बीते 60 दिन में कंपनी का मार्केट कैप रोजाना औसतन 7300 करोड़ रुपए बढ़ा, 15 लाख करोड़ के स्तर पर पहुंचने वाली देश की इकलौती कंपनीDainik Bhaskar


घरेलू शेयर मार्केट में रिलायंस इंडस्ट्रीज ने गुरुवार को इतिहास रच दिया है। कंपनी का मार्केट कैप 15.25 लाख करोड़ रुपए के स्तर पर पहुंच गया है। इस स्तर पर पहुंचने वाली रिलायंस भारत की इकलौती कंपनी है। इसके बाद दूसरे स्थान पर टाटा कंसलटेंसी सर्विस (टीसीएस) है, जिसका मार्केट कैप लगभग 8.76 लाख करोड़ रुपए का है।

इस साल दुनियाभर की कई बड़ी दिग्गज कंपनियों ने रिलायंस इंडस्ट्रीज के अलग-अलग वेंचर्स में निवेश किया है। इसमें फेसबुक, गूगल, सिल्वर लेक जैसे बड़े नाम शामिल हैं। इससे पहले कंपनी का मार्केट कैप इसी साल 18 जून को 11 लाख करोड़ रुपए का स्तर पार कर गया था।

मार्केट कैप में इजाफा

बता दें कि साल 2020 में अबतक कंपनी के मार्केट कैप में 5.14 लाख करोड़ रुपए से ज्यादा का इजाफा हुआ है। टीसीएस के मार्केट कैप में इस साल 73.44 हजार करोड़ रुपए से कम का इजाफा हुआ। इससे पहले कंपनी का मार्केट कैप इसी साल 18 जून को 150 बिलियन डॉलर (11 लाख करोड़ रुपए) के पार पहुंच गया था। कंपनी के मार्केट कैप में बीते 60 में रोजाना औसतन 7300 करोड़ रुपए का इजाफा हुआ है। अभी रिलायंस इंडस्ट्रीज दुनिया की 46वीं सबसे वैल्यूएबल कंपनी है।

तीन दशक में पहली बार राईट इश्यू जारी किया था

कुल मार्केट कैप में रिलायंस के शेयर के साथ-साथ आंशिक भुगतान वाले राइट इश्यू का भी हिस्सा शामिल है। बता दें कि डेट फ्री हो चुकी रिलायंस ने तीन दशक में पहली बार इस साल 1257 रुपए की कीमत पर राईट इश्यू जारी किया था। यह इश्यू 15 जून को बाजार में लिस्ट हुआ। 10 सितंबर को बीएसई में रिलायंस इंडस्ट्रीज का शेयर अपने ऑल टाइम हाई 2,344.95 पर और रिलायंस पीपी का शेयर 10 प्रतिशत बढ़कर 1394.55 पर बंद हुआ।

सिल्वर लेक पार्टनर्स द्वारा रिलायंस रिटेल में निवेश

टेक इन्वेस्टर कंपनी सिल्वर लेक पार्टनर्स ने बुधवार को रिलायंस रिटेल में 7500 करोड़ रुपए के निवेश का ऐलान किया है। इस निवेश के एवज में सिल्वर लेक को रिलायंस रिटेल में 1.75 फीसदी हिस्सेदारी मिलेगी। इससे पहले सिल्वर लेक ने रिलायंस की टेक कंपनी जियो प्लेटफॉर्म में भी निवेश किया था। कंपनी अब तक रिलायंस जियो में 10,200 करोड़ रुपए का निवेश कर चुकी है।

फ्यूचर ग्रुप और रिलायंस रिटेल वेंचर्स लिमिटेड डील

रिलायंस इंडस्ट्रीज की सब्सिडियरी कंपनी रिलायंस रिटेल वेंचर्स लिमिटेड (RRVL) फ्यूचर ग्रुप की रिटेल एंड होलसेल बिजनेस और लॉजिस्टिक्स एंड वेयरहाउसिंग बिजनेस का अधिग्रहण करने जा रही है। इससे रिलायंस, फ्यूचर ग्रुप के बिग बाजार, ईजीडे और FBB के 1,800 से अधिक स्टोर्स तक पहुंच बनाएगी, जो देश के 420 शहरों में फैले हुए हैं। यह डील 24713 करोड़ में फाइनल हुई है।

फेसबुक का जियो में निवेश

अप्रैल में सोशल मीडिया क्षेत्र की दिग्गज कंपनी फेसबुक ने रिलायंस इंडस्ट्रीज समूह की कंपनी जियो प्लेटफार्म लिमिटेड में 10 प्रतिशत हिस्सेदारी खरीदने के लिए 5.7 बिलियन डॉलर ( 41,814 करोड़ रुपए ) का निवेश किया है। कंपनी अपने ऑयल टू केमिकल कारोबार में 20 प्रतिशत हिस्सेदारी बेचने के लिए सऊदी अरामको के साथ बातचीत भी कर रही है।

ब्लूमबर्ग की रिपोर्ट में कहा गया है कि रिलायंस इंडस्ट्रीज ने अपने रिलायंस रिटेल कारोबार में 40% हिस्सेदारी खरीदने के लिए अमेजन को ऑफर दिया है। यानी अगर ये डील होती है तो रिलायंस अपनी रिटेल सबसीडियरी में 40% हिस्सा अमेजन को दे सकती है।

आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें


Mukesh Ambani | RIL Share Price NSE BSE News Update; Mukesh Ambani Reliance Company Market Cap Reaches 15.25 Lakh Crore Level

घरेलू शेयर मार्केट में रिलायंस इंडस्ट्रीज ने गुरुवार को इतिहास रच दिया है। कंपनी का मार्केट कैप 15.25 लाख करोड़ रुपए के स्तर पर पहुंच गया है। इस स्तर पर पहुंचने वाली रिलायंस भारत की इकलौती कंपनी है। इसके बाद दूसरे स्थान पर टाटा कंसलटेंसी सर्विस (टीसीएस) है, जिसका मार्केट कैप लगभग 8.76 लाख करोड़ रुपए का है। इस साल दुनियाभर की कई बड़ी दिग्गज कंपनियों ने रिलायंस इंडस्ट्रीज के अलग-अलग वेंचर्स में निवेश किया है। इसमें फेसबुक, गूगल, सिल्वर लेक जैसे बड़े नाम शामिल हैं। इससे पहले कंपनी का मार्केट कैप इसी साल 18 जून को 11 लाख करोड़ रुपए का स्तर पार कर गया था। मार्केट कैप में इजाफा बता दें कि साल 2020 में अबतक कंपनी के मार्केट कैप में 5.14 लाख करोड़ रुपए से ज्यादा का इजाफा हुआ है। टीसीएस के मार्केट कैप में इस साल 73.44 हजार करोड़ रुपए से कम का इजाफा हुआ। इससे पहले कंपनी का मार्केट कैप इसी साल 18 जून को 150 बिलियन डॉलर (11 लाख करोड़ रुपए) के पार पहुंच गया था। कंपनी के मार्केट कैप में बीते 60 में रोजाना औसतन 7300 करोड़ रुपए का इजाफा हुआ है। अभी रिलायंस इंडस्ट्रीज दुनिया की 46वीं सबसे वैल्यूएबल कंपनी है। तीन दशक में पहली बार राईट इश्यू जारी किया था कुल मार्केट कैप में रिलायंस के शेयर के साथ-साथ आंशिक भुगतान वाले राइट इश्यू का भी हिस्सा शामिल है। बता दें कि डेट फ्री हो चुकी रिलायंस ने तीन दशक में पहली बार इस साल 1257 रुपए की कीमत पर राईट इश्यू जारी किया था। यह इश्यू 15 जून को बाजार में लिस्ट हुआ। 10 सितंबर को बीएसई में रिलायंस इंडस्ट्रीज का शेयर अपने ऑल टाइम हाई 2,344.95 पर और रिलायंस पीपी का शेयर 10 प्रतिशत बढ़कर 1394.55 पर बंद हुआ। सिल्वर लेक पार्टनर्स द्वारा रिलायंस रिटेल में निवेश टेक इन्वेस्टर कंपनी सिल्वर लेक पार्टनर्स ने बुधवार को रिलायंस रिटेल में 7500 करोड़ रुपए के निवेश का ऐलान किया है। इस निवेश के एवज में सिल्वर लेक को रिलायंस रिटेल में 1.75 फीसदी हिस्सेदारी मिलेगी। इससे पहले सिल्वर लेक ने रिलायंस की टेक कंपनी जियो प्लेटफॉर्म में भी निवेश किया था। कंपनी अब तक रिलायंस जियो में 10,200 करोड़ रुपए का निवेश कर चुकी है। फ्यूचर ग्रुप और रिलायंस रिटेल वेंचर्स लिमिटेड डील रिलायंस इंडस्ट्रीज की सब्सिडियरी कंपनी रिलायंस रिटेल वेंचर्स लिमिटेड (RRVL) फ्यूचर ग्रुप की रिटेल एंड होलसेल बिजनेस और लॉजिस्टिक्स एंड वेयरहाउसिंग बिजनेस का अधिग्रहण करने जा रही है। इससे रिलायंस, फ्यूचर ग्रुप के बिग बाजार, ईजीडे और FBB के 1,800 से अधिक स्टोर्स तक पहुंच बनाएगी, जो देश के 420 शहरों में फैले हुए हैं। यह डील 24713 करोड़ में फाइनल हुई है। फेसबुक का जियो में निवेश अप्रैल में सोशल मीडिया क्षेत्र की दिग्गज कंपनी फेसबुक ने रिलायंस इंडस्ट्रीज समूह की कंपनी जियो प्लेटफार्म लिमिटेड में 10 प्रतिशत हिस्सेदारी खरीदने के लिए 5.7 बिलियन डॉलर ( 41,814 करोड़ रुपए ) का निवेश किया है। कंपनी अपने ऑयल टू केमिकल कारोबार में 20 प्रतिशत हिस्सेदारी बेचने के लिए सऊदी अरामको के साथ बातचीत भी कर रही है। ब्लूमबर्ग की रिपोर्ट में कहा गया है कि रिलायंस इंडस्ट्रीज ने अपने रिलायंस रिटेल कारोबार में 40% हिस्सेदारी खरीदने के लिए अमेजन को ऑफर दिया है। यानी अगर ये डील होती है तो रिलायंस अपनी रिटेल सबसीडियरी में 40% हिस्सा अमेजन को दे सकती है। आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें

Mukesh Ambani | RIL Share Price NSE BSE News Update; Mukesh Ambani Reliance Company Market Cap Reaches 15.25 Lakh Crore LevelRead More

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *