उपेक्षा से नाराज एकनाथ खडसे का इस्तीफा, NCP में शामिल होंगे; मंत्री बनाए जाने की भी चर्चाDainik Bhaskar


महाराष्ट्र में भाजपा के बड़े नेता एकनाथ खडसे ने बुधवार को पार्टी से इस्तीफा दे दिया है। महाराष्ट्र भाजपा अध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल ने इसे मंजूर कर लिया है। खडसे शुक्रवार को राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (NCP) ज्वाइन करेंगे। उनके साथ बेटी रक्षा और कुछ समर्थक भी NCP ज्वाइन कर सकते हैं। चर्चा ये भी है कि खडसे को उद्धव सरकार में NCP कोटे से कृषि मंत्री बनाया जा सकता है।

खडसे ने कहा- भाजपा से नाराज नहीं, नाराजगी एक व्यक्ति से है

खडसे ने अपने इस्तीफे में तो पार्टी छोड़ने का कारण निजी बताया है। पर जब मीडिया ने उनसे सवाल किया तो बोले- मेरी इच्छी नहीं थी पार्टी छोड़ने की, लेकिन एक व्यक्ति की वजह से छोड़ना पड़ रहा है। इसकी शिकायत मैंने पार्टी के वरिष्ठ नेताओं से की, लेकिन वहां भी सुनवाई नहीं हुई, इसलिए मैंने पार्टी छोड़ने का फैसला किया।

खडसे बोले- पिछले 4 साल में पार्टी में बदनामी सहनी पड़ी। मैं भाजपा पर नाराज नहीं हूं, एक व्यक्ति पर हूं। जो मुझ पर आरोप लगा, उस पर जांच हुई और उसमें कुछ मिला नहीं। बाकी नेताओं पर आरोप लगा, उनको क्लीन चिट दी जाती है, लेकिन मुझे नहीं। नाराजगी देवेंद्र फडणवीस से है। मेरे पीछे जनता है और मैंने अपना इस्तीफा दिया और एनसीपी में शामिल हो जाऊंगा। 40 साल मैंने पार्टी को दिए हैं। जब मुझ पर आरोप लगा, उस वक्त मैंने खुद सीएम से कहा था कि मुझ पर आरोप लगा रहे हो। इसके बाद मैंने जांच करवाई, लेकिन कुछ नहीं निकला।”

खडसे पर लगे थे भ्रष्टाचार के आरोप, उसके बाद मंत्री पद छोड़ना पड़ा

खडसे फडणवीस सरकार में राजस्व मंत्री थे। साल 2016 में उन पर भ्रष्टाचार के आरोप लगे थे। इसके बाद उनसे इस्तीफा देने को कहा गया था। खडसे को मंत्री पद छोड़ना पड़ा था। मंत्री पद जाने और विधानसभा चुनाव में टिकट ना दिए जाने से भी खडसे नाराज थे।

खडसे के पिछले कई दिनों से भाजपा छोड़ने की चर्चा चल रही थी। फडणवीस से जब इस पर सवाल पूछा गया था तो उन्होंने कहा था कि इस तरह के मुहूर्त के बारे में हर रोज ही बात होती है।

शरद पवार ने किया था खडसे का समर्थन

NCP चीफ शरद पवार ने सोमवार को एकनाथ खडसे की तारीफ की थी। पवार ने कहा था- खडसे हाल ही में नेता प्रतिपक्ष रहे हैं और उन्होंने राज्य में भाजपा को स्थापित करने में अहम भूमिका निभाई है। अगर किसी के योगदान और कड़ी मेहनत पर ध्यान नहीं दिया जाएगा, तो वह परेशान होगा ही। खडसे को ऐसी पार्टी में शामिल होने के बारे सोचना चाहिए, जो उनके काम की सराहना करती है।​​​​​​

आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें


एकनाथ खडसे फडणवीस सरकार में राजस्व मंत्री थे। 2016 में भ्रष्टाचार के आरोप के बाद उन्हें मंत्री पद छोड़ना पड़ा था। – फाइल फोटो

महाराष्ट्र में भाजपा के बड़े नेता एकनाथ खडसे ने बुधवार को पार्टी से इस्तीफा दे दिया है। महाराष्ट्र भाजपा अध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल ने इसे मंजूर कर लिया है। खडसे शुक्रवार को राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (NCP) ज्वाइन करेंगे। उनके साथ बेटी रक्षा और कुछ समर्थक भी NCP ज्वाइन कर सकते हैं। चर्चा ये भी है कि खडसे को उद्धव सरकार में NCP कोटे से कृषि मंत्री बनाया जा सकता है। खडसे ने कहा- भाजपा से नाराज नहीं, नाराजगी एक व्यक्ति से है खडसे ने अपने इस्तीफे में तो पार्टी छोड़ने का कारण निजी बताया है। पर जब मीडिया ने उनसे सवाल किया तो बोले- मेरी इच्छी नहीं थी पार्टी छोड़ने की, लेकिन एक व्यक्ति की वजह से छोड़ना पड़ रहा है। इसकी शिकायत मैंने पार्टी के वरिष्ठ नेताओं से की, लेकिन वहां भी सुनवाई नहीं हुई, इसलिए मैंने पार्टी छोड़ने का फैसला किया। खडसे बोले- पिछले 4 साल में पार्टी में बदनामी सहनी पड़ी। मैं भाजपा पर नाराज नहीं हूं, एक व्यक्ति पर हूं। जो मुझ पर आरोप लगा, उस पर जांच हुई और उसमें कुछ मिला नहीं। बाकी नेताओं पर आरोप लगा, उनको क्लीन चिट दी जाती है, लेकिन मुझे नहीं। नाराजगी देवेंद्र फडणवीस से है। मेरे पीछे जनता है और मैंने अपना इस्तीफा दिया और एनसीपी में शामिल हो जाऊंगा। 40 साल मैंने पार्टी को दिए हैं। जब मुझ पर आरोप लगा, उस वक्त मैंने खुद सीएम से कहा था कि मुझ पर आरोप लगा रहे हो। इसके बाद मैंने जांच करवाई, लेकिन कुछ नहीं निकला।” खडसे पर लगे थे भ्रष्टाचार के आरोप, उसके बाद मंत्री पद छोड़ना पड़ा खडसे फडणवीस सरकार में राजस्व मंत्री थे। साल 2016 में उन पर भ्रष्टाचार के आरोप लगे थे। इसके बाद उनसे इस्तीफा देने को कहा गया था। खडसे को मंत्री पद छोड़ना पड़ा था। मंत्री पद जाने और विधानसभा चुनाव में टिकट ना दिए जाने से भी खडसे नाराज थे। खडसे के पिछले कई दिनों से भाजपा छोड़ने की चर्चा चल रही थी। फडणवीस से जब इस पर सवाल पूछा गया था तो उन्होंने कहा था कि इस तरह के मुहूर्त के बारे में हर रोज ही बात होती है। शरद पवार ने किया था खडसे का समर्थन NCP चीफ शरद पवार ने सोमवार को एकनाथ खडसे की तारीफ की थी। पवार ने कहा था- खडसे हाल ही में नेता प्रतिपक्ष रहे हैं और उन्होंने राज्य में भाजपा को स्थापित करने में अहम भूमिका निभाई है। अगर किसी के योगदान और कड़ी मेहनत पर ध्यान नहीं दिया जाएगा, तो वह परेशान होगा ही। खडसे को ऐसी पार्टी में शामिल होने के बारे सोचना चाहिए, जो उनके काम की सराहना करती है।​​​​​​ आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें

एकनाथ खडसे फडणवीस सरकार में राजस्व मंत्री थे। 2016 में भ्रष्टाचार के आरोप के बाद उन्हें मंत्री पद छोड़ना पड़ा था। – फाइल फोटोRead More

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *