पढ़िए, मैगजीन अहा! जिंदगी की चुनिंदा स्टोरीज सिर्फ एक क्लिक परDainik Bhaskar


1. आज भारत दुनिया का सबसे बड़ा दुग्ध उत्पादक देश है, तो इसमें वर्गीज कुरियन और उनकी श्वेत क्रांति का केंद्रीय योगदान है। इस लेख में पढ़ें, डॉ. वर्गीज कुरियन के जीवन के बारे में, किस तरह उन्होंने देश को बनाया दुनिया का सबसे बड़ा दुग्ध उत्पादक…

देश को दुनिया का सबसे बड़ा दुग्ध उत्पादक बनाने वाले किसान सेवक ‘डॉ. वर्गीज़ कुरियन’

2. उर्दू के महान उपन्यासकार और पटकथा लेखक राजिंदर सिंह बेदी का 6 जुलाई 1984 को ऑल इंडिया रेडियो बम्बई में हुआ इंटरव्यू, उनके जीवन का आखिरी इंटरव्यू साबित हुआ। इंटरव्यू में बेदी के साथ हुई बातचीत पढ़ें इस लेख में…

उर्दू के महान उपन्यासकार और पटकथा लेखक राजिंदर सिंह बेदी के जीवन का आखिरी इंटरव्यू

3. ‘वर्तिका नंदा’ पत्रकारिता जगत की वो महिला जिन्होंने नौ साल की उम्र में ही दूरदर्शन के कार्यक्रम से प्रतिष्ठा हासिल की। जेल सुधारक से लेकर महिला सशक्तिकरण की दिशा में देश का सबसे बड़ा नागरिक सम्मान पाया। वर्तिका नंदा के जीवन के कुछ खास पहलू जानें इस लेख में…

उम्मीदों के झरोखे हरे कर रहे जिंदगी के सूखे फूल

4. नदियां, पहाड़, शांत झीलें और लहराता समंदर दे कर कुदरत ने न्यूजीलैंड को अनोखे रंगों से सजा दिया है। न्यूजीलैंड में प्रकृति और इंसान की जुगलबंदी का कमाल पढ़ें इस लेख में….

इन खूबसूरत मनमोहक तस्वीरों को देख लगता है, क़ुदरत ने न्यूजीलैंड को फुरसत से गढ़ा है

5. दिनभर के कामों से फुर्सत होने के बाद जब रात में मकान की छत पर टहलते-टहलते तारों को टकटकी बांधकर निहारते थे, तब मानो दिन की सारी थकान उतर जाती थी। इस लेख में पढ़ें, तारे और तारामंडल के बारे में विस्तार से…

रात की चादर में मोतियों से चिपके तारों को निहारती आंखें

6. क्या हम ब्रह्मांड में सचमुच अकेले हैं? क्या कहना है इस पर अंतरिक्ष विज्ञान के वैज्ञानिकों का? जानने के लिए पढ़ें ये लेख…

सितारों से आगे जहां और भी हैं

7. जम्मू-कश्मीर के किसान-वैज्ञानिक मोहम्मद ‘मकबूल रैना’ का कहना है कि गन से नहीं हल से ही मिलेगी आतंकवाद से मुक्ति। मकबूल ने मछलियों का आकार बढ़ाने के लिए एक सस्ता भी तलाशा है। जानें क्या है वो रास्ता इस लेख में…

इस तरह बढ़ाएं मछलियों की पैदावार और आकार को

8. दुनिया की ऐसी अजीबो-गरीब वसीयतें, जिनकी वसीयत से आस लगाए बैठे व्यक्ति भौंचक रह गए। अहा! जिंदगी के पाठकों के लिए डॉ. शशि गोयल लेकर आई हैं कुछ ऐसी ही वसीयतों के किस्से…

दुनिया की ऐसी अजीबो-ग़रीब वसीयतें, जिन्हें जान कर आप भी रह जाएंगे दंग

9. “अहा! जिंदगी” में “दिमाग की बत्ती” स्तम्भ शुरू किया गया है। इसमें प्रस्तुत सामग्री पाठकों की सहज-बुद्धि को चुनौती देकर उन्हें इन गुत्थियों को सुलझाने के लिए प्रेरित करेगी।

पाठकों की सहज-बुद्धि को चुनौती

आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें


Read the magazine Aha! Selective Stories of Life with Just One Click 27 november 2020

1. आज भारत दुनिया का सबसे बड़ा दुग्ध उत्पादक देश है, तो इसमें वर्गीज कुरियन और उनकी श्वेत क्रांति का केंद्रीय योगदान है। इस लेख में पढ़ें, डॉ. वर्गीज कुरियन के जीवन के बारे में, किस तरह उन्होंने देश को बनाया दुनिया का सबसे बड़ा दुग्ध उत्पादक… देश को दुनिया का सबसे बड़ा दुग्ध उत्पादक बनाने वाले किसान सेवक ‘डॉ. वर्गीज़ कुरियन’ 2. उर्दू के महान उपन्यासकार और पटकथा लेखक राजिंदर सिंह बेदी का 6 जुलाई 1984 को ऑल इंडिया रेडियो बम्बई में हुआ इंटरव्यू, उनके जीवन का आखिरी इंटरव्यू साबित हुआ। इंटरव्यू में बेदी के साथ हुई बातचीत पढ़ें इस लेख में… उर्दू के महान उपन्यासकार और पटकथा लेखक राजिंदर सिंह बेदी के जीवन का आखिरी इंटरव्यू 3. ‘वर्तिका नंदा’ पत्रकारिता जगत की वो महिला जिन्होंने नौ साल की उम्र में ही दूरदर्शन के कार्यक्रम से प्रतिष्ठा हासिल की। जेल सुधारक से लेकर महिला सशक्तिकरण की दिशा में देश का सबसे बड़ा नागरिक सम्मान पाया। वर्तिका नंदा के जीवन के कुछ खास पहलू जानें इस लेख में… उम्मीदों के झरोखे हरे कर रहे जिंदगी के सूखे फूल 4. नदियां, पहाड़, शांत झीलें और लहराता समंदर दे कर कुदरत ने न्यूजीलैंड को अनोखे रंगों से सजा दिया है। न्यूजीलैंड में प्रकृति और इंसान की जुगलबंदी का कमाल पढ़ें इस लेख में…. इन खूबसूरत मनमोहक तस्वीरों को देख लगता है, क़ुदरत ने न्यूजीलैंड को फुरसत से गढ़ा है 5. दिनभर के कामों से फुर्सत होने के बाद जब रात में मकान की छत पर टहलते-टहलते तारों को टकटकी बांधकर निहारते थे, तब मानो दिन की सारी थकान उतर जाती थी। इस लेख में पढ़ें, तारे और तारामंडल के बारे में विस्तार से… रात की चादर में मोतियों से चिपके तारों को निहारती आंखें 6. क्या हम ब्रह्मांड में सचमुच अकेले हैं? क्या कहना है इस पर अंतरिक्ष विज्ञान के वैज्ञानिकों का? जानने के लिए पढ़ें ये लेख… सितारों से आगे जहां और भी हैं 7. जम्मू-कश्मीर के किसान-वैज्ञानिक मोहम्मद ‘मकबूल रैना’ का कहना है कि गन से नहीं हल से ही मिलेगी आतंकवाद से मुक्ति। मकबूल ने मछलियों का आकार बढ़ाने के लिए एक सस्ता भी तलाशा है। जानें क्या है वो रास्ता इस लेख में… इस तरह बढ़ाएं मछलियों की पैदावार और आकार को 8. दुनिया की ऐसी अजीबो-गरीब वसीयतें, जिनकी वसीयत से आस लगाए बैठे व्यक्ति भौंचक रह गए। अहा! जिंदगी के पाठकों के लिए डॉ. शशि गोयल लेकर आई हैं कुछ ऐसी ही वसीयतों के किस्से… दुनिया की ऐसी अजीबो-ग़रीब वसीयतें, जिन्हें जान कर आप भी रह जाएंगे दंग 9. “अहा! जिंदगी” में “दिमाग की बत्ती” स्तम्भ शुरू किया गया है। इसमें प्रस्तुत सामग्री पाठकों की सहज-बुद्धि को चुनौती देकर उन्हें इन गुत्थियों को सुलझाने के लिए प्रेरित करेगी। पाठकों की सहज-बुद्धि को चुनौती आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें

Read the magazine Aha! Selective Stories of Life with Just One Click 27 november 2020Read More

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *