कश्मीर में लश्कर के टॉप कमांडर समेत 4 आतंकवादी ढेर, कुपवाड़ा में हथियारों की तस्करी नाकाम; लद्दाख में वायुसेना के मिग-29 ने भरी उड़ानDainik Bhaskar


कुलगाम और पुलवामा में जिलों में शनिवार को सुरक्षा बलों और आतंकवादियों के बीच एनकाउंटर हुआ। इस दौरान सुरक्षाबलों ने 4 आतंकवादियों को मार गिराया। इनके पास से एके-47 बरामद की है। उधर, पाकिस्तान की ओर से जम्मू-कश्मीर में हथियार और गोला-बारूद भेजने की कोशिश सेना ने नाकाम कर दी। सेना ने शनिवार को केरन सेक्टर में 4 एके-47 राइफल और 240 राउंड गोलियां बरामद की हैं।

इस बीच, शनिवार को ही लद्दाख के लेह एयरबेस से वायुसेना के मिग-29 ने उड़ान भरी। लद्दाख में पिछले कई महीनों से चीन के साथ तनाव जारी है। इस बीच एयरफोर्स यहां लगातार अपने ऑपरेशन को अंजाम दे रही है।

दो आतंकवादी पुिलस अफसर की हत्या में शामिल थे
कुलगाम में मारे गए आतंकवादी जैश ए मोहम्मद से ताल्लुक रखते थे। इनमें एक कुलगाम का ही रहने वाला तारिक अहमद मीर था और दूसरा पाकिस्तानी नागरिक था, जिसका नाम समीर भाई उर्फ उस्मान है। ये मीर बाजार में पुलिस अफसर खुर्शीद अहमद की हत्या में शामिल थे। इसके अलावा सरपंच आरिफ अहमद पर भी हमले में शामिल थे। पुलवामा और कुलगाम में हुए एनकाउंटर के दौरान आतंकवादियों के पास से एके 47 राइफल और गोला-बारूद बरामद किया गया है।
पुलवामा में मारे गए दो आतंकवादियों में से एक लश्कर-ए-तैयबा का टॉप कमांडर है। उसका नजीर भट उर्फ जाहिद टाइगर के तौर पर हुई है।

ट्यूब के जरिए कुपवाड़ा में हथियार तस्करी की कोशिश
पाकिस्तान उत्तर कश्मीर के कुपवाड़ा जिले में लाइन ऑफ कंट्रोल (एलओसी) की तरफ से हथियार भेजने की कोशिश कर रहा था। अधिकारियों के मुताबिक, जवानों ने दो-तीन लोगों को संदिग्ध पाया, जो ट्यूब में कुछ सामान भेजने की कोशिश कर रहे थे। ये सामान किशनगंगा नदी के ऊपर रस्सी के सहारे भेजा जा रहा था। इसके बाद आर्मी के जवान वहां पर पहुंचे और ये सारा सामान जब्त कर लिया।

पाकिस्तान के मंसूबों में कोई बदलाव नहीं हुआ
सेना के अधिकारी ने बताया कि हाल के दिनों में घाटी में हथियार पहुंचाने की पाकिस्तान की ये दूसरी कोशिश थी, जिसे नाकाम कर दिया गया। कश्मीर बेस्ड चिनार कॉर्प्स के लेफ्टिनेंट जनरल बीएस राजू ने बताया कि पाकिस्तान के मंसूबों में कोई बदलाव नहीं हुआ है। हम भविष्य में भी उनकी ऐसी कोशिशों को नाकाम करते रहेंगे।

पाकिस्तान का मकसद लोगों को आतंकवाद में उलझाकर रखना
अधिकारी ने कहा कि हाल के दिनों में कश्मीर के केरन, तंगधार और जम्मू सेक्टर में ऐसी कोशिशें की गई हैं। इसके अलावा पंजाब में भी हथियार भेजने की कोशिश की गई है। पाकिस्तान का मकसद हमेशा कश्मीर के लोगों को आतंकवाद में उलझाकर रखना है। हर हमारी कोशिश ऐसी कोशिशों को नाकाम करना है, ताकि हमारे लोगों का नुकसान कम हो। हमें इसमें लोगों के सहयोग की भी जरूरत है ताकि हम आतंकवाद को रोक सकें।

आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें


लद्दाख में पिछले कई महीनों से चीन के साथ तनाव जारी है। इस बीच लेह एयरबेस से वायुसेना के मिग-29 ने उड़ान भरी।

कुलगाम और पुलवामा में जिलों में शनिवार को सुरक्षा बलों और आतंकवादियों के बीच एनकाउंटर हुआ। इस दौरान सुरक्षाबलों ने 4 आतंकवादियों को मार गिराया। इनके पास से एके-47 बरामद की है। उधर, पाकिस्तान की ओर से जम्मू-कश्मीर में हथियार और गोला-बारूद भेजने की कोशिश सेना ने नाकाम कर दी। सेना ने शनिवार को केरन सेक्टर में 4 एके-47 राइफल और 240 राउंड गोलियां बरामद की हैं। इस बीच, शनिवार को ही लद्दाख के लेह एयरबेस से वायुसेना के मिग-29 ने उड़ान भरी। लद्दाख में पिछले कई महीनों से चीन के साथ तनाव जारी है। इस बीच एयरफोर्स यहां लगातार अपने ऑपरेशन को अंजाम दे रही है। दो आतंकवादी पुिलस अफसर की हत्या में शामिल थे कुलगाम में मारे गए आतंकवादी जैश ए मोहम्मद से ताल्लुक रखते थे। इनमें एक कुलगाम का ही रहने वाला तारिक अहमद मीर था और दूसरा पाकिस्तानी नागरिक था, जिसका नाम समीर भाई उर्फ उस्मान है। ये मीर बाजार में पुलिस अफसर खुर्शीद अहमद की हत्या में शामिल थे। इसके अलावा सरपंच आरिफ अहमद पर भी हमले में शामिल थे। पुलवामा और कुलगाम में हुए एनकाउंटर के दौरान आतंकवादियों के पास से एके 47 राइफल और गोला-बारूद बरामद किया गया है। पुलवामा में मारे गए दो आतंकवादियों में से एक लश्कर-ए-तैयबा का टॉप कमांडर है। उसका नजीर भट उर्फ जाहिद टाइगर के तौर पर हुई है। ट्यूब के जरिए कुपवाड़ा में हथियार तस्करी की कोशिश पाकिस्तान उत्तर कश्मीर के कुपवाड़ा जिले में लाइन ऑफ कंट्रोल (एलओसी) की तरफ से हथियार भेजने की कोशिश कर रहा था। अधिकारियों के मुताबिक, जवानों ने दो-तीन लोगों को संदिग्ध पाया, जो ट्यूब में कुछ सामान भेजने की कोशिश कर रहे थे। ये सामान किशनगंगा नदी के ऊपर रस्सी के सहारे भेजा जा रहा था। इसके बाद आर्मी के जवान वहां पर पहुंचे और ये सारा सामान जब्त कर लिया। पाकिस्तान के मंसूबों में कोई बदलाव नहीं हुआ सेना के अधिकारी ने बताया कि हाल के दिनों में घाटी में हथियार पहुंचाने की पाकिस्तान की ये दूसरी कोशिश थी, जिसे नाकाम कर दिया गया। कश्मीर बेस्ड चिनार कॉर्प्स के लेफ्टिनेंट जनरल बीएस राजू ने बताया कि पाकिस्तान के मंसूबों में कोई बदलाव नहीं हुआ है। हम भविष्य में भी उनकी ऐसी कोशिशों को नाकाम करते रहेंगे। पाकिस्तान का मकसद लोगों को आतंकवाद में उलझाकर रखना अधिकारी ने कहा कि हाल के दिनों में कश्मीर के केरन, तंगधार और जम्मू सेक्टर में ऐसी कोशिशें की गई हैं। इसके अलावा पंजाब में भी हथियार भेजने की कोशिश की गई है। पाकिस्तान का मकसद हमेशा कश्मीर के लोगों को आतंकवाद में उलझाकर रखना है। हर हमारी कोशिश ऐसी कोशिशों को नाकाम करना है, ताकि हमारे लोगों का नुकसान कम हो। हमें इसमें लोगों के सहयोग की भी जरूरत है ताकि हम आतंकवाद को रोक सकें। आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें

लद्दाख में पिछले कई महीनों से चीन के साथ तनाव जारी है। इस बीच लेह एयरबेस से वायुसेना के मिग-29 ने उड़ान भरी।Read More

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *