2021 में GDP में 7.5% की गिरावट के आसार; यह दर 2% घटने से सेंसेक्स पहली बार 45 हजार पारDainik Bhaskar


भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने शुक्रवार को सकल घरेलू उत्पाद को लेकर बड़ा ऐलान किया। गवर्नर शक्तिकांत दास ने कहा कि 2020-21 में GDP का अनुमान बदल दिया गया है। अब इसमें 7.5% की गिरावट के आसार हैं। अक्टूबर में GDP में 9.5% की गिरावट का अनुमान जताया गया था। यानी दो महीने में गिरावट के अनुमान में 2% की कमी की गई है। दास ने अपनी बात रखते हुए दार्शनिक सुकरात को कोट किया कि हम या तो बिगड़ सकते हैं या बेहतर हो सकते हैं।

दास ने इस कैलेंडर इयर की अंतिम मॉनिटरी पॉलिसी को पेश करते समय यह भी कहा कि कमर्शियल और सहकारी बैंक इस साल (वित्त वर्ष 2020-21 से संबंधित) कोई लाभांश (डिविडेंड) नहीं देंगे। सभी मुनाफे को अपने पास रखेंगे। नीतिगत दरों में कोई बदलाव नहीं किया गया है। सभी दरें अपरिवर्तित हैं।

RBI गवर्नर की 3 प्रमुख बातें

1. सप्लाई साइड महंगाई के दबाव को कंट्रोल करेंगे
सप्लाई साइड, जो महंगाई का दबाव है, उसे नियंत्रण में लाने के लिए ज्यादा प्रयास किए जाने की जरूरत है। कॉर्पोरेट आय से पता चलता है कि डिमांड सुधर रही है और प्रॉफिट के आंकड़े बढ़ रहे हैं। शहरी मांग में और वृद्धि के मद्देनजर ग्रामीण मांग में रिकवरी और ज्यादा होने की संभावना है। वित्तीय क्षेत्र की स्थिरता बनाए रखने के लिए जरूरी कदम उठाए जाएंगे।

2. डिजिटल पेंमेट सिक्योरिटी कंट्रोल पर निर्देश
जो संस्थाएं रेग्युलेशन के दायरे में हैं, उनके लिए RBI ने डिजिटल पेमेंट सिक्योरिटी कंट्रोल के निर्देश जारी करने का प्रस्ताव रखा है। गुरुवार को ही देश के दो सबसे बड़े बैंक SBI और HDFC बैंक की डिजिटल सेवा की दिक्कतें सामने आई थी। HDFC बैंक को कोई भी नई डिजिटल सेवा लॉन्च करने पर रोक लगा दी गई है। वहीं, SBI की YONO डिजिटल सर्विस कल ठप हो गई थी।

3. शिकायतों को निपटाने में देरी पर ग्राहकों को मुआवजा
ग्राहकों की शिकायतों के बेहतर डिस्क्लोजर, समाधान में किसी भी प्रकार की देरी के लिए मौद्रिक मुआवजे (monetary compensation) के लिए एक विस्तृत व्यवस्था की भी घोषणा की गई है। प्रस्तावित डिजिटल भुगतान सुरक्षा नियंत्रण के लिए दिशा-निर्देशों को शीघ्र ही सार्वजनिक किए जाने की संभावना है। कुछ जगह कोरोना संक्रमण में वृद्धि हो रही है, लेकिन सकारात्मक आर्थिक स्थितियां उन पर हावी हैं।

आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें


RBI Governor Shaktikanta Das Update; Commercial And Co-operative Banks Will Not Pay Dividend

भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने शुक्रवार को सकल घरेलू उत्पाद को लेकर बड़ा ऐलान किया। गवर्नर शक्तिकांत दास ने कहा कि 2020-21 में GDP का अनुमान बदल दिया गया है। अब इसमें 7.5% की गिरावट के आसार हैं। अक्टूबर में GDP में 9.5% की गिरावट का अनुमान जताया गया था। यानी दो महीने में गिरावट के अनुमान में 2% की कमी की गई है। दास ने अपनी बात रखते हुए दार्शनिक सुकरात को कोट किया कि हम या तो बिगड़ सकते हैं या बेहतर हो सकते हैं। दास ने इस कैलेंडर इयर की अंतिम मॉनिटरी पॉलिसी को पेश करते समय यह भी कहा कि कमर्शियल और सहकारी बैंक इस साल (वित्त वर्ष 2020-21 से संबंधित) कोई लाभांश (डिविडेंड) नहीं देंगे। सभी मुनाफे को अपने पास रखेंगे। नीतिगत दरों में कोई बदलाव नहीं किया गया है। सभी दरें अपरिवर्तित हैं। RBI गवर्नर की 3 प्रमुख बातें 1. सप्लाई साइड महंगाई के दबाव को कंट्रोल करेंगे सप्लाई साइड, जो महंगाई का दबाव है, उसे नियंत्रण में लाने के लिए ज्यादा प्रयास किए जाने की जरूरत है। कॉर्पोरेट आय से पता चलता है कि डिमांड सुधर रही है और प्रॉफिट के आंकड़े बढ़ रहे हैं। शहरी मांग में और वृद्धि के मद्देनजर ग्रामीण मांग में रिकवरी और ज्यादा होने की संभावना है। वित्तीय क्षेत्र की स्थिरता बनाए रखने के लिए जरूरी कदम उठाए जाएंगे। 2. डिजिटल पेंमेट सिक्योरिटी कंट्रोल पर निर्देश जो संस्थाएं रेग्युलेशन के दायरे में हैं, उनके लिए RBI ने डिजिटल पेमेंट सिक्योरिटी कंट्रोल के निर्देश जारी करने का प्रस्ताव रखा है। गुरुवार को ही देश के दो सबसे बड़े बैंक SBI और HDFC बैंक की डिजिटल सेवा की दिक्कतें सामने आई थी। HDFC बैंक को कोई भी नई डिजिटल सेवा लॉन्च करने पर रोक लगा दी गई है। वहीं, SBI की YONO डिजिटल सर्विस कल ठप हो गई थी। 3. शिकायतों को निपटाने में देरी पर ग्राहकों को मुआवजा ग्राहकों की शिकायतों के बेहतर डिस्क्लोजर, समाधान में किसी भी प्रकार की देरी के लिए मौद्रिक मुआवजे (monetary compensation) के लिए एक विस्तृत व्यवस्था की भी घोषणा की गई है। प्रस्तावित डिजिटल भुगतान सुरक्षा नियंत्रण के लिए दिशा-निर्देशों को शीघ्र ही सार्वजनिक किए जाने की संभावना है। कुछ जगह कोरोना संक्रमण में वृद्धि हो रही है, लेकिन सकारात्मक आर्थिक स्थितियां उन पर हावी हैं। आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें

RBI Governor Shaktikanta Das Update; Commercial And Co-operative Banks Will Not Pay DividendRead More

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *