भाजपा के मेनिफेस्टो में सिंधिया को जगह नहीं; पार्टी का किसानों पर फोकस, फ्री कोरोना वैक्सीन का भी वादाDainik Bhaskar


मध्य प्रदेश में 28 सीटों पर होने जा रहे उपचुनाव से ठीक 5 दिन पहले भाजपा ने अपना मेनिफेस्टो जारी कर दिया। मेनिफेस्टो में ज्योतिरादित्य सिंधिया को जगह नहीं दी गई है। यानी उनकी फोटो गायब है। पार्टी ने मध्य प्रदेश के सभी लोगों को मुफ्त में कोरोना का टीका लगाने का वादा किया है।

दरअसल, मेनिफेस्टो जारी होने से 5 दिन पहले मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने गरीबों को मुफ्त टीका लगाने की घोषणा की थी। तब वह ग्वालियर में भाजपा प्रत्याशी मुन्नालाल गोयल के समर्थन में सभा कर रहे थे। हालांकि, बाद में उन्होंने ट्वीट कर प्रदेश के हर नागरिक को कोरोना का मुफ्त में टीका लगाने की बात कही थी। कुछ देर बाद उन्होंने ट्वीट डिलीट कर दिया था।

मुख्यमंत्री के ट्वीट और फिर इसे डिलीट करने से कोरोना वैक्सीन पर असमंजस की स्थिति बन गई थी। इस ट्विस्ट को खत्म करते हुए पार्टी ने ‘प्रदेश के लिए हमारे संकल्प’ के तहत किए गए वादे में लिखा है- ‘प्रदेश सरकार कोरोना की विषम परिस्थितियों का मुकाबला कर रही है और वह यह वादा करती है कि प्रदेश की जनता को मुफ्त में कोरोना वैक्सीन उपलब्ध कराई जाएगी।’

प्रदेश के किसानों पर फोकस

मेनिफेस्टो में किसानों पर फोकस किया गया है। इसमें किसानों के लिए सरकार की ओर से उठाए गए कदमों और योजनाओं का जिक्र भी किया गया है। इसके अलावा स्थानीय मुद्दों को लेकर अलग से एक कॉलम बनाया गया है, जिसमें विधानसभा स्तर पर विकास के स्थानीय मुद्दों की जानकारी दी गई है। मध्य प्रदेश में 3 नवंबर को वोटिंग होना है।

मेनिफेस्टो पर कांग्रेस ने उठाए सवाल
मेनिफेस्टो में मुफ्त कोरोना वैक्सीन का वादा किए जाने पर कांग्रेस ने भाजपा पर निशाना साधा है। कांग्रेस का आरोप है कि अभी वैक्सीन आई भी नहीं और भाजपा इसे बांटने की बात कर रही है। भाजपा कोरोना जैसी बीमारी का भी राजनीतिक फायदा उठाने की कोशिश कर रही है।

भाजपा के संकल्प पत्र से ज्योतिरादित्य सिंधिया की फोटो गायब है।

मेनिफेस्टो के जवाब में कांग्रेस का आरोप पत्र

कांग्रेस ने भाजपा के मेनिफेस्टो के जवाब में आरोप पत्र जारी किया है। बुधवार को भोपाल में PCC दफ्तर में पार्टी के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष अरुण यादव, अजय सिंह और पूर्व मंत्री सज्जन वर्मा ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की। उन्होंने स्लोगन दिया- ‘शिवराज सरकार आई, नए घोटाले लाई’।

कांग्रेस नेताओं ने कहा- शिवराज सरकार ने 7 महीने में 17 घोटाले किए हैं। इसमें आटा चोरी घोटाला, त्रिकूट चूर्ण घोटाला, शराब MRP घोटाला, तबादला उद्योग घोटाला, शासकीय खरीदी में घोटाला, फर्जी बिजली बिल घोटाला, PPE किट घोटाला, मध्यान्ह भोजन घोटाला, प्रधानमंत्री सम्मान निधि घोटाला, सौभाग्य योजना, चावल घोटाला समेत पुराने घोटालों का जिक्र भी किया है। इसमें डंपर कांड, व्यापमं कांड, होशंगाबाद रेत घोटाला आदि भी शामिल है।

भाजपा के मेनिफेस्टो के प्रमुख बिंदु

  • मेनिफेस्टो में प्रदेश के नागरिकों को मुफ्त कोरोना वैक्सीन देने का वादा किया गया है।
  • फसल बीमा योजना के साल 2018 और 2019 के 31 लाख किसानों के 6675 करोड़ रुपए, जिसका भुगतान कमलनाथ सरकार ने रोक रखा था, उसे शिवराज सिंह ने मुख्यमंत्री बनते ही जारी किया।
  • भाजपा सरकार ने मध्य प्रदेश में किसानों को 0% ब्याज पर ऋण की योजना फिर से शुरू की है।
  • सामाजिक सुरक्षा पेंशन योजनाओं के तहत लगभग 45 लाख हितग्राहियों के खातों में 1988 करोड़ रुपए की पेंशन राशि भेजी।
  • प्रदेश सरकार ने कमलनाथ सरकार में बंद हो गई संबल योजना आते ही शुरू किया है।
  • नई किसान सम्मान निधि में प्रदेश की ओर से 4000 रुपए जोड़कर इसे 10 हजार करने का फैसला शिवराज सरकार ने किया, 77 लाख किसानों को फायदा मिला।
  • मध्य प्रदेश के राशन कार्ड वाले 37 लाख गरीब परिवारों को खाद्यान्न पर्ची देकर नियमित राशन दिया जाना शुरू किया गया है।
  • चंबल के बीहड़ में 6000 करोड़ रुपए की लागत से 310 किलोमीटर लंबे चंबल प्रोग्रेस-वे का निर्माण शुरू कराया।

आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें


मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मलहरा में पूर्व मुख्यमंत्री उमा भारती और गोपाल भार्गव के साथ भाजपा का संकल्प पत्र जारी किया।

मध्य प्रदेश में 28 सीटों पर होने जा रहे उपचुनाव से ठीक 5 दिन पहले भाजपा ने अपना मेनिफेस्टो जारी कर दिया। मेनिफेस्टो में ज्योतिरादित्य सिंधिया को जगह नहीं दी गई है। यानी उनकी फोटो गायब है। पार्टी ने मध्य प्रदेश के सभी लोगों को मुफ्त में कोरोना का टीका लगाने का वादा किया है। दरअसल, मेनिफेस्टो जारी होने से 5 दिन पहले मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने गरीबों को मुफ्त टीका लगाने की घोषणा की थी। तब वह ग्वालियर में भाजपा प्रत्याशी मुन्नालाल गोयल के समर्थन में सभा कर रहे थे। हालांकि, बाद में उन्होंने ट्वीट कर प्रदेश के हर नागरिक को कोरोना का मुफ्त में टीका लगाने की बात कही थी। कुछ देर बाद उन्होंने ट्वीट डिलीट कर दिया था। मुख्यमंत्री के ट्वीट और फिर इसे डिलीट करने से कोरोना वैक्सीन पर असमंजस की स्थिति बन गई थी। इस ट्विस्ट को खत्म करते हुए पार्टी ने ‘प्रदेश के लिए हमारे संकल्प’ के तहत किए गए वादे में लिखा है- ‘प्रदेश सरकार कोरोना की विषम परिस्थितियों का मुकाबला कर रही है और वह यह वादा करती है कि प्रदेश की जनता को मुफ्त में कोरोना वैक्सीन उपलब्ध कराई जाएगी।’ प्रदेश के किसानों पर फोकस मेनिफेस्टो में किसानों पर फोकस किया गया है। इसमें किसानों के लिए सरकार की ओर से उठाए गए कदमों और योजनाओं का जिक्र भी किया गया है। इसके अलावा स्थानीय मुद्दों को लेकर अलग से एक कॉलम बनाया गया है, जिसमें विधानसभा स्तर पर विकास के स्थानीय मुद्दों की जानकारी दी गई है। मध्य प्रदेश में 3 नवंबर को वोटिंग होना है। मेनिफेस्टो पर कांग्रेस ने उठाए सवाल मेनिफेस्टो में मुफ्त कोरोना वैक्सीन का वादा किए जाने पर कांग्रेस ने भाजपा पर निशाना साधा है। कांग्रेस का आरोप है कि अभी वैक्सीन आई भी नहीं और भाजपा इसे बांटने की बात कर रही है। भाजपा कोरोना जैसी बीमारी का भी राजनीतिक फायदा उठाने की कोशिश कर रही है। भाजपा के संकल्प पत्र से ज्योतिरादित्य सिंधिया की फोटो गायब है।मेनिफेस्टो के जवाब में कांग्रेस का आरोप पत्र कांग्रेस ने भाजपा के मेनिफेस्टो के जवाब में आरोप पत्र जारी किया है। बुधवार को भोपाल में PCC दफ्तर में पार्टी के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष अरुण यादव, अजय सिंह और पूर्व मंत्री सज्जन वर्मा ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की। उन्होंने स्लोगन दिया- ‘शिवराज सरकार आई, नए घोटाले लाई’। कांग्रेस नेताओं ने कहा- शिवराज सरकार ने 7 महीने में 17 घोटाले किए हैं। इसमें आटा चोरी घोटाला, त्रिकूट चूर्ण घोटाला, शराब MRP घोटाला, तबादला उद्योग घोटाला, शासकीय खरीदी में घोटाला, फर्जी बिजली बिल घोटाला, PPE किट घोटाला, मध्यान्ह भोजन घोटाला, प्रधानमंत्री सम्मान निधि घोटाला, सौभाग्य योजना, चावल घोटाला समेत पुराने घोटालों का जिक्र भी किया है। इसमें डंपर कांड, व्यापमं कांड, होशंगाबाद रेत घोटाला आदि भी शामिल है। भाजपा के मेनिफेस्टो के प्रमुख बिंदु मेनिफेस्टो में प्रदेश के नागरिकों को मुफ्त कोरोना वैक्सीन देने का वादा किया गया है।फसल बीमा योजना के साल 2018 और 2019 के 31 लाख किसानों के 6675 करोड़ रुपए, जिसका भुगतान कमलनाथ सरकार ने रोक रखा था, उसे शिवराज सिंह ने मुख्यमंत्री बनते ही जारी किया।भाजपा सरकार ने मध्य प्रदेश में किसानों को 0% ब्याज पर ऋण की योजना फिर से शुरू की है।सामाजिक सुरक्षा पेंशन योजनाओं के तहत लगभग 45 लाख हितग्राहियों के खातों में 1988 करोड़ रुपए की पेंशन राशि भेजी।प्रदेश सरकार ने कमलनाथ सरकार में बंद हो गई संबल योजना आते ही शुरू किया है।नई किसान सम्मान निधि में प्रदेश की ओर से 4000 रुपए जोड़कर इसे 10 हजार करने का फैसला शिवराज सरकार ने किया, 77 लाख किसानों को फायदा मिला।मध्य प्रदेश के राशन कार्ड वाले 37 लाख गरीब परिवारों को खाद्यान्न पर्ची देकर नियमित राशन दिया जाना शुरू किया गया है।चंबल के बीहड़ में 6000 करोड़ रुपए की लागत से 310 किलोमीटर लंबे चंबल प्रोग्रेस-वे का निर्माण शुरू कराया। आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मलहरा में पूर्व मुख्यमंत्री उमा भारती और गोपाल भार्गव के साथ भाजपा का संकल्प पत्र जारी किया।Read More

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *