सड़कें-रेलवे ट्रैक और निचले इलाके पानी में डूबे, लोकल ट्रेन प्रभावित; हाईकोर्ट और सरकारी ऑफिस बंद रहे, पुणे समेत 4 जिलों में यलो अलर्टDainik Bhaskar


मुंबई में बुधवार को लगातार दूसरे दिन भारी बारिश जारी है। इससे कई इलाकों में पानी भर गया है। सड़क और रेलवे यातायात प्रभावित हुआ है। सरकारी दफ्तरों में छुट्टी कर दी गई। हाईकोर्ट और सेशन कोर्ट में भी कामकाज नहीं हुआ। उधर, मौसम विभाग ने मुंबई, ठाणे, रायगढ़ और सिंधु दुर्ग के लिए यलो अलर्ट जारी किया है।

मंगलवार सुबह 8.30 बजे से बुधवार सुबह 8:30 बजे तक, कोलाबा में 147.8 मिमी बारिश दर्ज की गई। वहीं, सांताक्रूज में 286.4 मिमी बारिश हुई। इस पूरे सीजन में (जून से अब तक) 3571.1 मिमी बारिश रिकॉर्ड की गई है।

यह फोटो मुंबई के परेल इलाके की है। यहां कुछ इलाकों और सड़कों पर तीन से चार फीट तक पानी भर गया।

मुंबई बारिश से जुड़े कुछ फैक्ट्स

  • 24 घंटे के इस मूसलाधार बारिश से पहले मुंबई और उसके उपनगर में इस सीजन में सबसे भारी बारिश 3 से 4 अगस्त के बीच 268.6 मिमी दर्ज की गई थी। हालांकि, दक्षिण मुंबई में 5 और 6 अगस्त के बीच 331.2 मिमी रिकॉर्ड हुई थी।।
  • अगर, सितंबर के बारिश का रिकॉर्ड देखें तो, 20 सितंबर 2016 को 24 घंटे में मुंबई में 303.7 मिमी बारिश हुई। 23 सितंबर 1993 में 312.4 मिमी और 23 सितंबर 1981 को 318.02 मिमी बारिश हुई थी।
बारिश की वजह से कई लोगों को काम पर जाने में दिक्कत हुई। पानी से भरी सड़क को पार करने में लोगों ने एक-दूसरे की मदद की।
यह फोटो मुंबई के चिंचपोकली की है। यहां एक वर्कशॉप में बारिश से पानी भर गया। यहां पिछले एक महीने से दुर्गाजी की प्रतिमा बनाने का काम चल रहा है।
यह फोटो मुंबई के सायन इलाके की है। भारी बारिश की वजह से रोड पर खड़ी कारें पानी में डूब गईंं।

मुंबई और उसके उपनगर के कई निचले इलाकों में पुलिस ने स्थानीय लोगों की मदद से सड़कों पर फंसे वाहन चालकों को सुरक्षित स्थान पर पहुंचाया। जिन इलाकों में पानी भरा है, वहां बेस्ट सर्विस भी रोक दी गई है।

यह फोटो सायन इलाके की एक सड़क की है। लोगों को सड़क पार करने में काफी मुश्किल हुई।

जलभराव के कारण आज मुंबई-भुवनेश्वर स्पेशल ट्रेन रात 10 बजे रिशेड्यूल की गई है। ठाणे रेलवे स्टेशन पर भुवनेश्वर-मुंबई स्पेशल, हावड़ा-मुंबई स्पेशल, हैदराबाद-मुंबई स्पेशल ट्रेन को रद्द कर दिया गया है।

यह फोटो चूनाभट्टी रेलवे स्टेशन की है। यहां ट्रैक पर पानी भरने से लोकल प्रभावित हुई।

सायन-कुर्ला, चूनाभट्टी-कुर्ला और मस्जिद बंदर स्टेशन पर जलभराव के कारण सीएसएमटी-ठाणे और सीएसएमटी-वसई के बीच चलने वाली लोकल ट्रेन को रिशेड्यूल किया गया। कई जगह लोकल को या तो रोक दिया गया है या फिर 15-20 मिनट की देरी से चलाया।

यह फोटो कुर्ला और सायन रेलवे स्टेशन के बीच के रेलवे ट्रैक की है।

नायर कोविड अस्पताल में पानी भर गया। अस्पताल के कार्यवाहक डीन डॉ. सतीश धराप ने बताया कि कई मरीजों दूसरी जगह शिफ्ट किया गया।

मुंबई के नायर हॉस्पिटल के कैम्पस में पानी भर गया है।

ये इलाके रहे सबसे ज्यादा प्रभावित

गोरेगांव, सायन, चेंबूर, कुर्ला, किंग सर्कल, अंधेरी ईस्ट, सांताक्रूज जैसे तमाम इलाकों में सबसे ज्यादा प्रभावित रहे। बीएमसी ने कहा कि लोग जरूरी होने पर ही घर से निकलें।

तेज बारिश की वजह से मुंबई के वर्ली नाका इलाके में भी पानी भर गया।
प्रभा देवी इलाके में लोग सड़कों पर गाड़ियां खींचते नजर आए।

आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें


Mumbai Rain – Latest News on Mumbai Rain | Trains Cancelled In Mumbai, IMD Issued Yellow Alert For Thane and Raigad

मुंबई में बुधवार को लगातार दूसरे दिन भारी बारिश जारी है। इससे कई इलाकों में पानी भर गया है। सड़क और रेलवे यातायात प्रभावित हुआ है। सरकारी दफ्तरों में छुट्टी कर दी गई। हाईकोर्ट और सेशन कोर्ट में भी कामकाज नहीं हुआ। उधर, मौसम विभाग ने मुंबई, ठाणे, रायगढ़ और सिंधु दुर्ग के लिए यलो अलर्ट जारी किया है। मंगलवार सुबह 8.30 बजे से बुधवार सुबह 8:30 बजे तक, कोलाबा में 147.8 मिमी बारिश दर्ज की गई। वहीं, सांताक्रूज में 286.4 मिमी बारिश हुई। इस पूरे सीजन में (जून से अब तक) 3571.1 मिमी बारिश रिकॉर्ड की गई है। यह फोटो मुंबई के परेल इलाके की है। यहां कुछ इलाकों और सड़कों पर तीन से चार फीट तक पानी भर गया।मुंबई बारिश से जुड़े कुछ फैक्ट्स 24 घंटे के इस मूसलाधार बारिश से पहले मुंबई और उसके उपनगर में इस सीजन में सबसे भारी बारिश 3 से 4 अगस्त के बीच 268.6 मिमी दर्ज की गई थी। हालांकि, दक्षिण मुंबई में 5 और 6 अगस्त के बीच 331.2 मिमी रिकॉर्ड हुई थी।।अगर, सितंबर के बारिश का रिकॉर्ड देखें तो, 20 सितंबर 2016 को 24 घंटे में मुंबई में 303.7 मिमी बारिश हुई। 23 सितंबर 1993 में 312.4 मिमी और 23 सितंबर 1981 को 318.02 मिमी बारिश हुई थी। बारिश की वजह से कई लोगों को काम पर जाने में दिक्कत हुई। पानी से भरी सड़क को पार करने में लोगों ने एक-दूसरे की मदद की।यह फोटो मुंबई के चिंचपोकली की है। यहां एक वर्कशॉप में बारिश से पानी भर गया। यहां पिछले एक महीने से दुर्गाजी की प्रतिमा बनाने का काम चल रहा है।यह फोटो मुंबई के सायन इलाके की है। भारी बारिश की वजह से रोड पर खड़ी कारें पानी में डूब गईंं।मुंबई और उसके उपनगर के कई निचले इलाकों में पुलिस ने स्थानीय लोगों की मदद से सड़कों पर फंसे वाहन चालकों को सुरक्षित स्थान पर पहुंचाया। जिन इलाकों में पानी भरा है, वहां बेस्ट सर्विस भी रोक दी गई है। यह फोटो सायन इलाके की एक सड़क की है। लोगों को सड़क पार करने में काफी मुश्किल हुई।जलभराव के कारण आज मुंबई-भुवनेश्वर स्पेशल ट्रेन रात 10 बजे रिशेड्यूल की गई है। ठाणे रेलवे स्टेशन पर भुवनेश्वर-मुंबई स्पेशल, हावड़ा-मुंबई स्पेशल, हैदराबाद-मुंबई स्पेशल ट्रेन को रद्द कर दिया गया है। यह फोटो चूनाभट्टी रेलवे स्टेशन की है। यहां ट्रैक पर पानी भरने से लोकल प्रभावित हुई।सायन-कुर्ला, चूनाभट्टी-कुर्ला और मस्जिद बंदर स्टेशन पर जलभराव के कारण सीएसएमटी-ठाणे और सीएसएमटी-वसई के बीच चलने वाली लोकल ट्रेन को रिशेड्यूल किया गया। कई जगह लोकल को या तो रोक दिया गया है या फिर 15-20 मिनट की देरी से चलाया। यह फोटो कुर्ला और सायन रेलवे स्टेशन के बीच के रेलवे ट्रैक की है।नायर कोविड अस्पताल में पानी भर गया। अस्पताल के कार्यवाहक डीन डॉ. सतीश धराप ने बताया कि कई मरीजों दूसरी जगह शिफ्ट किया गया। मुंबई के नायर हॉस्पिटल के कैम्पस में पानी भर गया है। ये इलाके रहे सबसे ज्यादा प्रभावित गोरेगांव, सायन, चेंबूर, कुर्ला, किंग सर्कल, अंधेरी ईस्ट, सांताक्रूज जैसे तमाम इलाकों में सबसे ज्यादा प्रभावित रहे। बीएमसी ने कहा कि लोग जरूरी होने पर ही घर से निकलें। तेज बारिश की वजह से मुंबई के वर्ली नाका इलाके में भी पानी भर गया।प्रभा देवी इलाके में लोग सड़कों पर गाड़ियां खींचते नजर आए।आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें

Mumbai Rain – Latest News on Mumbai Rain | Trains Cancelled In Mumbai, IMD Issued Yellow Alert For Thane and RaigadRead More

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *