यूएन स्पीच में राष्ट्रपति ट्रम्प ने कहा- चीन ने जानबूझकर दुनियाभर में महामारी फैलाई; अब तक 9.72 लाख मौतें और 3.15 करोड़ संक्रमितDainik Bhaskar


अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने मंगलवार को यूएन स्पीच में चीन पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि द्वितीय विश्व युद्ध के खत्म हुए 75 साल हो गए हैं, लेकिन एक बार फिर दुनिया चीनी वायरस के कारण वैश्विक संघर्ष में लगी हुई है। चीन ने जानबूझकर दुनियाभर में कोरोना फैलाया।

ट्रम्प ने कहा कि संयुक्त राष्ट्र को कोरोनावायरस के लिए चीन को जिम्मेदार ठहराना चाहिए। अपनी स्पीच में ट्रम्प ने कोरोनावायरस को चीनी वायरस कहा। हालांकि, चीन ने ट्रम्प के आरोपों को खारिज कर दिया।

इस बीच, दुनिया में अब तक 3 करोड़ 16 लाख 75 हजार 961 मामले हो चुके हैं। 9 लाख 72 हजार 625 लोगों की मौत हो चुकी है। अच्छी बात यह है कि 2 करोड़ 32 लाख 63 हजार 645 लोग ठीक भी हो चुके हैं। वहीं, 74 लाख से ज्यादा एक्टिव केस हैं। ये आंकड़े www.worldometers.info/coronavirus के मुताबिक हैं।

इन 10 देशों में कोरोना का असर सबसे ज्यादा

देश

संक्रमित मौतें ठीक हुए
अमेरिका 70,67,804 2,05,115 43,17,580
भारत 56,40,441 90,021 45,81,746
ब्राजील 45,66,123 1,37,445 38,87,199
रूस 11,15,810 19,649 9,17,949
पेरू 7,72,896 31,474 6,22,418
कोलंबिया 7,70,435 24,397 6,40,900
मैक्सिको 7,00,580 73,697 5,02,982
स्पेन 6,82,267 30,904 उपलब्ध नहीं
साउथ अफ्रीका 6,61,936 15,992 5,91,208
अर्जेंटीना 6,40,147 13,482 5,08,563

डब्ल्यूएचओ ने भविष्य में तैयार होने वाली वैक्सीन की सप्लाई को लेकर स्कीम तैयार की

डब्ल्यूचओ ने भविष्य में तैयार होने वाली कोरोना वैक्सीन की सप्लाई और डिस्ट्रीब्यूशन को लेकर स्कीम तैयार की है। इसे कोवैक्स स्कीम नाम दिया गया है। इस स्कीम से दुनिया के 156 देश जुड़ चुके हैं। इनमें दुनिया के 64 सेल्फ फाइनेंसिंग और आर्थिक तौर पर मजबूत देश शामिल हैं। हालांकि, चीन और अमेरिका इस लिस्ट में शामिल नहीं है।

डब्ल्यूएचओ इसके लिए अंतरराष्ट्रीय स्तर पर वैक्सीन का डिस्ट्रीब्यूशन करने वाली संस्था गावी के साथ मिलकर काम करेगा। स्कीम के जरिए यह तय किया जाएगा कि वैक्सीन पहुंचाने और इसके डिस्ट्रीब्यूशन में किसी तरह की गड़बड़ी न हो। डब्ल्यूएचओ के निदेशक ट्रेडोस गेब्रेसिएस ने सोमवार को स्कीम का ऐलान किया। उन्होंने कहा- यह कोई चैरिटी नहीं है। हालांकि, यह सभी देशों के हित में है।

अमेरिका: महामारी को लेकर ट्रम्प ने झूठ बोला

दुनियाभर में कोरोनावायरस के मामले बढ़ते जा रहे हैं। इस बीच अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने महामारी से हो रही मौतों को लेकर झूठ बोला। उन्होंने ओहियो की रैली में कहा कि अमेरिका में फैटेलिटी रेट (मृत्यु दर) दुनिया में सबसे कम है। जॉन हॉपकिन्स यूनिवर्सिटी की मानें तो फैटेलिटी रेट के मामले में अमेरिका दुनिया के 195 देशों में 53वें पायदान पर है। अमेरिका में फैटेलिटी रेट 2.9% है।

सोमवार को ओहियो की रैली में डोनाल्ड ट्रम्प ने एक बार फिर से महामारी को लेकर झूठ बोला। पहले भी इसे लेकर वे कई बार गलत दावे कर चुके हैं।

ब्रिटेन: रात 10 बजे से पब-रेस्टोरेंट में कर्फ्यू
यूके ने पब, बार और रेस्टोरेंट्स में कर्फ्यू 10पीएम कर्फ्यू का ऐलान किया है। कैबिनेट मंत्री माइकल गॉव ने इस बात की जानकारी दी। उनके मुताबिक, देश में संक्रमितों की संख्या बढ़ रही है। अस्पताल जाने वालों की संख्या में भी इजाफा हो रहा है, इसी के चलते ये फैसला लिया गया है।

पब्स में कब तक कर्फ्यू रहेगा, फिलहाल ये स्पष्ट नहीं हो पाया। प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने एक बार फिर लोगों को वर्क फ्रॉम होम करने की सलाह दी है। उन्होंने सांसदों से कहा कि जल्द एक्शन लें, ताकि बाद में जाकर हमें और कड़े फैसले न लेने पड़ें।

ब्रिटेन के लिवरपूल में सोमवार को स्टैच्यू ऑफ बीटल्स के पास से गुजरती एक महिला। सरकार ने यहां कई इलाकों में मास्क जरूरी कर दिया है।

चेक रिपब्लिक: प्रधानमंत्री ने माफी मांगी
चेक रिपब्लिक के प्रधानमंत्री आंद्रेज बाबीज सोमवार को अस्पताल में भर्ती हो गए। कोरोना दौर में छूट दिए जाने को लेकर सरकार के फैसले पर उन्होंने माफी मांगी। उन्होंने कहा कि इस तरह का फैसला दोबारा नहीं लिया जाएगा। गर्मियों तक महामारी की स्थिति को कंट्रोल कर लिया जाएगा। देश में मामले बढ़ने के बाद अब सार्वजनिक स्थानों पर मास्क को जरूरी कर दिया गया है।

चेक रिपब्लिक की राजधानी प्राग में एक ट्राम को डिसइन्फेक्ट करने में जुटा कर्मचारी।

आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें


संयुक्त राष्ट्र की स्थापना के 75 साल पूरे होने पर राष्ट्रपति ट्रम्प ने अपने रिकॉर्डेड स्पीच में कहा- संयुक्त राष्ट्र कोरोना को लेकर चीन को जिम्मेदार ठहराए।

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने मंगलवार को यूएन स्पीच में चीन पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि द्वितीय विश्व युद्ध के खत्म हुए 75 साल हो गए हैं, लेकिन एक बार फिर दुनिया चीनी वायरस के कारण वैश्विक संघर्ष में लगी हुई है। चीन ने जानबूझकर दुनियाभर में कोरोना फैलाया। ट्रम्प ने कहा कि संयुक्त राष्ट्र को कोरोनावायरस के लिए चीन को जिम्मेदार ठहराना चाहिए। अपनी स्पीच में ट्रम्प ने कोरोनावायरस को चीनी वायरस कहा। हालांकि, चीन ने ट्रम्प के आरोपों को खारिज कर दिया। इस बीच, दुनिया में अब तक 3 करोड़ 16 लाख 75 हजार 961 मामले हो चुके हैं। 9 लाख 72 हजार 625 लोगों की मौत हो चुकी है। अच्छी बात यह है कि 2 करोड़ 32 लाख 63 हजार 645 लोग ठीक भी हो चुके हैं। वहीं, 74 लाख से ज्यादा एक्टिव केस हैं। ये आंकड़े www.worldometers.info/coronavirus के मुताबिक हैं। इन 10 देशों में कोरोना का असर सबसे ज्यादा देश संक्रमित मौतें ठीक हुए अमेरिका 70,67,804 2,05,115 43,17,580 भारत 56,40,441 90,021 45,81,746 ब्राजील 45,66,123 1,37,445 38,87,199 रूस 11,15,810 19,649 9,17,949 पेरू 7,72,896 31,474 6,22,418 कोलंबिया 7,70,435 24,397 6,40,900 मैक्सिको 7,00,580 73,697 5,02,982 स्पेन 6,82,267 30,904 उपलब्ध नहीं साउथ अफ्रीका 6,61,936 15,992 5,91,208 अर्जेंटीना 6,40,147 13,482 5,08,563 डब्ल्यूएचओ ने भविष्य में तैयार होने वाली वैक्सीन की सप्लाई को लेकर स्कीम तैयार की डब्ल्यूचओ ने भविष्य में तैयार होने वाली कोरोना वैक्सीन की सप्लाई और डिस्ट्रीब्यूशन को लेकर स्कीम तैयार की है। इसे कोवैक्स स्कीम नाम दिया गया है। इस स्कीम से दुनिया के 156 देश जुड़ चुके हैं। इनमें दुनिया के 64 सेल्फ फाइनेंसिंग और आर्थिक तौर पर मजबूत देश शामिल हैं। हालांकि, चीन और अमेरिका इस लिस्ट में शामिल नहीं है। डब्ल्यूएचओ इसके लिए अंतरराष्ट्रीय स्तर पर वैक्सीन का डिस्ट्रीब्यूशन करने वाली संस्था गावी के साथ मिलकर काम करेगा। स्कीम के जरिए यह तय किया जाएगा कि वैक्सीन पहुंचाने और इसके डिस्ट्रीब्यूशन में किसी तरह की गड़बड़ी न हो। डब्ल्यूएचओ के निदेशक ट्रेडोस गेब्रेसिएस ने सोमवार को स्कीम का ऐलान किया। उन्होंने कहा- यह कोई चैरिटी नहीं है। हालांकि, यह सभी देशों के हित में है। अमेरिका: महामारी को लेकर ट्रम्प ने झूठ बोला दुनियाभर में कोरोनावायरस के मामले बढ़ते जा रहे हैं। इस बीच अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने महामारी से हो रही मौतों को लेकर झूठ बोला। उन्होंने ओहियो की रैली में कहा कि अमेरिका में फैटेलिटी रेट (मृत्यु दर) दुनिया में सबसे कम है। जॉन हॉपकिन्स यूनिवर्सिटी की मानें तो फैटेलिटी रेट के मामले में अमेरिका दुनिया के 195 देशों में 53वें पायदान पर है। अमेरिका में फैटेलिटी रेट 2.9% है। सोमवार को ओहियो की रैली में डोनाल्ड ट्रम्प ने एक बार फिर से महामारी को लेकर झूठ बोला। पहले भी इसे लेकर वे कई बार गलत दावे कर चुके हैं।ब्रिटेन: रात 10 बजे से पब-रेस्टोरेंट में कर्फ्यू यूके ने पब, बार और रेस्टोरेंट्स में कर्फ्यू 10पीएम कर्फ्यू का ऐलान किया है। कैबिनेट मंत्री माइकल गॉव ने इस बात की जानकारी दी। उनके मुताबिक, देश में संक्रमितों की संख्या बढ़ रही है। अस्पताल जाने वालों की संख्या में भी इजाफा हो रहा है, इसी के चलते ये फैसला लिया गया है। पब्स में कब तक कर्फ्यू रहेगा, फिलहाल ये स्पष्ट नहीं हो पाया। प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने एक बार फिर लोगों को वर्क फ्रॉम होम करने की सलाह दी है। उन्होंने सांसदों से कहा कि जल्द एक्शन लें, ताकि बाद में जाकर हमें और कड़े फैसले न लेने पड़ें। ब्रिटेन के लिवरपूल में सोमवार को स्टैच्यू ऑफ बीटल्स के पास से गुजरती एक महिला। सरकार ने यहां कई इलाकों में मास्क जरूरी कर दिया है।चेक रिपब्लिक: प्रधानमंत्री ने माफी मांगी चेक रिपब्लिक के प्रधानमंत्री आंद्रेज बाबीज सोमवार को अस्पताल में भर्ती हो गए। कोरोना दौर में छूट दिए जाने को लेकर सरकार के फैसले पर उन्होंने माफी मांगी। उन्होंने कहा कि इस तरह का फैसला दोबारा नहीं लिया जाएगा। गर्मियों तक महामारी की स्थिति को कंट्रोल कर लिया जाएगा। देश में मामले बढ़ने के बाद अब सार्वजनिक स्थानों पर मास्क को जरूरी कर दिया गया है। चेक रिपब्लिक की राजधानी प्राग में एक ट्राम को डिसइन्फेक्ट करने में जुटा कर्मचारी।आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें

संयुक्त राष्ट्र की स्थापना के 75 साल पूरे होने पर राष्ट्रपति ट्रम्प ने अपने रिकॉर्डेड स्पीच में कहा- संयुक्त राष्ट्र कोरोना को लेकर चीन को जिम्मेदार ठहराए।Read More

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *