हिज्बुल से जुड़े 3 कश्मीरी और पंजाब के शौर्य चक्र विजेता बलविंदर की हत्या के 2 आरोपी पकड़े गएDainik Bhaskar


दिल्ली पुलिस ने आतंकी संगठनों से जुड़े 5 लोगों को किया है। इनमें 2 पंजाब के और 3 कश्मीर के हैं। इनके नाम शब्बीर अहम, अयूब पठान, रियाज राठर, गुरजीत सिंह और सुखदीप सिंह हैं। शकरपुर इलाके में इन्हें एनकाउंटर के बाद पकड़ लिया। गुरजीत और सुखदीप गैंगस्टर हैं और पंजाब के शौर्य चक्र विजेता एक्टिविस्ट बलविंदर की हत्या में शामिल थे। बाकी तीनों हिज्बुल मुजाहिदीन से जुड़े हैं।

3 पिस्टल, 2 किलो हेरोइन और एक लाख कैश मिला
ये सभी ISI के नार्को टेररिज्म नेटवर्क से भी जुड़े हैं। इनके पास 3 पिस्टल, 2 किलो हेरोइन और एक लाख रुपए कैश मिले हैं। दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल के DCP प्रमोद कुशवाहा ने बताया कि आतंकी टार्गेट किलिंग के लिए गैंगस्टर्स का इस्तेमाल कर रहे हैं। सांप्रदायिक माहौल बिगाड़ने और आतंक के खिलाफ लड़ने वालों का हौसला तोड़ने के लिए ऐसा किया जा रहा है। ISI, खालिस्तान मूवमेंट को कश्मीर के आतंकवाद से जोड़ने की कोशिश कर रहा है।

पांचों जम्मू-कश्मीर के नंबर वाली सफेद रंग की कार में सवार थे। पुलिस ने रोकने की कोशिश की तो, इन्होंने फायरिंग शुरू कर दी। जिस गाड़ी में ये संदिग्ध सवार थे, उसका नंबर JK 04B 8173 है।

आतंकियों ने 17 अक्टूबर को एक्टिविस्ट बलविंदर की हत्या कर दी थी। बलविंदर सिंह ने पंजाब में खालिस्तानी आतंकवाद के दौर में बहादुरी से आतंकियों का मुकाबला किया था। उन पर 42 बार हमले हुए थे। इसके चलते उन्हें परिवार समेत शौर्य चक्र से सम्मानित किया गया था।

42 आतंकी हमले झेल चुके बलविंदर सिंह को घर में घुसकर गोलियां मारी गईं

पिछले महीने जैश के संदिग्ध आतंकी पकड़े गए थे
शकरपुर पूर्वी दिल्ली का इलाका है। यह लक्ष्मी नगर और मयूर विहार के बीच आता है। शकरपुर में की गई कार्रवाई के साथ ही पुलिस ने पूरे शहर में सुरक्षा बढ़ा दी है। इससे पहले नवंबर में भी दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने जैश-ए-मोहम्मद के 2 संदिग्ध आतंकियों को सराय काले खां के पास से पकड़ा था।

आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें


पुलिस ने बताया कि पकड़े गए पांचों लोग ISI के नार्को टेररिज्म नेटवर्क से भी जुड़े हैं। आतंकी संगठन टारगेट किलिंग के लिए गैंगस्टर का भी इस्तेमाल कर रहे हैं।

दिल्ली पुलिस ने आतंकी संगठनों से जुड़े 5 लोगों को किया है। इनमें 2 पंजाब के और 3 कश्मीर के हैं। इनके नाम शब्बीर अहम, अयूब पठान, रियाज राठर, गुरजीत सिंह और सुखदीप सिंह हैं। शकरपुर इलाके में इन्हें एनकाउंटर के बाद पकड़ लिया। गुरजीत और सुखदीप गैंगस्टर हैं और पंजाब के शौर्य चक्र विजेता एक्टिविस्ट बलविंदर की हत्या में शामिल थे। बाकी तीनों हिज्बुल मुजाहिदीन से जुड़े हैं। 3 पिस्टल, 2 किलो हेरोइन और एक लाख कैश मिला ये सभी ISI के नार्को टेररिज्म नेटवर्क से भी जुड़े हैं। इनके पास 3 पिस्टल, 2 किलो हेरोइन और एक लाख रुपए कैश मिले हैं। दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल के DCP प्रमोद कुशवाहा ने बताया कि आतंकी टार्गेट किलिंग के लिए गैंगस्टर्स का इस्तेमाल कर रहे हैं। सांप्रदायिक माहौल बिगाड़ने और आतंक के खिलाफ लड़ने वालों का हौसला तोड़ने के लिए ऐसा किया जा रहा है। ISI, खालिस्तान मूवमेंट को कश्मीर के आतंकवाद से जोड़ने की कोशिश कर रहा है। पांचों जम्मू-कश्मीर के नंबर वाली सफेद रंग की कार में सवार थे। पुलिस ने रोकने की कोशिश की तो, इन्होंने फायरिंग शुरू कर दी। जिस गाड़ी में ये संदिग्ध सवार थे, उसका नंबर JK 04B 8173 है। आतंकियों ने 17 अक्टूबर को एक्टिविस्ट बलविंदर की हत्या कर दी थी। बलविंदर सिंह ने पंजाब में खालिस्तानी आतंकवाद के दौर में बहादुरी से आतंकियों का मुकाबला किया था। उन पर 42 बार हमले हुए थे। इसके चलते उन्हें परिवार समेत शौर्य चक्र से सम्मानित किया गया था। 42 आतंकी हमले झेल चुके बलविंदर सिंह को घर में घुसकर गोलियां मारी गईं पिछले महीने जैश के संदिग्ध आतंकी पकड़े गए थे शकरपुर पूर्वी दिल्ली का इलाका है। यह लक्ष्मी नगर और मयूर विहार के बीच आता है। शकरपुर में की गई कार्रवाई के साथ ही पुलिस ने पूरे शहर में सुरक्षा बढ़ा दी है। इससे पहले नवंबर में भी दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने जैश-ए-मोहम्मद के 2 संदिग्ध आतंकियों को सराय काले खां के पास से पकड़ा था। आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें

पुलिस ने बताया कि पकड़े गए पांचों लोग ISI के नार्को टेररिज्म नेटवर्क से भी जुड़े हैं। आतंकी संगठन टारगेट किलिंग के लिए गैंगस्टर का भी इस्तेमाल कर रहे हैं।Read More

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *