ठंड अपने साथ स्मॉग लेकर आ रही है, नासा के मुताबिक- इन 6 पौधों को घरों में लगाकर शुद्ध ऑक्सीजन पा सकते हैंDainik Bhaskar


हर बार की तरह इस बार ठंड भी अपने साथ स्मॉग लेकर आ रही है। स्मॉग यानी एयर पॉल्यूशन। ठंड में होता यह कि हवा में मौजूद स्मोक और फॉग मिलकर धुंध जैसा स्मॉग बना लेते हैं। स्मॉग में नाइट्रोजन ऑक्साइड्स, सल्फर ऑक्साइड्स और स्मोक घुले होते हैं। इस तरह के एयर पॉल्यूशन में सांस लेने में दिक्कत होती है। यह बाद में फेफड़े के इंफेक्शन समेत कई बड़े बीमारियों का कारण बन सकता है।

ठंड की दस्तक के साथ ही देश के कई शहरों में स्मॉग छाने लगा है, लेकिन दिल्ली-एनसीआर में इसका असर सबसे ज्यादा हो रहा है। डॉक्टर इससे बचने के लिए एन-95 जैसे मास्क का इस्तेमाल की सलाह देते हैं। घर में एयर प्यूरिफायर भी लगा सकते हैं। इससे बचने के लिए कुछ और तरीके भी कारगर हो सकते हैं, जिनमें इंडोर प्लांट्स सबसे कारगर तरीका हैं। ये पौधे छोटे होते हैं और इनसे घर को शुद्ध ऑक्सीजन मिलती रहेगा।

नासा के मुताबिक इन 6 पौधों के जरिए आप अपने घर की हवा को साफ-सुथरा रख सकते हैं-

1- मनी प्लांट

मनी प्लांट (गोल्डन पोथोस)

मनी प्लांट घर में लगाया जाने वाला सबसे आम पौधा है। इसे गोल्डन पोथोस या डेविल्स आईवी के नाम से भी जाना जाता है। मनी प्लांट की सबसे खास बात यह है कि यह रात में भी ऑक्सीजन छोड़ता है।

मनी प्लांट की दूसरी खासियत यह है कि यह बहुत आसानी से कम से उग जाता है। मनी प्लांट के किसी हिस्से को एक छोटे गमले या पानी के जार में रख देने से यह अपने आप बढ़ने लगता है। आप इस पौधे को गार्डन से लेकर बेड रूम तक कहीं भी लगा सकते हैं। यह बाजार में आसानी से उपलब्ध है।

2- पीस लिली

पीस लिली

पीस लिली की पत्तियां गाढ़ी हरी और बड़ी होती हैं। यह एक तरह का नेचुरल एयर प्यूरीफायर है। यह प्लांट घर के अंदर से बेंजीन, ट्राइक्लोइथेन, फॉर्मेल्डाइड को खत्म करता है। यही काम इलेक्ट्रॉनिक एयर प्यूरीफायर भी करता है। इस पौधे की भी खासियत है कि यह छोटे गमले में भी आसानी से उग जाता है।

3- स्नेक प्लांट

स्नेक प्लांट (वाइपर्स बोस्ट्रिंग)

स्नेक प्लांट नेचुरल एयर प्यूरीफायर की तरह काम करता है। यह पौधा हवा से जाइलीन, बेंजीन और टूलिन जैसे पार्टिकल को खत्म करता है। इसे वाइपर्स बोस्ट्रिंग हेम्प के नाम भी जानते हैं। यह भी मनी प्लांट की तरह रात में ऑक्सीजन छोड़ता है। इस पौधे को लगाने के बाद ज्यादा देखभाल की जरूरत नहीं होती। आप इसे एक छोटे गमले या घर के लॉन में आसानी से उगा सकते हैं।

4- एरेका पाम

एरेका पाम

ऐसे बहुत से पौधे हैं जो हवा से फार्मेल्डिहाइड को निकालते हैं। नासा के मुताबिक एरेका पाम प्लांट उन 10 पौधों में से एक है, जो हवा से सबसे ज्यादा मात्रा में फार्मेल्डिहाइड को हटाते हैं। ठंड में मौसम ड्राई हो जाता है, ऐसे में लोग घरों में ह्यूमिडिफायर का इस्तेमाल करते हैं। यह पौधा ह्यूमिडिफायर की भी जरूरत को पूरी कर देता है।

वैज्ञानिकों का मानना है कि यह 24 घंटे में एक लीटर पानी देता है। यह प्लांट हवा से फार्मेल्डिहाइड के अलावा कार्बन मोनो-ऑक्साइड, बेंजीन, जाइलीन और ट्राइक्लोरोइथिलीन को भी हटाता है।

5- रबर प्लांट

रबर प्लांट

रबर प्लांट भी लोगों के बीच बहुत कॉमन है। घरों के गार्डन में इसे हम आसानी से लगा सकते हैं। यह भी एयर प्यूरीफायर की तरह ही काम करता है। हवा से यह कार्बन और बायो एफ्लुएंट को हटा देता है। लेकिन अगर आपके घर में जानवर हैं तो आप इसे न लगाएं, क्योंकि कुछ पशुओं के लिए यह जहरीला भी होता है।

6- एलोवेरा

एलोवेरा

लोगों में सबसे ज्यादा लोकप्रिय पौधे की अगर बात करें तो वह एलोवेरा ही है। इसका मल्टी यूज इसे बहुत पसंदीदा बनाता है। इसकी पत्तियों से निकलने वाला जेल हमारी स्किन के लिए बहुत फायदेमंद है। एलोवेरा भी एयर प्यूरिफायर के तौर पर काम करता है। यह भी हवा से बेंजीन और फार्मेल्डिहाइड को हटाता है। यह भी रात में ऑक्सीजन छोड़ता है।

आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें


Winter Smog 2020 News; Air Purifying Plants | Know Which plant purifies the air the most?

हर बार की तरह इस बार ठंड भी अपने साथ स्मॉग लेकर आ रही है। स्मॉग यानी एयर पॉल्यूशन। ठंड में होता यह कि हवा में मौजूद स्मोक और फॉग मिलकर धुंध जैसा स्मॉग बना लेते हैं। स्मॉग में नाइट्रोजन ऑक्साइड्स, सल्फर ऑक्साइड्स और स्मोक घुले होते हैं। इस तरह के एयर पॉल्यूशन में सांस लेने में दिक्कत होती है। यह बाद में फेफड़े के इंफेक्शन समेत कई बड़े बीमारियों का कारण बन सकता है। ठंड की दस्तक के साथ ही देश के कई शहरों में स्मॉग छाने लगा है, लेकिन दिल्ली-एनसीआर में इसका असर सबसे ज्यादा हो रहा है। डॉक्टर इससे बचने के लिए एन-95 जैसे मास्क का इस्तेमाल की सलाह देते हैं। घर में एयर प्यूरिफायर भी लगा सकते हैं। इससे बचने के लिए कुछ और तरीके भी कारगर हो सकते हैं, जिनमें इंडोर प्लांट्स सबसे कारगर तरीका हैं। ये पौधे छोटे होते हैं और इनसे घर को शुद्ध ऑक्सीजन मिलती रहेगा। नासा के मुताबिक इन 6 पौधों के जरिए आप अपने घर की हवा को साफ-सुथरा रख सकते हैं- 1- मनी प्लांट मनी प्लांट (गोल्डन पोथोस)मनी प्लांट घर में लगाया जाने वाला सबसे आम पौधा है। इसे गोल्डन पोथोस या डेविल्स आईवी के नाम से भी जाना जाता है। मनी प्लांट की सबसे खास बात यह है कि यह रात में भी ऑक्सीजन छोड़ता है। मनी प्लांट की दूसरी खासियत यह है कि यह बहुत आसानी से कम से उग जाता है। मनी प्लांट के किसी हिस्से को एक छोटे गमले या पानी के जार में रख देने से यह अपने आप बढ़ने लगता है। आप इस पौधे को गार्डन से लेकर बेड रूम तक कहीं भी लगा सकते हैं। यह बाजार में आसानी से उपलब्ध है। 2- पीस लिली पीस लिलीपीस लिली की पत्तियां गाढ़ी हरी और बड़ी होती हैं। यह एक तरह का नेचुरल एयर प्यूरीफायर है। यह प्लांट घर के अंदर से बेंजीन, ट्राइक्लोइथेन, फॉर्मेल्डाइड को खत्म करता है। यही काम इलेक्ट्रॉनिक एयर प्यूरीफायर भी करता है। इस पौधे की भी खासियत है कि यह छोटे गमले में भी आसानी से उग जाता है। 3- स्नेक प्लांट स्नेक प्लांट (वाइपर्स बोस्ट्रिंग)स्नेक प्लांट नेचुरल एयर प्यूरीफायर की तरह काम करता है। यह पौधा हवा से जाइलीन, बेंजीन और टूलिन जैसे पार्टिकल को खत्म करता है। इसे वाइपर्स बोस्ट्रिंग हेम्प के नाम भी जानते हैं। यह भी मनी प्लांट की तरह रात में ऑक्सीजन छोड़ता है। इस पौधे को लगाने के बाद ज्यादा देखभाल की जरूरत नहीं होती। आप इसे एक छोटे गमले या घर के लॉन में आसानी से उगा सकते हैं। 4- एरेका पाम एरेका पाम ऐसे बहुत से पौधे हैं जो हवा से फार्मेल्डिहाइड को निकालते हैं। नासा के मुताबिक एरेका पाम प्लांट उन 10 पौधों में से एक है, जो हवा से सबसे ज्यादा मात्रा में फार्मेल्डिहाइड को हटाते हैं। ठंड में मौसम ड्राई हो जाता है, ऐसे में लोग घरों में ह्यूमिडिफायर का इस्तेमाल करते हैं। यह पौधा ह्यूमिडिफायर की भी जरूरत को पूरी कर देता है। वैज्ञानिकों का मानना है कि यह 24 घंटे में एक लीटर पानी देता है। यह प्लांट हवा से फार्मेल्डिहाइड के अलावा कार्बन मोनो-ऑक्साइड, बेंजीन, जाइलीन और ट्राइक्लोरोइथिलीन को भी हटाता है। 5- रबर प्लांट रबर प्लांटरबर प्लांट भी लोगों के बीच बहुत कॉमन है। घरों के गार्डन में इसे हम आसानी से लगा सकते हैं। यह भी एयर प्यूरीफायर की तरह ही काम करता है। हवा से यह कार्बन और बायो एफ्लुएंट को हटा देता है। लेकिन अगर आपके घर में जानवर हैं तो आप इसे न लगाएं, क्योंकि कुछ पशुओं के लिए यह जहरीला भी होता है। 6- एलोवेरा एलोवेरालोगों में सबसे ज्यादा लोकप्रिय पौधे की अगर बात करें तो वह एलोवेरा ही है। इसका मल्टी यूज इसे बहुत पसंदीदा बनाता है। इसकी पत्तियों से निकलने वाला जेल हमारी स्किन के लिए बहुत फायदेमंद है। एलोवेरा भी एयर प्यूरिफायर के तौर पर काम करता है। यह भी हवा से बेंजीन और फार्मेल्डिहाइड को हटाता है। यह भी रात में ऑक्सीजन छोड़ता है। आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें

Winter Smog 2020 News; Air Purifying Plants | Know Which plant purifies the air the most?Read More

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *