अर्नब गोस्वामी की जमानत अर्जी पर बॉम्बे हाईकोर्ट आज फैसला सुना सकता है, 6 दिन से लॉकअप में हैंDainik Bhaskar


रिपब्लिक TV के एडिटर-इन-चीफ अर्नब गोस्वामी की जमानत पर आज दोपहर 3 बजे फैसला आ सकता है। बॉम्बे हाईकोर्ट ने शनिवार को फैसला रिजर्व रख लिया था। एक डिजायनर और उनकी मां को आत्महत्या के लिए उकसाने के आरोप में मुंबई पुलिस ने पिछले 4 नवंबर को अर्नब को गिरफ्तार किया था।

पुलिस ने कहा- अर्नब ने ज्यूडिशियल कस्टडी में भी फोन यूज किया
रायगढ़ डिस्ट्रिक्ट कोर्ट ने अर्नब को 18 नवंबर तक ज्यूडिशियल कस्टडी में भेज दिया था। इसके बाद उन्हें शनिवार रात तक अलीबाग के एक स्कूल में बने क्वारैंटाइन सेंटर (अस्थाई जेल) में रखा गया। रविवार सुबह तलोजा जेल में शिफ्ट कर दिए गए। पुलिस ने कहा था कि ज्यूडिशियल कस्टडी होने के बावजूद अर्नब मोबाइल फोन यूज कर रहे थे और सोशल मीडिया पर एक्टिव थे।

अर्नब का दावा- पुलिस टॉर्चर कर रही
अर्नब ने तलोजा जेल जाते वक्त कहा था कि उनकी जान को खतरा बताया। उन्हें वकील से बात नहीं करने दी जा रही। हिरासत में उन्हें टॉर्चर किया जा रहा है। इससे पहले शनिवार को अर्नब के वकील ने हाईकोर्ट में सप्लीमेंट्री एप्लिकेशन लगाई थी। इसमें अर्नब ने दावा किया था कि पुलिस ने उन्हें जूते से मारा और पानी तक नहीं पीने दिया।

भाजपा विधायक अर्नब से जेल में मिलेंगे
भाजपा के MLA राम कदम तलोजा ने कहा है कि वे अर्नब से मिलने जाएंगे। किसी में हिम्मत है तो रोक कर दिखाए। इससे पहले पूर्व सांसद किरीट सोमैया भी अर्नब से मिलने के लिए जेल गए थे।

अर्नब पर आरोप- मां-बेटे को आत्महत्या के लिए मजबूर किया
मुंबई में इंटीरियर डिजाइनर अन्वय नाइक और उनकी मां कुमुदिनी ने मई 2018 में आत्महत्या कर ली थी। सुसाइड नोट में अर्नब समेत 3 लोगों पर आरोप लगाए थे। सुसाइड नोट के मुताबिक अर्नब और दूसरे आरोपियों ने नाइक को अलग-अलग प्रोजेक्ट के लिए डिजाइनर रखा था, लेकिन करीब 5.40 करोड़ रुपए का पेमेंट नहीं किया। इससे अन्वय की आर्थिक स्थिति बिगड़ गई और उन्होंने सुसाइड कर लिया। नाइक ने रिपब्लिक टीवी का स्टूडियो तैयार किया था।

आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें


फोटो रविवार की है, जब अर्नब गोस्वामी को तलोजा जेल शिफ्ट किया गया था। एक डिजायनर को सुसाइड के लिए मजबूर करने के आरोप में 4 नवंबर को अर्नब की गिरफ्तारी हुई थी।

रिपब्लिक TV के एडिटर-इन-चीफ अर्नब गोस्वामी की जमानत पर आज दोपहर 3 बजे फैसला आ सकता है। बॉम्बे हाईकोर्ट ने शनिवार को फैसला रिजर्व रख लिया था। एक डिजायनर और उनकी मां को आत्महत्या के लिए उकसाने के आरोप में मुंबई पुलिस ने पिछले 4 नवंबर को अर्नब को गिरफ्तार किया था। पुलिस ने कहा- अर्नब ने ज्यूडिशियल कस्टडी में भी फोन यूज किया रायगढ़ डिस्ट्रिक्ट कोर्ट ने अर्नब को 18 नवंबर तक ज्यूडिशियल कस्टडी में भेज दिया था। इसके बाद उन्हें शनिवार रात तक अलीबाग के एक स्कूल में बने क्वारैंटाइन सेंटर (अस्थाई जेल) में रखा गया। रविवार सुबह तलोजा जेल में शिफ्ट कर दिए गए। पुलिस ने कहा था कि ज्यूडिशियल कस्टडी होने के बावजूद अर्नब मोबाइल फोन यूज कर रहे थे और सोशल मीडिया पर एक्टिव थे। अर्नब का दावा- पुलिस टॉर्चर कर रही अर्नब ने तलोजा जेल जाते वक्त कहा था कि उनकी जान को खतरा बताया। उन्हें वकील से बात नहीं करने दी जा रही। हिरासत में उन्हें टॉर्चर किया जा रहा है। इससे पहले शनिवार को अर्नब के वकील ने हाईकोर्ट में सप्लीमेंट्री एप्लिकेशन लगाई थी। इसमें अर्नब ने दावा किया था कि पुलिस ने उन्हें जूते से मारा और पानी तक नहीं पीने दिया। भाजपा विधायक अर्नब से जेल में मिलेंगे भाजपा के MLA राम कदम तलोजा ने कहा है कि वे अर्नब से मिलने जाएंगे। किसी में हिम्मत है तो रोक कर दिखाए। इससे पहले पूर्व सांसद किरीट सोमैया भी अर्नब से मिलने के लिए जेल गए थे। मैं कल तलोज़ा जेल सुबह 11 am #ArnabGoswamy जी को मिलने जाऊँगा . किसकी हिम्मत है तो रोक कर दिखाए . मैं 130 करोड़ देशवासीयों का नुमाइंदा के रुप में वहाँ जाऊँगा . @AnilDeshmukhNCP @OfficeofUT ——#EmergencyInMaharashtra — Ram Kadam – राम कदम (@ramkadam) November 8, 2020अर्नब पर आरोप- मां-बेटे को आत्महत्या के लिए मजबूर किया मुंबई में इंटीरियर डिजाइनर अन्वय नाइक और उनकी मां कुमुदिनी ने मई 2018 में आत्महत्या कर ली थी। सुसाइड नोट में अर्नब समेत 3 लोगों पर आरोप लगाए थे। सुसाइड नोट के मुताबिक अर्नब और दूसरे आरोपियों ने नाइक को अलग-अलग प्रोजेक्ट के लिए डिजाइनर रखा था, लेकिन करीब 5.40 करोड़ रुपए का पेमेंट नहीं किया। इससे अन्वय की आर्थिक स्थिति बिगड़ गई और उन्होंने सुसाइड कर लिया। नाइक ने रिपब्लिक टीवी का स्टूडियो तैयार किया था। आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें

फोटो रविवार की है, जब अर्नब गोस्वामी को तलोजा जेल शिफ्ट किया गया था। एक डिजायनर को सुसाइड के लिए मजबूर करने के आरोप में 4 नवंबर को अर्नब की गिरफ्तारी हुई थी।Read More

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *