ब्राजील में वैक्सीन के ट्रायल के दौरान एक वॉलेंटियर की मौत, लेकिन टेस्टिंग जारी रहेगी; दुनिया में 4.13 करोड़ केसDainik Bhaskar


ब्राजील की हेल्थ ऑथोरिटी अन्विसा ने बुधवार को बताया कि एस्ट्राजेनेका एजेडएनएल और ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी द्वारा डेवलप कोरोना वैक्सीन के क्लीनिकल ट्रायल में एक वॉलेंटियर की मौत हो गई। लेकिन, अधिकारियों का कहना है कि टेस्टिंग जारी रहेगी।

ऑक्सफोर्ड ने कहा कि क्लीनिकल ट्रायल की सुरक्षा को लेकर कोई दिक्कत नहीं है। वैक्सीन का ट्रायल जारी रहेगा। ब्राजील के अखबार ओ ग्लोबो ने बताया कि वॉलेंटियर को प्लेसिबो दिया गया था न कि ट्रायल वैक्सीन। अन्विसा ने ट्रायल में शामिल लोगों के बारे में कोई जानकारी नहीं दिया है।

दुनिया में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा 4.13 करोड़ से ज्यादा हो गया है। 3 करोड़ 7 लाख 89 हजार 183 मरीज रिकवर हो चुके हैं। अब तक 11.33 लाख से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है। ये आंकड़े www.worldometers.info/coronavirus के मुताबिक हैं।

इन 10 देशों में कोरोना का असर सबसे ज्यादा

देश

संक्रमित मौतें ठीक हुए
अमेरिका 85,45,503 2,26,666 55,57,126
भारत 77,04,399 1,16,639 68,70,797
ब्राजील 52,76,942 1,54,906 47,21,593
रूस 14,47,335 24,952 10,96,560
स्पेन 10,46,641 34,366 उपलब्ध नहीं
अर्जेंटीना 10,18,999 27,100 8,29,647
कोलंबिया 9,74,139 29,272 8,76,731
फ्रांस 9,57,421 34,048 1,06,839
पेरू 8,74,118 33,875 7,88,494
मैक्सिको 8,60,714 86,893 6,27,584

जर्मनी: हेल्थ मिनिस्टर संक्रमित

सीएनएन के मुताबिक, जर्मनी के हेल्थ मिनिस्टर जेंस स्पाह्न कोरोना पॉजिटिव मिले हैं। उनके ऑफिस ने बुधवार को बताया कि स्पाह्न में कोल्ड सिम्पटम पाए गए हैं। फिलहाल, वे घर पर आइसोलेट हो गए हैं। जो लोग भी स्वास्थ्य मंत्री के संपर्क में आए हैं, उन्हें सूचना दे दी गई है।

ग्रीस में रिकॉर्ड मामले मिले

उधर, ग्रीस में कोरोना महामारी की शुरुआत के बाद पहली बार संक्रमण के रिकॉर्ड मामले मिले हैं। यहां बुधवार को 865 मामले मिले और 6 लोगों की मौत हुई। ग्रीक सरकार ने उत्तरी ग्रीस के कस्तोरिया क्षेत्र में लॉकडाउन की घोषणा की। उत्तरी ग्रीस में कोजानी के बाद लॉकडाउन लगाया जाने वाला यह दूसरा शहर है। यहां अब तक 27,334 केस मिले चुके हैं और 534 की मौत हो चुकी है।

हाल ही में चुनाव जीतकर प्रधानमंत्री बनीं जेसिंडा आर्डर्न के लिए परेशान करने वाली खबर है। न्यूजीलैंड में 25 नए मामले सामने आए हैं। दूसरी तरफ, अमेरिका में आशंका जताई गई है कि कोरोना से मरने वालों का आंकड़ा दोगुना यानी करीब चार लाख हो सकता है।

कोरोना के कहर से जूझते दो देश

न्यूजीलैंड में कई हफ्तों बाद इतने मामले
न्यूजीलैंड की हेल्थ मिनिस्ट्री ने बुधवार को 25 नए केस मिलने की पुष्टि की। मिनिस्ट्री द्वारा जारी बयान के मुताबिक, कई हफ्तों बाद एक दिन में इतने मामले एक साथ सामने आए हैं। इनमें से दो मामले कम्युनिटी ट्रांसमिशन के हैं। इसके अलावा सभी मामले आईसोलेशन से जुड़े थे।

संक्रमित पाए गए लोगों में 18 रूस और यूक्रेन के हैं। ये हाल ही में मछली पालन के सिलसिले में न्यूजीलैंड पहुंचे थे। इन्हें एक होटल में क्वारैंटाइन किया गया था। न्यूजीलैंड के डायरेक्टर जनरल ऑफ हेल्थ एश्ले ब्लूमफील्ड भी पॉजिटिव पाए गए हैं। वे रूस जाने वाले थे, लेकिन अब उन्होंने यात्रा रद्द कर दी है।

अमेरिका में फिक्र बढ़ाते आंकड़े
सेंटर फॉर डिसीज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन (सीडीसी) की एक रिपोर्ट में कहा गया है कि कोविड-19 से मरने वालों का आंकड़ा जो जारी किया गया है, उससे दोगुना हो सकता है। सीडीसी ने इसे एक्सेस डेथ कैटेगरी में रखा गया है। इसके लिए कोविड के शुरुआती 8 महीनों का डेटा एनालिसिस किया गया है।

सीडीसी ने तीन आंकड़ों को मिलाकर यह डेटा तैयार किया है। किसी भी तरह की बीमारी से मौत, अमेरिका में होने वाली औसत मौतें और फिर इनका 2015 से 2019 के दौरान लिए गए डेटा से मिलान। रिपोर्ट में कहा गया है- जनवरी से 3 अक्टूबर तक 2 लाख 99 हजार 28 मौतें ज्यादा हुईं। इनमें 1 लाख 98 हजार 81 मौतें कोविड-19 से होने की आशंका है। ये वो आंकड़ा है, जो वर्तमान में बताए गए आंकड़े से अलग हैं।

अमेरिका में करीब एक हफ्ते से हर दिन करीब 50 हजार से ज्यादा नए संक्रमित मिल रहे हैं। हालांकि, इसी दौरान ठीक होने वाले लोगों की संख्या भी बढ़ी है। (फाइल)

पैक्ड फूड में वायरस
चीन में पैक्ड फ्रोजन फूड के पैकेट पर कोविड-19 वायरस मिला है। इसका मतलब यह हुआ कि कोरोनावायरस कोल्ड सप्लाय चेन्स में जिंदा रह सकता है। चीन के लिए यह खबर फिक्र बढ़ाने वाली है। शनिवार को सेंटर फॉर डिसीज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन (सीडीसी) ने एक बयान जारी कर माना कि क्विनदाओ प्रांत के एक स्टोर में फ्रोजन फूड में वायरस पाया गया है। रिसर्चर को शक है कि यह वायरस इस शहर के एक क्लस्टर से वहां तक पहुंचा। इसके पहले भी इस तरह की स्टडी की गई थी। लेकिन, तब वायरस के जिंदा होने के सबूत नहीं मिले थे।

आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें


ब्राजील के साओ पाउलो में फूटबॉल मैच से पहले स्टेडियम को डिसइन्फेक्ट करता पीपीई किट पहना स्टाफ।

ब्राजील की हेल्थ ऑथोरिटी अन्विसा ने बुधवार को बताया कि एस्ट्राजेनेका एजेडएनएल और ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी द्वारा डेवलप कोरोना वैक्सीन के क्लीनिकल ट्रायल में एक वॉलेंटियर की मौत हो गई। लेकिन, अधिकारियों का कहना है कि टेस्टिंग जारी रहेगी। ऑक्सफोर्ड ने कहा कि क्लीनिकल ट्रायल की सुरक्षा को लेकर कोई दिक्कत नहीं है। वैक्सीन का ट्रायल जारी रहेगा। ब्राजील के अखबार ओ ग्लोबो ने बताया कि वॉलेंटियर को प्लेसिबो दिया गया था न कि ट्रायल वैक्सीन। अन्विसा ने ट्रायल में शामिल लोगों के बारे में कोई जानकारी नहीं दिया है। दुनिया में कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा 4.13 करोड़ से ज्यादा हो गया है। 3 करोड़ 7 लाख 89 हजार 183 मरीज रिकवर हो चुके हैं। अब तक 11.33 लाख से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है। ये आंकड़े www.worldometers.info/coronavirus के मुताबिक हैं। इन 10 देशों में कोरोना का असर सबसे ज्यादा देश संक्रमित मौतें ठीक हुए अमेरिका 85,45,503 2,26,666 55,57,126 भारत 77,04,399 1,16,639 68,70,797 ब्राजील 52,76,942 1,54,906 47,21,593 रूस 14,47,335 24,952 10,96,560 स्पेन 10,46,641 34,366 उपलब्ध नहीं अर्जेंटीना 10,18,999 27,100 8,29,647 कोलंबिया 9,74,139 29,272 8,76,731 फ्रांस 9,57,421 34,048 1,06,839 पेरू 8,74,118 33,875 7,88,494 मैक्सिको 8,60,714 86,893 6,27,584 जर्मनी: हेल्थ मिनिस्टर संक्रमित सीएनएन के मुताबिक, जर्मनी के हेल्थ मिनिस्टर जेंस स्पाह्न कोरोना पॉजिटिव मिले हैं। उनके ऑफिस ने बुधवार को बताया कि स्पाह्न में कोल्ड सिम्पटम पाए गए हैं। फिलहाल, वे घर पर आइसोलेट हो गए हैं। जो लोग भी स्वास्थ्य मंत्री के संपर्क में आए हैं, उन्हें सूचना दे दी गई है। ग्रीस में रिकॉर्ड मामले मिले उधर, ग्रीस में कोरोना महामारी की शुरुआत के बाद पहली बार संक्रमण के रिकॉर्ड मामले मिले हैं। यहां बुधवार को 865 मामले मिले और 6 लोगों की मौत हुई। ग्रीक सरकार ने उत्तरी ग्रीस के कस्तोरिया क्षेत्र में लॉकडाउन की घोषणा की। उत्तरी ग्रीस में कोजानी के बाद लॉकडाउन लगाया जाने वाला यह दूसरा शहर है। यहां अब तक 27,334 केस मिले चुके हैं और 534 की मौत हो चुकी है। हाल ही में चुनाव जीतकर प्रधानमंत्री बनीं जेसिंडा आर्डर्न के लिए परेशान करने वाली खबर है। न्यूजीलैंड में 25 नए मामले सामने आए हैं। दूसरी तरफ, अमेरिका में आशंका जताई गई है कि कोरोना से मरने वालों का आंकड़ा दोगुना यानी करीब चार लाख हो सकता है। कोरोना के कहर से जूझते दो देश न्यूजीलैंड में कई हफ्तों बाद इतने मामले न्यूजीलैंड की हेल्थ मिनिस्ट्री ने बुधवार को 25 नए केस मिलने की पुष्टि की। मिनिस्ट्री द्वारा जारी बयान के मुताबिक, कई हफ्तों बाद एक दिन में इतने मामले एक साथ सामने आए हैं। इनमें से दो मामले कम्युनिटी ट्रांसमिशन के हैं। इसके अलावा सभी मामले आईसोलेशन से जुड़े थे। संक्रमित पाए गए लोगों में 18 रूस और यूक्रेन के हैं। ये हाल ही में मछली पालन के सिलसिले में न्यूजीलैंड पहुंचे थे। इन्हें एक होटल में क्वारैंटाइन किया गया था। न्यूजीलैंड के डायरेक्टर जनरल ऑफ हेल्थ एश्ले ब्लूमफील्ड भी पॉजिटिव पाए गए हैं। वे रूस जाने वाले थे, लेकिन अब उन्होंने यात्रा रद्द कर दी है। अमेरिका में फिक्र बढ़ाते आंकड़े सेंटर फॉर डिसीज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन (सीडीसी) की एक रिपोर्ट में कहा गया है कि कोविड-19 से मरने वालों का आंकड़ा जो जारी किया गया है, उससे दोगुना हो सकता है। सीडीसी ने इसे एक्सेस डेथ कैटेगरी में रखा गया है। इसके लिए कोविड के शुरुआती 8 महीनों का डेटा एनालिसिस किया गया है। सीडीसी ने तीन आंकड़ों को मिलाकर यह डेटा तैयार किया है। किसी भी तरह की बीमारी से मौत, अमेरिका में होने वाली औसत मौतें और फिर इनका 2015 से 2019 के दौरान लिए गए डेटा से मिलान। रिपोर्ट में कहा गया है- जनवरी से 3 अक्टूबर तक 2 लाख 99 हजार 28 मौतें ज्यादा हुईं। इनमें 1 लाख 98 हजार 81 मौतें कोविड-19 से होने की आशंका है। ये वो आंकड़ा है, जो वर्तमान में बताए गए आंकड़े से अलग हैं। अमेरिका में करीब एक हफ्ते से हर दिन करीब 50 हजार से ज्यादा नए संक्रमित मिल रहे हैं। हालांकि, इसी दौरान ठीक होने वाले लोगों की संख्या भी बढ़ी है। (फाइल)पैक्ड फूड में वायरस चीन में पैक्ड फ्रोजन फूड के पैकेट पर कोविड-19 वायरस मिला है। इसका मतलब यह हुआ कि कोरोनावायरस कोल्ड सप्लाय चेन्स में जिंदा रह सकता है। चीन के लिए यह खबर फिक्र बढ़ाने वाली है। शनिवार को सेंटर फॉर डिसीज कंट्रोल एंड प्रिवेंशन (सीडीसी) ने एक बयान जारी कर माना कि क्विनदाओ प्रांत के एक स्टोर में फ्रोजन फूड में वायरस पाया गया है। रिसर्चर को शक है कि यह वायरस इस शहर के एक क्लस्टर से वहां तक पहुंचा। इसके पहले भी इस तरह की स्टडी की गई थी। लेकिन, तब वायरस के जिंदा होने के सबूत नहीं मिले थे। आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें

ब्राजील के साओ पाउलो में फूटबॉल मैच से पहले स्टेडियम को डिसइन्फेक्ट करता पीपीई किट पहना स्टाफ।Read More

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *