पोर्टलैंड में प्रदर्शनकारी और ट्रम्प समर्थक आमने-सामने आए, गोली लगने से एक की मौत; दो और राज्यों में 10 को गोली मारीDainik Bhaskar


अमेरिका में शनिवार रात से लेकर रविवार तक तीन राज्यों में 11 लोगों को गोली मारी गई। इसमें दो की जान चली गई। गोलीबारी की पहली घटना ओरेगन राज्य के पोर्टलैंड में हुई। यहां पर अश्वेत की मौत के बाद से प्रदर्शनकारियों का ट्रम्प समर्थकों से आमना-सामना होने के बाद दोनों गुटों में हिंसक झड़प हुई। इसमें एक व्यक्ति की गोली लगने से मौत हो गई। मरने वाला ट्रम्प समर्थक और राइट विंग का सदस्य बताया जा रहा है। शूटिंग की दूसरी घटनाएं मिसौरी और शिकागो में हुईं, लेकिन उनका प्रदर्शन से कोई लेना-देना नहीं है।

पोर्टलैंड में गोलीबारी के बाद घटनास्थल को सीज करती पुलिस। यहां राइट विंग के एक सदस्य को गोली मारी गई थी।

अमेरिका में काफी समय से ‘ब्लैक लाइव्स मैटर’ के प्रदर्शन हो रहे हैं। पोर्टलैंड में यह प्रदर्शन तब बढ़ गए, जब पुलिस ने जबरन इन्हें खत्म करने की कोशिश की। शनिवार को ट्रम्प समर्थक करीब 600 वाहनों से चुनावी रैली करते हुए गुजरे थे। इस दौरान कई जगहों पर उनकी प्रदर्शनकारियों से झड़प भी हुई थी। रविवार रात को गोली लगने से एक की मौत हो गई। इस घटना का एक वीडियो भी सामने आया है।

सीएनएन की खबर के मुताबिक, उसकी अभी पहचान नहीं हो पाई है। हालांकि, पुलिस ने कहा है कि अभी इस बात के पर्याप्त सबूत नहीं मिले हैं कि गोली मारने के पीछे की वजह यह झड़प थी।

पोर्टलैंड में रैली के दौरान कार और बाइक में सवार ट्रम्प समर्थक।

ट्रम्प पर हिंसा भड़काने के आरोप
पोर्टलैंड में शूटिंग के बाद ट्रम्प पर हिंसा भड़काने के भी आरोप लग रहे हैं। ट्रम्प ने यहां के डेमोक्रेटिक मेयर टेड व्हीलर पर अराजक तत्वों और लुटेरों का साथ देने का आरोप लगाया। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि अगर वह शहर नहीं संभाल पाएंगे तो हम इसे कंट्रोल में लेंगे।

व्हीलर ने इसके बाद ट्रम्प पर हिंसा भड़काने के आरोप लगाए हैं। उन्होंने कहा कि अमेरिका को केवल आपसे यह चाहिए कि चुप रहें।

मिसौरी के कंसास में नाइटक्लब में फायरिंग
अमेरिका के मिसौरी राज्य के कंसास शहर में रविवार को एक नाइटक्लब में फायरिंग हो गई। इस दौरान चार लोगों को गोली मारी गई। सिटी पुलिस के प्रवक्ता ने बतााय कि नाइन अल्ट्रा लाउंज में रात 2.30 बजे फायरिंग हुई। फायरिंग की वजह दो पक्षों में झगड़ा है। यहां पर जनवरी में भी फायरिंग हुई थी, जिसमें एक की मौत और 15 घायल हुए थे।

शिकागो में गोलीबारी से एक की मौत
शिकागो में भी रविवार को एक रेस्टोरेंट में गोलीबारी हो गई। यहां एक की मौत और पांच लोग घायल हो गए। शिकागो पुलिस के प्रवक्ता ने कहा कि वेस्टर्न अवे में यह घटना हुई। घटना में मारा गया व्यक्ति हमलावरों का निशाना था, जिसके चलते पांच और लोगों को गोलियां लगी। तीन की हालत गंभीर है।

आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें


पोर्टलैंड में गोली लगने से जान गंवाने वाले का शव ले जाती पुलिस। यहां ट्रम्प समर्थकों और प्रदर्शनकारियों में हिंसक झड़प हुई थी।

अमेरिका में शनिवार रात से लेकर रविवार तक तीन राज्यों में 11 लोगों को गोली मारी गई। इसमें दो की जान चली गई। गोलीबारी की पहली घटना ओरेगन राज्य के पोर्टलैंड में हुई। यहां पर अश्वेत की मौत के बाद से प्रदर्शनकारियों का ट्रम्प समर्थकों से आमना-सामना होने के बाद दोनों गुटों में हिंसक झड़प हुई। इसमें एक व्यक्ति की गोली लगने से मौत हो गई। मरने वाला ट्रम्प समर्थक और राइट विंग का सदस्य बताया जा रहा है। शूटिंग की दूसरी घटनाएं मिसौरी और शिकागो में हुईं, लेकिन उनका प्रदर्शन से कोई लेना-देना नहीं है। पोर्टलैंड में गोलीबारी के बाद घटनास्थल को सीज करती पुलिस। यहां राइट विंग के एक सदस्य को गोली मारी गई थी।अमेरिका में काफी समय से ‘ब्लैक लाइव्स मैटर’ के प्रदर्शन हो रहे हैं। पोर्टलैंड में यह प्रदर्शन तब बढ़ गए, जब पुलिस ने जबरन इन्हें खत्म करने की कोशिश की। शनिवार को ट्रम्प समर्थक करीब 600 वाहनों से चुनावी रैली करते हुए गुजरे थे। इस दौरान कई जगहों पर उनकी प्रदर्शनकारियों से झड़प भी हुई थी। रविवार रात को गोली लगने से एक की मौत हो गई। इस घटना का एक वीडियो भी सामने आया है। More of the unnumbered entry in Portland OR last night, when a member of the right-wing militia group Patriot Prayer was shot Portland cops helped him die, by attacking anyone who could provide triage care [@beklager691]pic.twitter.com/NzhzHjpKDd — T. Greg Doucette (@greg_doucette) August 31, 2020सीएनएन की खबर के मुताबिक, उसकी अभी पहचान नहीं हो पाई है। हालांकि, पुलिस ने कहा है कि अभी इस बात के पर्याप्त सबूत नहीं मिले हैं कि गोली मारने के पीछे की वजह यह झड़प थी। पोर्टलैंड में रैली के दौरान कार और बाइक में सवार ट्रम्प समर्थक।ट्रम्प पर हिंसा भड़काने के आरोप पोर्टलैंड में शूटिंग के बाद ट्रम्प पर हिंसा भड़काने के भी आरोप लग रहे हैं। ट्रम्प ने यहां के डेमोक्रेटिक मेयर टेड व्हीलर पर अराजक तत्वों और लुटेरों का साथ देने का आरोप लगाया। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि अगर वह शहर नहीं संभाल पाएंगे तो हम इसे कंट्रोल में लेंगे। If the incompetent Mayor of Portland, Ted Wheeler, doesn’t get control of his city and stop the Anarchists, Agitators, Rioters and Looters, causing great danger to innocent people, we will go in and take care of matters the way they should have been taken care of 100 days ago! — Donald J. Trump (@realDonaldTrump) August 29, 2020व्हीलर ने इसके बाद ट्रम्प पर हिंसा भड़काने के आरोप लगाए हैं। उन्होंने कहा कि अमेरिका को केवल आपसे यह चाहिए कि चुप रहें। मिसौरी के कंसास में नाइटक्लब में फायरिंग अमेरिका के मिसौरी राज्य के कंसास शहर में रविवार को एक नाइटक्लब में फायरिंग हो गई। इस दौरान चार लोगों को गोली मारी गई। सिटी पुलिस के प्रवक्ता ने बतााय कि नाइन अल्ट्रा लाउंज में रात 2.30 बजे फायरिंग हुई। फायरिंग की वजह दो पक्षों में झगड़ा है। यहां पर जनवरी में भी फायरिंग हुई थी, जिसमें एक की मौत और 15 घायल हुए थे। शिकागो में गोलीबारी से एक की मौत शिकागो में भी रविवार को एक रेस्टोरेंट में गोलीबारी हो गई। यहां एक की मौत और पांच लोग घायल हो गए। शिकागो पुलिस के प्रवक्ता ने कहा कि वेस्टर्न अवे में यह घटना हुई। घटना में मारा गया व्यक्ति हमलावरों का निशाना था, जिसके चलते पांच और लोगों को गोलियां लगी। तीन की हालत गंभीर है। आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें

पोर्टलैंड में गोली लगने से जान गंवाने वाले का शव ले जाती पुलिस। यहां ट्रम्प समर्थकों और प्रदर्शनकारियों में हिंसक झड़प हुई थी।Read More

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *