचओ ने इसके साथ ही 12 साल से ऊपर के बच्चों को मास्क पहनने की सलाह दी है। आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें

न्यूयॉर्क में कोरोनावायरस से जान गंवाने वालों के सम्मान में लोगों ने मार्च निकाला। इस दौरान प्रदर्शन करते हुए लोगों ने अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प से इस्तीफे की मांग की।Read More

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *