चीन की सीमा में ही मिले अरुणाचल से गायब युवक, जवानों के साथ पेट्रोलिंग के दौरान 4 दिन पहले लापता हुए थेDainik Bhaskar


4 दिन पहले अरुणाचल से गायब हुए 5 युवक चीन की सीमा में हैं। केंद्रीय मंत्री किरण रिजिजू ने मंगलवार को इस बात की जानकारी दी कि चीन की सेना ने इस बात की पुष्टि की है कि अरुणाचल के ये युवक उनकी सीमा में मिले हैं। इन युवकों को वापस लाने के लिए चीनी पक्ष से बातचीत और प्रक्रिया शुरू हो गई है।

हॉटलाइन पर मैसेज के बाद चीन ने दिया जवाब

किरण रिजिजू ने रविवार को ट्वीट कर बताया था कि चीनी सैनिकों को हॉटलाइन पर मैसेज भेजकर गायब युवकों के बारे में जानकारी मांगी गई है। इसके बाद मंगलवार को चीनी सेना ने इस बारे में भारत सरकार को जानकारी दी है।

LRRP दल के साथ पोर्टर्स का काम कर रहे थे युवक

रिपोर्ट्स के मुताबिक, गायब हुए युवकों के परिजनों ने बताया था कि ये लोग मैकमोहन लाइन की पेट्रोलिंग कर रहे जवानों (लॉन्ग रेंज रिकॉन्सन्स पेट्रोल यानी LRRPs) के लिए जरूरी सामान ढोने का काम कर रहे थे। पोर्टर्स के तौर पर इन्हें निगरानी दल में शामिल किया गया था। इनकी उम्र 18 से 20 साल के बीच थी। परिजनों ने आशंका जाहिर की थी कि हो सकता है कि ये युवक पहाड़ी में पारंपरिक जड़ी-बूटियां ढूंढने के दौरान निगरानी दल से अलग होकर भटक गए हों।

अरुणाचल के विधायक ने दावा किया था- चीनी सैनिकों ने अगवा किया

5 सितंबर को अरुणाचल के कांग्रेस विधायक निनॉन्ग एरिंग ने ट्विटर पर चीनी सेना द्वारा 5 लोगों के अगवा किए जाने का दावा किया था। उन्होंने लड़कों के नाम टोक सिंग्काम, प्रसात रिंगलिंग, दोंग्तु इबिया, तानु बेकर और नागरू दिरि बताए थे। एरिंग ने कहा था कि चीन के सैनिकों ने नाछो कस्बे में रहने वाले पांच लड़कों को अगवा किया है। उन्होंने रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह से अपील की थी कि पांचों लड़कों की सुरक्षित वापसी होनी चाहिए।

अगवा किए गए सभी पांच लड़के तागिन समुदाय के है। एरिंग के दावे के मुताबिक, चीनी सैनिकों ने नाछो क्षेत्र के जंगल से इन्हें उठाया गया था। यह क्षेत्र सुबानसिरी जिले में आता है।

आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें


5 सितंबर को अरुणाचल के कांग्रेस विधायक ने दावा किया था कि इन युवकों को चीनी सैनिकों ने अगवा किया है। उन्होंने युवकों के नाम भी बताए थे। (फाइल फोटो)

4 दिन पहले अरुणाचल से गायब हुए 5 युवक चीन की सीमा में हैं। केंद्रीय मंत्री किरण रिजिजू ने मंगलवार को इस बात की जानकारी दी कि चीन की सेना ने इस बात की पुष्टि की है कि अरुणाचल के ये युवक उनकी सीमा में मिले हैं। इन युवकों को वापस लाने के लिए चीनी पक्ष से बातचीत और प्रक्रिया शुरू हो गई है। China’s PLA has responded to the hotline message sent by Indian Army. They have confirmed that the missing youths from Arunachal Pradesh have been found by their side. Further modalities to handover the persons to our authority is being worked out. — Kiren Rijiju (@KirenRijiju) September 8, 2020हॉटलाइन पर मैसेज के बाद चीन ने दिया जवाब किरण रिजिजू ने रविवार को ट्वीट कर बताया था कि चीनी सैनिकों को हॉटलाइन पर मैसेज भेजकर गायब युवकों के बारे में जानकारी मांगी गई है। इसके बाद मंगलवार को चीनी सेना ने इस बारे में भारत सरकार को जानकारी दी है। LRRP दल के साथ पोर्टर्स का काम कर रहे थे युवक रिपोर्ट्स के मुताबिक, गायब हुए युवकों के परिजनों ने बताया था कि ये लोग मैकमोहन लाइन की पेट्रोलिंग कर रहे जवानों (लॉन्ग रेंज रिकॉन्सन्स पेट्रोल यानी LRRPs) के लिए जरूरी सामान ढोने का काम कर रहे थे। पोर्टर्स के तौर पर इन्हें निगरानी दल में शामिल किया गया था। इनकी उम्र 18 से 20 साल के बीच थी। परिजनों ने आशंका जाहिर की थी कि हो सकता है कि ये युवक पहाड़ी में पारंपरिक जड़ी-बूटियां ढूंढने के दौरान निगरानी दल से अलग होकर भटक गए हों। अरुणाचल के विधायक ने दावा किया था- चीनी सैनिकों ने अगवा किया 5 सितंबर को अरुणाचल के कांग्रेस विधायक निनॉन्ग एरिंग ने ट्विटर पर चीनी सेना द्वारा 5 लोगों के अगवा किए जाने का दावा किया था। उन्होंने लड़कों के नाम टोक सिंग्काम, प्रसात रिंगलिंग, दोंग्तु इबिया, तानु बेकर और नागरू दिरि बताए थे। एरिंग ने कहा था कि चीन के सैनिकों ने नाछो कस्बे में रहने वाले पांच लड़कों को अगवा किया है। उन्होंने रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह से अपील की थी कि पांचों लड़कों की सुरक्षित वापसी होनी चाहिए। अगवा किए गए सभी पांच लड़के तागिन समुदाय के है। एरिंग के दावे के मुताबिक, चीनी सैनिकों ने नाछो क्षेत्र के जंगल से इन्हें उठाया गया था। यह क्षेत्र सुबानसिरी जिले में आता है। आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें

5 सितंबर को अरुणाचल के कांग्रेस विधायक ने दावा किया था कि इन युवकों को चीनी सैनिकों ने अगवा किया है। उन्होंने युवकों के नाम भी बताए थे। (फाइल फोटो)Read More

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *