नए मेट्रो स्टेशनों पर वन नेशन वन कार्ड का इस्तेमाल कर सकेंगे, मोबाइल से यात्रा के स्टेशन चुनने की सुविधा भी मिलेगीDainik Bhaskar


दिल्ली मेट्रो के चौथे फेज के तहत शुरू होने वाले स्टेशनों पर यात्री ‘वन नेशन वन कार्ड’ का इस्तेमाल कर सकेंगे। इन रुटों पर सफर करने वाले यात्री ऑटोमेटिक फेयर कलेक्शन गेट (एफसी गेट) पर चढ़ने और उतरने के स्टेशनों को मोबाइल से चुन सकेंगे। नए रूटों पर पुराने स्मार्ट कार्ड भी काम करेंगे।

यह बात रविवार को दिल्ली मेट्रो रेल कॉर्पोरेशन के प्रमुख मंगू सिंह ने कही। उन्होंने कहा- दिल्ली मेट्रो दुनिया के किसी भी मॉडर्न मेट्रो सिस्टम की तरह ही होगी। चौथे फेज की इन दो सेवाओं को साल के अंत तक एयरपोर्ट एक्सप्रेस लाइन पर भी शुरू किया जा सकता है।

‘वन नेशन वन कार्ड’ को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मार्च 2019 में लॉन्च किया था। देश भर में सफर के लिए इस्तेमाल में लाए जा सकने वाले इस कार्ड को नेशनल कॉमन मोबिलिटी कार्ड (एनसीएमसी) नाम दिया गया था। इसकी मदद से देश में कहीं भी मेट्रो, बस सर्विसेज, टोल टैक्स, पार्किंग चार्ज दिया जा सकता है। इससे रिटेल शॉपिंग करने के साथ ही कैश भी निकाला जा सकता है।

‘बेहतर तकनीकों का इस्तेमाल किया जा रहा’

सिंह ने कहा- हम अपने सिस्टम को सुधारने के लिए लगातार काम कर रहे हैं। चौथे फेज में बेहतर तकनीकों का इस्तेमाल किया जा रहा है। ऑटोमेटिक फेयर कलेक्शन गेट (एफसी गेट) पर लोग मोबाइल को स्मार्ट कार्ड की तरह इस्तेमाल में लाया सकेंगे। हालांकि, उन्होंने कहा कि ई-पेमेंट सिस्टम और तकनीक तेजी से उभर रहे हैं। ऐसे में मुमकिन है कि फेज-4 के तैयार होने तक कुछ नई तकनीकें भी आ जाएं।

केंद्रीय मंत्रिमंडल ने पिछले साल 6 कॉरीडोर को मंजूरी दी थी
केंद्रीय मंत्रिमंडल ने पिछले साल दिल्ली मेट्रो के 6 नए कॉरिडोर के कामों को मंजूरी दी थी। यह बैठक प्रधानमंत्री मोदी की अगुआई में बुलाई गई थी। फेज-4 के तहत करीब 61 किमी. नई मेट्रो लाइन बिछाई जाएगी। ये मेट्रो लाइन्स तीन अलग-अलग कॉरिडोर में होंगी।

नई मेट्रो लाइन्स पहले से चल रही मेट्रो लाइन्स को जोड़ने का काम भी करेंगी। इसमें कुल 45 नए मेट्रो स्टेशन होंगे। सरकार ने मुकुंदपुर-मौजपुर, आरके आश्रम- जनकपुरी वेस्ट और एरोसिटी- तुगलकाबाद कॉरिडोर को मंजूरी दी है।

आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें


दिल्ली मेट्रो रेल कॉर्पोरेशन के चौथे फेज के तहत शुरू होने वाले स्टेशनों पर यात्रियों को कई नई सुविधाएं मिलेंगी।- फाइल फोटो

दिल्ली मेट्रो के चौथे फेज के तहत शुरू होने वाले स्टेशनों पर यात्री ‘वन नेशन वन कार्ड’ का इस्तेमाल कर सकेंगे। इन रुटों पर सफर करने वाले यात्री ऑटोमेटिक फेयर कलेक्शन गेट (एफसी गेट) पर चढ़ने और उतरने के स्टेशनों को मोबाइल से चुन सकेंगे। नए रूटों पर पुराने स्मार्ट कार्ड भी काम करेंगे। यह बात रविवार को दिल्ली मेट्रो रेल कॉर्पोरेशन के प्रमुख मंगू सिंह ने कही। उन्होंने कहा- दिल्ली मेट्रो दुनिया के किसी भी मॉडर्न मेट्रो सिस्टम की तरह ही होगी। चौथे फेज की इन दो सेवाओं को साल के अंत तक एयरपोर्ट एक्सप्रेस लाइन पर भी शुरू किया जा सकता है। ‘वन नेशन वन कार्ड’ को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मार्च 2019 में लॉन्च किया था। देश भर में सफर के लिए इस्तेमाल में लाए जा सकने वाले इस कार्ड को नेशनल कॉमन मोबिलिटी कार्ड (एनसीएमसी) नाम दिया गया था। इसकी मदद से देश में कहीं भी मेट्रो, बस सर्विसेज, टोल टैक्स, पार्किंग चार्ज दिया जा सकता है। इससे रिटेल शॉपिंग करने के साथ ही कैश भी निकाला जा सकता है। ‘बेहतर तकनीकों का इस्तेमाल किया जा रहा’ सिंह ने कहा- हम अपने सिस्टम को सुधारने के लिए लगातार काम कर रहे हैं। चौथे फेज में बेहतर तकनीकों का इस्तेमाल किया जा रहा है। ऑटोमेटिक फेयर कलेक्शन गेट (एफसी गेट) पर लोग मोबाइल को स्मार्ट कार्ड की तरह इस्तेमाल में लाया सकेंगे। हालांकि, उन्होंने कहा कि ई-पेमेंट सिस्टम और तकनीक तेजी से उभर रहे हैं। ऐसे में मुमकिन है कि फेज-4 के तैयार होने तक कुछ नई तकनीकें भी आ जाएं। केंद्रीय मंत्रिमंडल ने पिछले साल 6 कॉरीडोर को मंजूरी दी थी केंद्रीय मंत्रिमंडल ने पिछले साल दिल्ली मेट्रो के 6 नए कॉरिडोर के कामों को मंजूरी दी थी। यह बैठक प्रधानमंत्री मोदी की अगुआई में बुलाई गई थी। फेज-4 के तहत करीब 61 किमी. नई मेट्रो लाइन बिछाई जाएगी। ये मेट्रो लाइन्स तीन अलग-अलग कॉरिडोर में होंगी। नई मेट्रो लाइन्स पहले से चल रही मेट्रो लाइन्स को जोड़ने का काम भी करेंगी। इसमें कुल 45 नए मेट्रो स्टेशन होंगे। सरकार ने मुकुंदपुर-मौजपुर, आरके आश्रम- जनकपुरी वेस्ट और एरोसिटी- तुगलकाबाद कॉरिडोर को मंजूरी दी है। आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें

दिल्ली मेट्रो रेल कॉर्पोरेशन के चौथे फेज के तहत शुरू होने वाले स्टेशनों पर यात्रियों को कई नई सुविधाएं मिलेंगी।- फाइल फोटोRead More

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *