रायगढ़ में पांच मंजिला इमारत गिरी, एक की मौत; अभी भी मलबे में 50 से ज्यादा लोगों के दबे होने की आशंकाDainik Bhaskar


महाराष्ट्र के रायगढ़ में सोमवार शाम एक 5 मंजिला इमारत गिर गई। हादसे में एक व्यक्ति की मौत हो गई, 7 घायल हैं। महाड इलाके में गिरी इस इमारत के मलबे में अभी भी 50 से ज्यादा लोगों के फंसे होने की आशंका है। 15 लोगों को सुरक्षित बाहर निकाला गया है।

बताया जा रहा है कि अंधेरा हो जाने की वजह से रेस्क्यू में दिक्कतें आ रही हैं। मौके पर दमकल और एनडीआरएफ की टीमें मौजूद हैं। गृह मंत्री अमित शाह ने ट्विटर पर बताया कि महाराष्ट्र के रायगढ़ में हुई घटना के मामले में मैंने एनडीआरएफ के डीजी से बात की है। रेस्क्यू ऑपरेशन के लिए हर संभव प्रयास किए जा रहे हैं।

5 मंजिला इमारत ढहने के बाद मलबे का ढेर नजर आने लगी।

बताया जा रहा है कि करीब 10 साल पुरानी इस इमारत में 50 परिवार रहते थे। ये इमारत हादसे से एक घंटे पहले हिल रही थी। इसके बाद ही कुछ लोगों को बाहर निकाल लिया गया, पर काफी लोग फंसे रह गए।

मौके पर एनडीआरएफ और दमकल की कई टीमें राहत और बचाव में जुटीं।

इमारत के निर्माण में लापरवाही के आरोप

रायगढ़ से शिवसेना विधायक भरत गोगावले ने आरोप लगाया कि इमारत के निर्माण में खराब मेटेरियल का इस्तेमाल किया गया। उनका कहना है कि हो सकता है इमारत गिरने की वजह यही रही हो। राकांपा नेता और रायगढ़ की पालक मंत्री आदिति तटकरे ने बताया कि इस इमारत के गिरने की वजह पर अभी चर्चा करना ठीक नहीं है। हां ये जरूर है कि इमारत गिरने के पीछे बड़ी लापरवाही है। हादसे में फिलहाल किसी के मृत होने की जानकारी सामने नहीं आई है।

आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें


बताया जा रहा है कि महाड इलाके में सोमवार शाम करीब साढ़े छह बजे इमारत ढह गई।

महाराष्ट्र के रायगढ़ में सोमवार शाम एक 5 मंजिला इमारत गिर गई। हादसे में एक व्यक्ति की मौत हो गई, 7 घायल हैं। महाड इलाके में गिरी इस इमारत के मलबे में अभी भी 50 से ज्यादा लोगों के फंसे होने की आशंका है। 15 लोगों को सुरक्षित बाहर निकाला गया है। बताया जा रहा है कि अंधेरा हो जाने की वजह से रेस्क्यू में दिक्कतें आ रही हैं। मौके पर दमकल और एनडीआरएफ की टीमें मौजूद हैं। गृह मंत्री अमित शाह ने ट्विटर पर बताया कि महाराष्ट्र के रायगढ़ में हुई घटना के मामले में मैंने एनडीआरएफ के डीजी से बात की है। रेस्क्यू ऑपरेशन के लिए हर संभव प्रयास किए जा रहे हैं। 5 मंजिला इमारत ढहने के बाद मलबे का ढेर नजर आने लगी।बताया जा रहा है कि करीब 10 साल पुरानी इस इमारत में 50 परिवार रहते थे। ये इमारत हादसे से एक घंटे पहले हिल रही थी। इसके बाद ही कुछ लोगों को बाहर निकाल लिया गया, पर काफी लोग फंसे रह गए। मौके पर एनडीआरएफ और दमकल की कई टीमें राहत और बचाव में जुटीं।इमारत के निर्माण में लापरवाही के आरोप रायगढ़ से शिवसेना विधायक भरत गोगावले ने आरोप लगाया कि इमारत के निर्माण में खराब मेटेरियल का इस्तेमाल किया गया। उनका कहना है कि हो सकता है इमारत गिरने की वजह यही रही हो। राकांपा नेता और रायगढ़ की पालक मंत्री आदिति तटकरे ने बताया कि इस इमारत के गिरने की वजह पर अभी चर्चा करना ठीक नहीं है। हां ये जरूर है कि इमारत गिरने के पीछे बड़ी लापरवाही है। हादसे में फिलहाल किसी के मृत होने की जानकारी सामने नहीं आई है। आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें

बताया जा रहा है कि महाड इलाके में सोमवार शाम करीब साढ़े छह बजे इमारत ढह गई।Read More

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *