किसान आंदोलन में एक सिख ने भारतीय तिरंगे का अपमान किया, इस फोटो का सच 7 साल पुराना हैDainik Bhaskar


क्या हो रहा है वायरल: एक फोटो किसान आंदोलन का बताकर सोशल मीडिया पर शेयर किया जा रहा है। फोटो में एक सिख भारतीय तिरंगे की ओर जूता दिखाता नजर आ रहा है। उसके साथ खड़े और लोगों ने तिरंगे को अपने जूतों के नीचे दबा रखा है।

दावा किया जा रहा है कि यह फोटो इन दिनों चल रहे किसान आंदोलन की है, जो भारतीय तिरंगे का अपमान करती है। पोस्ट में तिरंगे का अपमान करने वालों को गिरफ्तार करने की मांग भी की गई है।

और सच क्या है?

  • फोटो रिवर्स सर्च करने पर हमें ‘दल खालसा यूनाइटेड किंगडम’ के नाम से एक ब्लॉग में यह फोटो मिली। इस ब्लॉग को 17 अगस्त, 2013 को पब्लिश किया गया था।
  • ब्लॉग के मुताबिक, यह फोटो 15 अगस्त 2013 को सेंट्रल लंदन में भारतीय दूतावास के बाहर ली गई थी। यहां सिख समुदाय के अलावा अल्पसंख्यकों ने भारत पर उत्पीड़न और कब्जे का आरोप लगाते हुए विरोध प्रदर्शन किया था।
  • पड़ताल में यह भी सामने आया कि तस्वीर में दिख रहे लोग खालिस्तानी समर्थक हैं। तस्वीर का किसान आंदोलन से कोई लेना-देना नहीं है।
  • इसी प्रदर्शन से जुड़ी उसी दिन की और तस्वीरें एक फोटो एजेंसी पर मिलीं। पड़ताल में यह भी सामने आया कि विरोध करने वाला सिख ‘दल खालसा यूके’ का मेम्बर है और उसका नाम सरदार मनमोहन सिंह खालसा है।
  • साफ है कि सोशल मीडिया पर 7 साल पुरानी फोटो को गलत दावे के साथ शेयर किया जा रहा है।

आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें


latest fake news Old photo from UK falsely shared as Indian flag desecrated during farmers protest hers is the truth

क्या हो रहा है वायरल: एक फोटो किसान आंदोलन का बताकर सोशल मीडिया पर शेयर किया जा रहा है। फोटो में एक सिख भारतीय तिरंगे की ओर जूता दिखाता नजर आ रहा है। उसके साथ खड़े और लोगों ने तिरंगे को अपने जूतों के नीचे दबा रखा है। दावा किया जा रहा है कि यह फोटो इन दिनों चल रहे किसान आंदोलन की है, जो भारतीय तिरंगे का अपमान करती है। पोस्ट में तिरंगे का अपमान करने वालों को गिरफ्तार करने की मांग भी की गई है। क्या इन्हीं किसानों पर भारत गर्व करता है। ऐसा लगता है जैसे की विदेशी आतंकवादी, किसानों के भेष में देश में घुस आए हैं। अपने ही देश के झंडे का ऐसा अपमान। थू है इन दोगलों पर।। I Love you हिंदुस्तान बिहार pic.twitter.com/LaKGRpCcYA — Rajesh_Sahu (@RajeshS86886551) December 6, 2020और सच क्या है? फोटो रिवर्स सर्च करने पर हमें ‘दल खालसा यूनाइटेड किंगडम’ के नाम से एक ब्लॉग में यह फोटो मिली। इस ब्लॉग को 17 अगस्त, 2013 को पब्लिश किया गया था।ब्लॉग के मुताबिक, यह फोटो 15 अगस्त 2013 को सेंट्रल लंदन में भारतीय दूतावास के बाहर ली गई थी। यहां सिख समुदाय के अलावा अल्पसंख्यकों ने भारत पर उत्पीड़न और कब्जे का आरोप लगाते हुए विरोध प्रदर्शन किया था।पड़ताल में यह भी सामने आया कि तस्वीर में दिख रहे लोग खालिस्तानी समर्थक हैं। तस्वीर का किसान आंदोलन से कोई लेना-देना नहीं है।इसी प्रदर्शन से जुड़ी उसी दिन की और तस्वीरें एक फोटो एजेंसी पर मिलीं। पड़ताल में यह भी सामने आया कि विरोध करने वाला सिख ‘दल खालसा यूके’ का मेम्बर है और उसका नाम सरदार मनमोहन सिंह खालसा है।साफ है कि सोशल मीडिया पर 7 साल पुरानी फोटो को गलत दावे के साथ शेयर किया जा रहा है। आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें

latest fake news Old photo from UK falsely shared as Indian flag desecrated during farmers protest hers is the truthRead More

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *