फतेहपुर में दलित बहनों का शव तालाब में मिला; एक-एक आंख फूटी मिली, एक का कान भी काटा गयाDainik Bhaskar


उत्तर प्रदेश के फतेहपुर में डबल मर्डर का मामला सामने आया है। यहां दलित दो सगी बहनों (12 साल और 8 साल) का शव सोमवार रात गांव के बाहर तालाब में मिला। पुलिस ने घटनास्थल पर पहुंचकर दोनों शवों को तालाब से बाहर निकलवाया। परिजन के मुताबिक, ‘दोनों बहनों के हाथ पुआल से बंधे थे। सिर और कान पर किसी धारदार हथियार से चोट के निशान थे। दोनों बच्चियों की एक-एक आंख भी फोड़ दी गई थी।’ परिजन ने दुष्कर्म के बाद हत्या की आशंका जताई है। उधर, पुलिस बच्चियों की मौत का कारण डूबने को बता रही है। पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट का इंतजार है।

गांववालों से पूछताछ करती पुलिस।

रेप की जताई आशंका तो भड़की पुलिस, चाचा को हिरासत में लिया
घटना असोथर थाना इलाके की है। SP प्रशांत वर्मा समेत कई थानों की पुलिस दल-बल के साथ घटनास्थल पर पहुंची। मौके पर मौजूद लड़कियों के चाचा ने शव देखने के बाद रेप के बाद हत्या की आशंका जताई तो पुलिस उन पर भड़क गई। उनकी बातों का दबाने का प्रयास किया। जब चाचा नहीं माने तो पुलिस उसे हिरासत में लेकर थाने लेकर चली गई। इसके बाद परिवारवालों ने पुलिस की कार्रवाई का विरोध किया तो पूरा गांव पुलिस छावनी में तब्दील कर दिया गया।

परिजन के मुताबिक, सोमवार शाम दोनों बहनें चने का साग लेने के लिए खेतों की तरफ गई थीं। जब वह देर शाम तक घर वापस नहीं लौटीं तो खोजबीन की। देर रात दोनों का शव तालाब में मिला। मां ने आशंका जताई- एक बेटी से दुष्कर्म किया गया होगा। जब दूसरी बेटी ने विरोध किया होगा तो दोनों की आंखें फोड़कर हत्या कर शव को तालाब में फेंक दिया गया।

पुलिस का दावा- पानी में डूबने से मौत
प्रयागराज रेंज के आईजी कवींद्र प्रताप सिंह ने पुलिस बल के साथ घटनास्थल का निरीक्षण किया है। उन्होंने पुलिस अधीक्षक को सभी पहलुओं की बारीकी से जांच के आदेश दिए हैं। SP प्रशांत वर्मा ने बताया कि असोथर थाना क्षेत्र में छिछनी गांव के तालाब में दो नाबालिग बच्चियों की लाश मिली। गांववालों के मुताबिक, दोनों बच्चियां तालाब में सिंघाड़ा तोड़ने आई थीं, जहां गहरे पानी में डूबने से दोनों की मौत हो गई।

आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें


फतेहपुर के तालाब में दोनों बच्चियों के हाथ बंधे शव मिले, पर पुलिस बच्चियों की मौत की वजह तालाब में डूबना बता रही है।

उत्तर प्रदेश के फतेहपुर में डबल मर्डर का मामला सामने आया है। यहां दलित दो सगी बहनों (12 साल और 8 साल) का शव सोमवार रात गांव के बाहर तालाब में मिला। पुलिस ने घटनास्थल पर पहुंचकर दोनों शवों को तालाब से बाहर निकलवाया। परिजन के मुताबिक, ‘दोनों बहनों के हाथ पुआल से बंधे थे। सिर और कान पर किसी धारदार हथियार से चोट के निशान थे। दोनों बच्चियों की एक-एक आंख भी फोड़ दी गई थी।’ परिजन ने दुष्कर्म के बाद हत्या की आशंका जताई है। उधर, पुलिस बच्चियों की मौत का कारण डूबने को बता रही है। पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट का इंतजार है। गांववालों से पूछताछ करती पुलिस।रेप की जताई आशंका तो भड़की पुलिस, चाचा को हिरासत में लिया घटना असोथर थाना इलाके की है। SP प्रशांत वर्मा समेत कई थानों की पुलिस दल-बल के साथ घटनास्थल पर पहुंची। मौके पर मौजूद लड़कियों के चाचा ने शव देखने के बाद रेप के बाद हत्या की आशंका जताई तो पुलिस उन पर भड़क गई। उनकी बातों का दबाने का प्रयास किया। जब चाचा नहीं माने तो पुलिस उसे हिरासत में लेकर थाने लेकर चली गई। इसके बाद परिवारवालों ने पुलिस की कार्रवाई का विरोध किया तो पूरा गांव पुलिस छावनी में तब्दील कर दिया गया। परिजन के मुताबिक, सोमवार शाम दोनों बहनें चने का साग लेने के लिए खेतों की तरफ गई थीं। जब वह देर शाम तक घर वापस नहीं लौटीं तो खोजबीन की। देर रात दोनों का शव तालाब में मिला। मां ने आशंका जताई- एक बेटी से दुष्कर्म किया गया होगा। जब दूसरी बेटी ने विरोध किया होगा तो दोनों की आंखें फोड़कर हत्या कर शव को तालाब में फेंक दिया गया। पुलिस का दावा- पानी में डूबने से मौत प्रयागराज रेंज के आईजी कवींद्र प्रताप सिंह ने पुलिस बल के साथ घटनास्थल का निरीक्षण किया है। उन्होंने पुलिस अधीक्षक को सभी पहलुओं की बारीकी से जांच के आदेश दिए हैं। SP प्रशांत वर्मा ने बताया कि असोथर थाना क्षेत्र में छिछनी गांव के तालाब में दो नाबालिग बच्चियों की लाश मिली। गांववालों के मुताबिक, दोनों बच्चियां तालाब में सिंघाड़ा तोड़ने आई थीं, जहां गहरे पानी में डूबने से दोनों की मौत हो गई। आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें

फतेहपुर के तालाब में दोनों बच्चियों के हाथ बंधे शव मिले, पर पुलिस बच्चियों की मौत की वजह तालाब में डूबना बता रही है।Read More

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *