ब्रिटेन में कोरोना से जुड़ी सरकारी रिपोर्ट लीक, यहां सर्दियों में 85 हजार लोगों की जान जा सकती है; दुनिया में 2.49 करोड़ मरीजDainik Bhaskar


दुनिया में कोरोनावायरस के अब तक 2 करोड़ 49 लाख 54 हजार 23 मामले सामने आ चुके हैं। इनमें 1 करोड़ 73 लाख 36 हजार 709 मरीज ठीक हो चुके हैं, जबकि 8 लाख 42 हजार 177 की मौत हो चुकी है। ये आंकड़े www.worldometers.info/coronavirus के मुताबिक हैं। ब्रिटेन में कोरोना से जुड़ी एक सरकारी रिपोर्ट लीक हो गई है। बीबीसी के मुताबिक, इस रिपोर्ट के अनुसार, सर्दियों तक देश में 85 हजार लोगों की जान जा सकती है। नवंबर से मार्च के बीच देश में और पाबंदियां लगाई जा सकती है।

फ्रांस में संक्रमण की दूसरी लहर का असर साफ देखा जा रहा है। यहां गुरुवार को सात हजार से ज्यादा मरीज सामने आए। रूस के मॉस्को में मरने वालों का आंकड़ा बढ़ा है। सरकार एक और मेकशिफ्ट हॉस्पिटल बनाने जा रही है।

इन 10 देशों में कोरोना का असर सबसे ज्यादा

देश

संक्रमित मौतें ठीक हुए
अमेरिका 60,97,710 1,85,986 33,76,557
ब्राजील 38,12,605 1,19,594 29,76,796
भारत 34,76,043 62,817 26,57,119
रूस 9,85,346 17,025 8,04,383
पेरू 6,29,961 28,471 4,38,017
साउथ अफ्रीका 6,20,132 13,743 5,33,935
कोलंबिया 5,90,520 18,767 4,29,620
मैक्सिको 5,85,738 63,146 4,04,667
स्पेन 4,55,621 29,011 उपलब्ध नहीं
चिली 4,05,972 11,132 3,79,452

मॉस्को: मौतों का आंकड़ा बढ़ा
मॉस्को को छोड़कर रूस के बाकी हिस्सों में काफी हद तक संक्रमण पर काबू पाया जा चुका है। हालांकि, मॉस्को में हालात बहुत सुधरते नजर नहीं आते। मॉस्को में गुरुवार को 12 संक्रमितों की मौत हुई। इतना ही नहीं करीब पांच हजार नए मामले सामने आए। हेल्थ मिनिस्ट्री ने कहा कि मॉस्को के उपनगरीय इलाकों में मामले तेजी से बढ़ रहे हैं। इसको देखते हुए यहां एक और मेकशिफ्ट हॉस्पिटल तैयार किया जा रहा है। इसकी क्षमता पांच हजार होगी।

यूएई : फिर नए केस सामने आए
आईपीएल 2020 यूएई में 19 सितंबर से शुरू होना है। लेकिन, इसके पहले देश में संक्रमण के मामले बढ़ने लगे हैं। शुक्रवार को यहां 390 मामले सामने आए। इसके साथ ही मरीजों का आंकड़ा अब 68 हजार 901 हो गया। सरकार ने शनिवार को एक अहम बैठक बुलाई है। इसमें हेल्थ डिपार्टमेंट की तमाम आला अफसर शामिल होंगे। सरकारी सूत्रों के मुताबिक, सरकार कुछ क्षेत्रों में लॉकडाउन जैसा सख्त फैसला ले सकती है।

फ्रांस: लॉकडाउन हटाना महंगा पड़ा
यूरोपीय देशों में अगर किसी देश में संक्रमण की दूसरी लहर का असर सबसे ज्यादा देखा जा रहा है तो वो फ्रांस है। शुक्रवार को एक बार फिर तेजी से मरीज बढ़े। 7 हजार 379 मामले सामने आए। इसके साथ ही इस हफ्ते मरीजों की संख्या करीब 22 हजार ज्यादा हो गई। फ्रांस सरकार ने संक्रमण की रफ्तार रोकने के लिए सख्त कदम उठाने की तरफ इशारा किया है। माना जा रहा है कि जिन क्षेत्रों में मरीज ज्यादा मिल रहे हैं, वहां फिर लॉकडाउन लगाया जा सकता है। हालांकि, चिंता इस बात की है कि नए क्लस्टर ज्यादा दिखाई दे रहे हैं।

फ्रांस में इस हफ्ते 22 हजार से ज्यादा मामले सामने आ चुके हैं। शुक्रवार को सबसे ज्यादा मामले सामने आए हैं। पेरिस में कुछ प्रतिबंध फिर से लगाए जा सकते हैं। (फाइल)

कनाडा : ट्रैवल बैन बढ़ाया
कनाडा ने दूसरे देशों में जाने वाले और वहां से आने वाल लोगों के लिए नया ट्रैवल प्लान तैयार किया है। इसके तहत यूएस से आने वाले लोगों पर प्रतिबंध 30 सितंबर तक बढ़ा दया है। पहले यह 21 सितंबर तक था। सरकार का कहना है कि अगर यह प्रतिबंध हटाए जाते हैं तो देश में संक्रमण के मामले बहुत तेजी से बढ़ने की आशंका है। यहां आज हेल्थ मिनिस्ट्री संक्रमण के नए मामलों की समीक्षा करेगी इसके साथ ही वैक्सीन रिसर्च पर भी बात होगी।

कनाडा में सरकार ने ट्रैवल बैन 21 की बजाए 30 सितंबर तक बढ़ा दिया गया है। सरकार का कहना है कि अमेरिका से आने वाले लोगों की स्क्रीनिंग पर अब ज्यादा फोकस किया जाएगा।

आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें


लंदन में महामारी के बीच क्लाइमेट एक्टिविस्ट प्रदर्शन करते हुए। ब्रिटेन में 3.31 लाख से ज्यादा लोग संक्रमित हो चुके हैं, जबकि 41 हजार लोगों की मौत हो चुकी है।

दुनिया में कोरोनावायरस के अब तक 2 करोड़ 49 लाख 54 हजार 23 मामले सामने आ चुके हैं। इनमें 1 करोड़ 73 लाख 36 हजार 709 मरीज ठीक हो चुके हैं, जबकि 8 लाख 42 हजार 177 की मौत हो चुकी है। ये आंकड़े www.worldometers.info/coronavirus के मुताबिक हैं। ब्रिटेन में कोरोना से जुड़ी एक सरकारी रिपोर्ट लीक हो गई है। बीबीसी के मुताबिक, इस रिपोर्ट के अनुसार, सर्दियों तक देश में 85 हजार लोगों की जान जा सकती है। नवंबर से मार्च के बीच देश में और पाबंदियां लगाई जा सकती है। फ्रांस में संक्रमण की दूसरी लहर का असर साफ देखा जा रहा है। यहां गुरुवार को सात हजार से ज्यादा मरीज सामने आए। रूस के मॉस्को में मरने वालों का आंकड़ा बढ़ा है। सरकार एक और मेकशिफ्ट हॉस्पिटल बनाने जा रही है। इन 10 देशों में कोरोना का असर सबसे ज्यादा देश संक्रमित मौतें ठीक हुए अमेरिका 60,97,710 1,85,986 33,76,557 ब्राजील 38,12,605 1,19,594 29,76,796 भारत 34,76,043 62,817 26,57,119 रूस 9,85,346 17,025 8,04,383 पेरू 6,29,961 28,471 4,38,017 साउथ अफ्रीका 6,20,132 13,743 5,33,935 कोलंबिया 5,90,520 18,767 4,29,620 मैक्सिको 5,85,738 63,146 4,04,667 स्पेन 4,55,621 29,011 उपलब्ध नहीं चिली 4,05,972 11,132 3,79,452 मॉस्को: मौतों का आंकड़ा बढ़ा मॉस्को को छोड़कर रूस के बाकी हिस्सों में काफी हद तक संक्रमण पर काबू पाया जा चुका है। हालांकि, मॉस्को में हालात बहुत सुधरते नजर नहीं आते। मॉस्को में गुरुवार को 12 संक्रमितों की मौत हुई। इतना ही नहीं करीब पांच हजार नए मामले सामने आए। हेल्थ मिनिस्ट्री ने कहा कि मॉस्को के उपनगरीय इलाकों में मामले तेजी से बढ़ रहे हैं। इसको देखते हुए यहां एक और मेकशिफ्ट हॉस्पिटल तैयार किया जा रहा है। इसकी क्षमता पांच हजार होगी। यूएई : फिर नए केस सामने आए आईपीएल 2020 यूएई में 19 सितंबर से शुरू होना है। लेकिन, इसके पहले देश में संक्रमण के मामले बढ़ने लगे हैं। शुक्रवार को यहां 390 मामले सामने आए। इसके साथ ही मरीजों का आंकड़ा अब 68 हजार 901 हो गया। सरकार ने शनिवार को एक अहम बैठक बुलाई है। इसमें हेल्थ डिपार्टमेंट की तमाम आला अफसर शामिल होंगे। सरकारी सूत्रों के मुताबिक, सरकार कुछ क्षेत्रों में लॉकडाउन जैसा सख्त फैसला ले सकती है। फ्रांस: लॉकडाउन हटाना महंगा पड़ा यूरोपीय देशों में अगर किसी देश में संक्रमण की दूसरी लहर का असर सबसे ज्यादा देखा जा रहा है तो वो फ्रांस है। शुक्रवार को एक बार फिर तेजी से मरीज बढ़े। 7 हजार 379 मामले सामने आए। इसके साथ ही इस हफ्ते मरीजों की संख्या करीब 22 हजार ज्यादा हो गई। फ्रांस सरकार ने संक्रमण की रफ्तार रोकने के लिए सख्त कदम उठाने की तरफ इशारा किया है। माना जा रहा है कि जिन क्षेत्रों में मरीज ज्यादा मिल रहे हैं, वहां फिर लॉकडाउन लगाया जा सकता है। हालांकि, चिंता इस बात की है कि नए क्लस्टर ज्यादा दिखाई दे रहे हैं। फ्रांस में इस हफ्ते 22 हजार से ज्यादा मामले सामने आ चुके हैं। शुक्रवार को सबसे ज्यादा मामले सामने आए हैं। पेरिस में कुछ प्रतिबंध फिर से लगाए जा सकते हैं। (फाइल)कनाडा : ट्रैवल बैन बढ़ाया कनाडा ने दूसरे देशों में जाने वाले और वहां से आने वाल लोगों के लिए नया ट्रैवल प्लान तैयार किया है। इसके तहत यूएस से आने वाले लोगों पर प्रतिबंध 30 सितंबर तक बढ़ा दया है। पहले यह 21 सितंबर तक था। सरकार का कहना है कि अगर यह प्रतिबंध हटाए जाते हैं तो देश में संक्रमण के मामले बहुत तेजी से बढ़ने की आशंका है। यहां आज हेल्थ मिनिस्ट्री संक्रमण के नए मामलों की समीक्षा करेगी इसके साथ ही वैक्सीन रिसर्च पर भी बात होगी। कनाडा में सरकार ने ट्रैवल बैन 21 की बजाए 30 सितंबर तक बढ़ा दिया गया है। सरकार का कहना है कि अमेरिका से आने वाले लोगों की स्क्रीनिंग पर अब ज्यादा फोकस किया जाएगा।आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें

लंदन में महामारी के बीच क्लाइमेट एक्टिविस्ट प्रदर्शन करते हुए। ब्रिटेन में 3.31 लाख से ज्यादा लोग संक्रमित हो चुके हैं, जबकि 41 हजार लोगों की मौत हो चुकी है।Read More

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *