जोधपुर में 12 वर्षीय छाेटे भाई ने मोबाइल में नेट खत्म कर दिया, नाराज बड़े भाई ने चाकू घोंपकर मार डालाDainik Bhaskar


राजस्थान के जोधपुर में एक दिल दहला देने वाली घटना सामने आई है। 12 साल के एक बच्चे ने अपने बड़े भाई के मोबाइल का नेट खत्म कर दिया। नाराज बड़े भाई ने छोटे की चाकू घोंपकर हत्या कर दी। इसके बाद आरोपी छोटे भाई को खून से लथपथ छोड़कर घर से भाग गया। हालांकि पुलिस ने आरोपी भाई को गिरफ्तार कर लिया है।

घटना बुधवार शाम की है। रॉय को उसके बड़े भाई रमन (23) ने घर की छत पर ले जाकर चाकू से 4 वार किए। रॉय को खून में सना देख उसकी मां और बहनें कांप गईं। आनन-फानन में रॉय को अस्पताल ले जाया गया, जहां डॉक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया। आरोपी रमन परिवार का भरण-पोषण करने वाला था। वह टेनिस की कोचिंग देकर घर चलाता था।

मृतक रॉय।

5 भाई-बहनों में सबसे छोटा था रमन
कार्यवाहक थाना प्रभारी बुधाराम ने बताया कि पावटा बी रोड स्थित वीर दुर्गादास कॉलोनी में कैलाशदान चारण किराए पर पत्नी और पांच बच्चों के साथ रहते हैं। 23 साल पहले उन्होंने जापानी महिला से शादी की थी। उनके 3 बेटियां और दो बेटे थे। रॉय 5 भाई-बहनों में सबसे छोटा था। पुलिस के मुताबिक, आरोपी रमन का मानसिक संतुलन ठीक नहीं है। पिता यानी कैलाशदान की भी मानसिक स्थिति ठीक नहीं है।

रमन ने हत्या की, आराम से घर से निकला
रॉय को चाकू मारने के बाद रमन घर से बाहर निकल गया। घटना की जानकारी मिलते ही पुलिस तुरंत हरकत में आई और रमन की तलाश की। वह रेलवे स्टेशन पर घूमता मिल गया। पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया। रॉय का शव पोस्टमॉर्टम कराकर परिजन को दे दिया गया है।

आरोपी रमन फिलहाल पुलिस की गिरफ्त में है।

आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें


राॅय काे ढूंढते मां-बहनें छत पर पहुंचीं, ताे खून से सना शव देख कांप उठी।

राजस्थान के जोधपुर में एक दिल दहला देने वाली घटना सामने आई है। 12 साल के एक बच्चे ने अपने बड़े भाई के मोबाइल का नेट खत्म कर दिया। नाराज बड़े भाई ने छोटे की चाकू घोंपकर हत्या कर दी। इसके बाद आरोपी छोटे भाई को खून से लथपथ छोड़कर घर से भाग गया। हालांकि पुलिस ने आरोपी भाई को गिरफ्तार कर लिया है। घटना बुधवार शाम की है। रॉय को उसके बड़े भाई रमन (23) ने घर की छत पर ले जाकर चाकू से 4 वार किए। रॉय को खून में सना देख उसकी मां और बहनें कांप गईं। आनन-फानन में रॉय को अस्पताल ले जाया गया, जहां डॉक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया। आरोपी रमन परिवार का भरण-पोषण करने वाला था। वह टेनिस की कोचिंग देकर घर चलाता था। मृतक रॉय।5 भाई-बहनों में सबसे छोटा था रमन कार्यवाहक थाना प्रभारी बुधाराम ने बताया कि पावटा बी रोड स्थित वीर दुर्गादास कॉलोनी में कैलाशदान चारण किराए पर पत्नी और पांच बच्चों के साथ रहते हैं। 23 साल पहले उन्होंने जापानी महिला से शादी की थी। उनके 3 बेटियां और दो बेटे थे। रॉय 5 भाई-बहनों में सबसे छोटा था। पुलिस के मुताबिक, आरोपी रमन का मानसिक संतुलन ठीक नहीं है। पिता यानी कैलाशदान की भी मानसिक स्थिति ठीक नहीं है। रमन ने हत्या की, आराम से घर से निकला रॉय को चाकू मारने के बाद रमन घर से बाहर निकल गया। घटना की जानकारी मिलते ही पुलिस तुरंत हरकत में आई और रमन की तलाश की। वह रेलवे स्टेशन पर घूमता मिल गया। पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया। रॉय का शव पोस्टमॉर्टम कराकर परिजन को दे दिया गया है। आरोपी रमन फिलहाल पुलिस की गिरफ्त में है।आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें

राॅय काे ढूंढते मां-बहनें छत पर पहुंचीं, ताे खून से सना शव देख कांप उठी।Read More

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *