टेंट सिटी के ठेकेदार पर 100 करोड़ के भ्रष्टाचार के आरोप, इसी टेंट सिटी में ठहरने वाले थे मोदीDainik Bhaskar


प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कच्छ दौरे के कार्यक्रम में बदलाव किया जा रहा है। अब मोदी 14 की जगह 15 दिसंबर को कच्छ का दौरा करेंगे। इस दौरान वे देश के सबसे बड़े हाईब्रिड एनर्जी पार्क का शिलान्यास करेंगे। हालांकि, इससे पहले मोदी का कच्छ दौरा दो दिन का होने की जानकारी मिली थी।

वे 14 दिसंबर को कच्छ पहुंचकर टेंट सिटी में ठहरने वाले थे। लेकिन इस टेंट सिटी के ठेकेदार लल्लूजी एंड संस पर प्रयागराज में करीब सौ करोड़ के भ्रष्टाचार के आरोप लगने के बाद कार्यक्रम स्थगित कर दिया।

कच्छ रणोत्सव में टेंट सिटी का ठेका इसी कंपनी के पास

उत्तर प्रदेश में टेंट सिटी भ्रष्टाचार के मामले में जांच का सामना कर रही लल्लूजी एंड संस कंपनी को कच्छ के विख्यात रणोत्सव में भी ठेका मिला है। गुजरात के धोरडो के सफेद रण में टेंट सिटी का ठेका विवाद में घिरी इसी कंपनी के पास है। मामला तूल न पकड़े, इसलिए कच्छ-गुजरात दौरा दो के बजाय एक दिन का करने की बात सामने आई है।

आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें


पहले तय कार्यक्रम के मुताबिक, प्रधानमंत्री दो दिन कच्छ में रूकने वाले थे।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कच्छ दौरे के कार्यक्रम में बदलाव किया जा रहा है। अब मोदी 14 की जगह 15 दिसंबर को कच्छ का दौरा करेंगे। इस दौरान वे देश के सबसे बड़े हाईब्रिड एनर्जी पार्क का शिलान्यास करेंगे। हालांकि, इससे पहले मोदी का कच्छ दौरा दो दिन का होने की जानकारी मिली थी। वे 14 दिसंबर को कच्छ पहुंचकर टेंट सिटी में ठहरने वाले थे। लेकिन इस टेंट सिटी के ठेकेदार लल्लूजी एंड संस पर प्रयागराज में करीब सौ करोड़ के भ्रष्टाचार के आरोप लगने के बाद कार्यक्रम स्थगित कर दिया। कच्छ रणोत्सव में टेंट सिटी का ठेका इसी कंपनी के पास उत्तर प्रदेश में टेंट सिटी भ्रष्टाचार के मामले में जांच का सामना कर रही लल्लूजी एंड संस कंपनी को कच्छ के विख्यात रणोत्सव में भी ठेका मिला है। गुजरात के धोरडो के सफेद रण में टेंट सिटी का ठेका विवाद में घिरी इसी कंपनी के पास है। मामला तूल न पकड़े, इसलिए कच्छ-गुजरात दौरा दो के बजाय एक दिन का करने की बात सामने आई है। आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें

पहले तय कार्यक्रम के मुताबिक, प्रधानमंत्री दो दिन कच्छ में रूकने वाले थे।Read More

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *