कोस्ट गार्ड ने डूबते हुए कार्गो जहाज से 12 क्रू मेंबर्स को बचाया, चीनी-चावल समेत जहाज में 905 टन सामान थाDainik Bhaskar


अरब सागर में डूब रहे एक कार्गो शिप के 12 क्रू मेंबर्स को कोस्ट गार्ड ने बचाया। घटना 26 सितंबर रात करीब 9 बजे की है। कार्गो जहाज एमएसवी कृष्ण सुदामा सुबह गुजरात के मुंद्रा से चला था और यह जिबौटी पहुंचा था। जब जहाज गुजरात में ओखा के तट से करीब 18 किलोमीटर दूर था, तब यह डूबने लगा। इसमें चीनी और चावल समेत 905 टन सामान भरा था।

भारतीय कोस्ट गार्ड (आईसीजी) ने बताया कि जहाज डूबने की सूचना मिलते ही एक सर्च और रेस्क्यू टीम तुरंत ओखा से रवाना की गई। कोस्टगार्ड शिप सी-411 को ओखा से रवाना किया गया, जबकि मुंद्रा में तैनात सी-161 शिप को भी घटनास्थल की ओर भेजा गया। इसके अलावा सहयोग के लिए एमवी साउदर्न रॉबिन को भी भेजा गया था।

विपरीत हालत में ऑपरेशन को पूरा किया
शिप सी-411 साउदर्न रॉबिन से मिली जानकारी के बाद घटना स्थल की वास्तविक पोजिशन पर पहुंची और यहां सर्च ऑपरेशन चलाया। इसके बाद डूबने वाले जहाज का पता चला। इस पर सवार 12 क्रू मेंबर्स जहाज छोड़ चुके थे। कोस्ट गार्ड ने सभी 12 मेंबर्स को बचा लिया। रात की वजह से यह ऑपरेशन बेहद मुश्किल था। इस दौरान समुद्र में मलबा भी बिखरा था और मौसम भी अनुकूल नहीं था।

क्रू मेंबर्स को बचाने के बाद कोस्ट गार्ड ने इलाके की सर्चिंग की ताकि यह पता चलाया जा सके कि कहीं डूबते हुए जहाज से कोई तेल लीकेज तो नहीं हुआ है। हालांकि, ऐसा कुछ नहीं हुआ था।

आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें


कोस्ट गार्ड ने सभी 12 मेंबर्स को बचा लिया। रात की वजह से यह ऑपरेशन बेहद मुश्किल था।

अरब सागर में डूब रहे एक कार्गो शिप के 12 क्रू मेंबर्स को कोस्ट गार्ड ने बचाया। घटना 26 सितंबर रात करीब 9 बजे की है। कार्गो जहाज एमएसवी कृष्ण सुदामा सुबह गुजरात के मुंद्रा से चला था और यह जिबौटी पहुंचा था। जब जहाज गुजरात में ओखा के तट से करीब 18 किलोमीटर दूर था, तब यह डूबने लगा। इसमें चीनी और चावल समेत 905 टन सामान भरा था। भारतीय कोस्ट गार्ड (आईसीजी) ने बताया कि जहाज डूबने की सूचना मिलते ही एक सर्च और रेस्क्यू टीम तुरंत ओखा से रवाना की गई। कोस्टगार्ड शिप सी-411 को ओखा से रवाना किया गया, जबकि मुंद्रा में तैनात सी-161 शिप को भी घटनास्थल की ओर भेजा गया। इसके अलावा सहयोग के लिए एमवी साउदर्न रॉबिन को भी भेजा गया था। विपरीत हालत में ऑपरेशन को पूरा किया शिप सी-411 साउदर्न रॉबिन से मिली जानकारी के बाद घटना स्थल की वास्तविक पोजिशन पर पहुंची और यहां सर्च ऑपरेशन चलाया। इसके बाद डूबने वाले जहाज का पता चला। इस पर सवार 12 क्रू मेंबर्स जहाज छोड़ चुके थे। कोस्ट गार्ड ने सभी 12 मेंबर्स को बचा लिया। रात की वजह से यह ऑपरेशन बेहद मुश्किल था। इस दौरान समुद्र में मलबा भी बिखरा था और मौसम भी अनुकूल नहीं था। क्रू मेंबर्स को बचाने के बाद कोस्ट गार्ड ने इलाके की सर्चिंग की ताकि यह पता चलाया जा सके कि कहीं डूबते हुए जहाज से कोई तेल लीकेज तो नहीं हुआ है। हालांकि, ऐसा कुछ नहीं हुआ था। आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें

कोस्ट गार्ड ने सभी 12 मेंबर्स को बचा लिया। रात की वजह से यह ऑपरेशन बेहद मुश्किल था।Read More

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *