राहुल बोले- कोरोना से जान लोग खुद बचाएं, क्योंकि पीएम मोर के साथ बिजी हैं; सिब्बल बोले- पूरा देश सेना के साथ, पर क्या मोदी को ऐसा सपोर्ट मिलेगा?Dainik Bhaskar


विपक्ष ने सोमवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर कोरोना वायरस, चीन विवाद जैसे मुद्दों पर जमकर घेरा। कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री पर आरोप लगाते हुए कहा कि आज देश में कोरोना की हालत एक व्यक्ति के अहंकार की वजह से है। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार लोगों से आत्म निर्भर बनने के लिए कह रही है। इसलिए आपको अपनी जान खुद बचानी होगी, क्योंकि प्रधानमंत्री तो मोर के साथ व्यस्त हैं।

वहीं सीनियर कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल और शिवसेना के राज्यसभा सांसद संजय राउत ने भी केंद्र सरकार पर आज के हालात पर उनकी नीतियों को लेकर आड़े हाथों लिया।

बिना प्लान का लॉकडाउन एक व्यक्ति के अहंकार की देन : राहुल
राहुल ने कोरोना को लेकर सरकार की नीतियों को जमकर कोसा। उन्होंने कहा कि बिना किसी प्लान का लॉकडाउन एक व्यक्ति के अहंकार की देन था। इसी वजह से देश में कोरोना के मामले लगातार बढ़ रहे हैं। यही कारण है कि इस हफ्ते देश में कोरोना संक्रमितों को आकड़ा 50 लाख के पार पहुंच जाएगा और एक्टिव केस भी 10 लाख हो जाएंगे।

केंद्र की पॉलिसी और एक्शन को जनता के समर्थन पर शक : सिब्बल
कांग्रेस के सीनियर लीडर कपिल सिब्बल ने कहा कि पूरा देश सैनिकों के साथ खड़ा है, लेकिन क्या प्रधानमंत्री की पॉलिसी और एक्शन को भी इसी तरह का समर्थन मिला हुआ है। उन्होंने कहा कि देश की जनता सेना के साथ है। हम उन्हें सैल्यूट करते हैं। पीएम की नीतियों और कार्रवाई को भी देश का ऐसा ही समर्थन है, इस पर शंका बरकरार है। सिब्बल ने यह बात संसद सत्र शुरू होने से पहले प्रधानमंत्री द्वारा दिए गए बयान के बाद कही।

केंद्र की परवाह किए बिना पूरा देश सेना के साथ : राउत
शिवसेना के राज्यसभा सांसद ने मोदी सरकार पर निशाना साधा। उन्होंने सोमवार को कहा कि पूरा देश केंद्र सरकार की परवाह किए बिना सेना के साथ खड़ा है और हमेशा खड़ा रहेगा। उन्होंने प्रधानमंत्री के बयान ‘जब तक दवाई नहीं, तब तक ढिलाई नहीं’ का समर्थन भी किया। उन्होंने कहा कि महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री ने भी कुछ दिन पहले यहीं संदेश लोगों को दिया था।

क्या कहा था मोदी ने
विपक्षी नेताओं का यह बयान संसद सत्र शुरू होने से पहले प्रधानमंत्री के बयान के बाद आया। मोदी ने मीडिया से बात करते हुए कहा था कि आज जब हमारी सेना के वीर जवान सीमा पर डटे हुए हैं। हिम्मत के साथ, जज्बे के साथ, बुलंद हौसलों के साथ, दुर्गम पहाड़ियों में डटे हुए हैं। कुछ समय के बाद बर्फबारी भी शुरू होगी। ऐसे वक्त में संसद से एक भाव, एक सुर से ये आवाज आनी चाहिए कि देश और पूरा सदन उनके साथ खड़ा है।

आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें


विपक्ष ने सोमवार को केंद्र सरकार और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर जमकर निशाना साधा।

विपक्ष ने सोमवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर कोरोना वायरस, चीन विवाद जैसे मुद्दों पर जमकर घेरा। कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री पर आरोप लगाते हुए कहा कि आज देश में कोरोना की हालत एक व्यक्ति के अहंकार की वजह से है। उन्होंने कहा कि मोदी सरकार लोगों से आत्म निर्भर बनने के लिए कह रही है। इसलिए आपको अपनी जान खुद बचानी होगी, क्योंकि प्रधानमंत्री तो मोर के साथ व्यस्त हैं। वहीं सीनियर कांग्रेस नेता कपिल सिब्बल और शिवसेना के राज्यसभा सांसद संजय राउत ने भी केंद्र सरकार पर आज के हालात पर उनकी नीतियों को लेकर आड़े हाथों लिया। बिना प्लान का लॉकडाउन एक व्यक्ति के अहंकार की देन : राहुल राहुल ने कोरोना को लेकर सरकार की नीतियों को जमकर कोसा। उन्होंने कहा कि बिना किसी प्लान का लॉकडाउन एक व्यक्ति के अहंकार की देन था। इसी वजह से देश में कोरोना के मामले लगातार बढ़ रहे हैं। यही कारण है कि इस हफ्ते देश में कोरोना संक्रमितों को आकड़ा 50 लाख के पार पहुंच जाएगा और एक्टिव केस भी 10 लाख हो जाएंगे। केंद्र की पॉलिसी और एक्शन को जनता के समर्थन पर शक : सिब्बल कांग्रेस के सीनियर लीडर कपिल सिब्बल ने कहा कि पूरा देश सैनिकों के साथ खड़ा है, लेकिन क्या प्रधानमंत्री की पॉलिसी और एक्शन को भी इसी तरह का समर्थन मिला हुआ है। उन्होंने कहा कि देश की जनता सेना के साथ है। हम उन्हें सैल्यूट करते हैं। पीएम की नीतियों और कार्रवाई को भी देश का ऐसा ही समर्थन है, इस पर शंका बरकरार है। सिब्बल ने यह बात संसद सत्र शुरू होने से पहले प्रधानमंत्री द्वारा दिए गए बयान के बाद कही। केंद्र की परवाह किए बिना पूरा देश सेना के साथ : राउत शिवसेना के राज्यसभा सांसद ने मोदी सरकार पर निशाना साधा। उन्होंने सोमवार को कहा कि पूरा देश केंद्र सरकार की परवाह किए बिना सेना के साथ खड़ा है और हमेशा खड़ा रहेगा। उन्होंने प्रधानमंत्री के बयान ‘जब तक दवाई नहीं, तब तक ढिलाई नहीं’ का समर्थन भी किया। उन्होंने कहा कि महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री ने भी कुछ दिन पहले यहीं संदेश लोगों को दिया था। क्या कहा था मोदी ने विपक्षी नेताओं का यह बयान संसद सत्र शुरू होने से पहले प्रधानमंत्री के बयान के बाद आया। मोदी ने मीडिया से बात करते हुए कहा था कि आज जब हमारी सेना के वीर जवान सीमा पर डटे हुए हैं। हिम्मत के साथ, जज्बे के साथ, बुलंद हौसलों के साथ, दुर्गम पहाड़ियों में डटे हुए हैं। कुछ समय के बाद बर्फबारी भी शुरू होगी। ऐसे वक्त में संसद से एक भाव, एक सुर से ये आवाज आनी चाहिए कि देश और पूरा सदन उनके साथ खड़ा है। आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें

विपक्ष ने सोमवार को केंद्र सरकार और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर जमकर निशाना साधा।Read More

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *