प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनिया बोले- गहलोत सरकार के खिलाफ राज्य में सत्ता विरोधी लहर, सरकार पूरी तरह विफलDainik Bhaskar


राजस्थान में भाजपा प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनिया ने अशोक गहलोत सरकार के खिलाफ तीखा हमला किया। पूनिया ने कहा कि प्रदेश में गांवों से लेकर शहरों तक कांग्रेस सरकार के खिलाफ सत्ता विरोधी लहर है। आमजन में आक्रोश है। बिजली, पानी, सड़क, कानून व्यवस्था, किसान कर्जमाफी, अपराध समेत विभिन्न मुद्दों पर सरकार पूरी तरह विफल हो चुकी है।

प्रदेशाध्यक्ष पूनिया ने रविवार को वर्चुअल माध्यम से निकाय चुनाव को लेकर कांग्रेस सरकार के खिलाफ ब्लैक पेपर जारी किया। इसमें उन्होंने कांग्रेस सरकार की विफलताओं को उजागर किया। पूनिया ने कहा कि दो साल में गहलोत सरकार द्वारा शहरी निकायों में पक्षपातपूर्ण रवैये से विकास कार्यों को रोका गया। यह ब्लैक पेपर उस पर सवाल खड़े करता है।

जनता की मांग पर गहलोत सरकार मौन
पूनिया ने कहा कि कोरोना काल में तीन महीने के बिजली बिल की माफी को लेकर प्रदेश का आमजन मांग कर रहा है, लेकिन मुख्यमंत्री गहलोत आंखों पर पट्टी बांधे हुए हैं। शहरों में सफाई, रोशनी, सीवरेज के कार्य ठप पड़े हैं।

17 दिसम्बर को राज्य सरकार के दो साल पूरे होंगे। इस सरकार के दो साल के रिपोर्ट कार्ड में अराजकता, अकर्मण्यता और भ्रष्टाचार हावी है।

आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें


राजस्थान में अशोक गहलोत सरकार पर भाजपा के प्रदेशध्यक्ष डॉ. सतीश पूनिया ने पक्षपातपूर्ण रवैये से विकास कार्यों को रोकने का आरोप लगाया है।

राजस्थान में भाजपा प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनिया ने अशोक गहलोत सरकार के खिलाफ तीखा हमला किया। पूनिया ने कहा कि प्रदेश में गांवों से लेकर शहरों तक कांग्रेस सरकार के खिलाफ सत्ता विरोधी लहर है। आमजन में आक्रोश है। बिजली, पानी, सड़क, कानून व्यवस्था, किसान कर्जमाफी, अपराध समेत विभिन्न मुद्दों पर सरकार पूरी तरह विफल हो चुकी है। प्रदेशाध्यक्ष पूनिया ने रविवार को वर्चुअल माध्यम से निकाय चुनाव को लेकर कांग्रेस सरकार के खिलाफ ब्लैक पेपर जारी किया। इसमें उन्होंने कांग्रेस सरकार की विफलताओं को उजागर किया। पूनिया ने कहा कि दो साल में गहलोत सरकार द्वारा शहरी निकायों में पक्षपातपूर्ण रवैये से विकास कार्यों को रोका गया। यह ब्लैक पेपर उस पर सवाल खड़े करता है। जनता की मांग पर गहलोत सरकार मौन पूनिया ने कहा कि कोरोना काल में तीन महीने के बिजली बिल की माफी को लेकर प्रदेश का आमजन मांग कर रहा है, लेकिन मुख्यमंत्री गहलोत आंखों पर पट्टी बांधे हुए हैं। शहरों में सफाई, रोशनी, सीवरेज के कार्य ठप पड़े हैं। 17 दिसम्बर को राज्य सरकार के दो साल पूरे होंगे। इस सरकार के दो साल के रिपोर्ट कार्ड में अराजकता, अकर्मण्यता और भ्रष्टाचार हावी है। आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें

राजस्थान में अशोक गहलोत सरकार पर भाजपा के प्रदेशध्यक्ष डॉ. सतीश पूनिया ने पक्षपातपूर्ण रवैये से विकास कार्यों को रोकने का आरोप लगाया है।Read More

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *