DGCA ने विंटर सीजन में 12,983 घरेलू उड़ानों की मंजूरी दी, पर यह पिछले साल से 44% कमDainik Bhaskar


डायरेक्टोरेट जनरल ऑफ सिविल एविएशन (DGCA) ने विंटर शेड्यूल के लिए एविएशन कंपनियों को 12,983 वीकली डोमेस्टिक फ्लाइट की मंजूरी दे दी है। यह शेड्यूल 25 अक्टूबर से अगले साल 27 मार्च तक चलेगा। उड़ानों की संख्या पिछले साल के मुकाबले करीब 44% कम है। पिछले साल DGCA ने विंटर सीजन के लिए 23,307 घरेलू उड़ानों की मंजूरी दी थी।

सबसे ज्यादा उड़ानें इंडिगो को मिलीं

DGCA ने रविवार को कहा कि देश की सबसे बड़ी एयरलाइन कंपनी इंडिगो को 6,006 उड़ानों की इजाजत दी गई है। वहीं, स्पाइस जेट को 1,957 और गो एयर को 1,203 फ्लाइट की मंजूरी दी गई है। सरकारी विमान कंपनी एयर इंडिया को 1126 और उसकी रीजनल एयरलाइन अलायंस एयर को 610 फ्लाइट्स की मंजूरी मिली है।

ये उड़ानें देश के 95 एयरपोर्ट से ऑपरेट होंगी। कोरोनावायरस संकट को देखते हुए इस समय देश में एयरलाइंस कंपनियों को मैक्सिमम 60% फ्लाइट्स ऑपरेशन की इजाजत है।

कोरोना के कारण एविएशन सेक्टर को नुकसान

भारत में कोरोना के कारण 2 महीने तक विमान सेवा पर रोक लगा दी गई थी। 25 मई को कुछ तय घरेलू उड़ानों को फिर से शुरू किया गया। उस समय, एयरलाइंस कंपनियों को सिर्फ 33% उड़ानें ऑपरेट करने की इजाजत दी गई थी। इसके बाद धीरे-धीरे यह संख्या लगातार बढ़ाई जा रही है।

आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें


सरकारी विमान कंपनी एयर इंडिया को 1126 और उसकी रीजनल एयरलाइन अलायंस एयर को 610 उड़ानें मिली हैं। -फाइल फोटो

डायरेक्टोरेट जनरल ऑफ सिविल एविएशन (DGCA) ने विंटर शेड्यूल के लिए एविएशन कंपनियों को 12,983 वीकली डोमेस्टिक फ्लाइट की मंजूरी दे दी है। यह शेड्यूल 25 अक्टूबर से अगले साल 27 मार्च तक चलेगा। उड़ानों की संख्या पिछले साल के मुकाबले करीब 44% कम है। पिछले साल DGCA ने विंटर सीजन के लिए 23,307 घरेलू उड़ानों की मंजूरी दी थी। सबसे ज्यादा उड़ानें इंडिगो को मिलीं DGCA ने रविवार को कहा कि देश की सबसे बड़ी एयरलाइन कंपनी इंडिगो को 6,006 उड़ानों की इजाजत दी गई है। वहीं, स्पाइस जेट को 1,957 और गो एयर को 1,203 फ्लाइट की मंजूरी दी गई है। सरकारी विमान कंपनी एयर इंडिया को 1126 और उसकी रीजनल एयरलाइन अलायंस एयर को 610 फ्लाइट्स की मंजूरी मिली है। ये उड़ानें देश के 95 एयरपोर्ट से ऑपरेट होंगी। कोरोनावायरस संकट को देखते हुए इस समय देश में एयरलाइंस कंपनियों को मैक्सिमम 60% फ्लाइट्स ऑपरेशन की इजाजत है। कोरोना के कारण एविएशन सेक्टर को नुकसान भारत में कोरोना के कारण 2 महीने तक विमान सेवा पर रोक लगा दी गई थी। 25 मई को कुछ तय घरेलू उड़ानों को फिर से शुरू किया गया। उस समय, एयरलाइंस कंपनियों को सिर्फ 33% उड़ानें ऑपरेट करने की इजाजत दी गई थी। इसके बाद धीरे-धीरे यह संख्या लगातार बढ़ाई जा रही है। आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें

सरकारी विमान कंपनी एयर इंडिया को 1126 और उसकी रीजनल एयरलाइन अलायंस एयर को 610 उड़ानें मिली हैं। -फाइल फोटोRead More

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *