बाइडेन-कमला Time पर्सन ऑफ द ईयर बने, अमेरिकी राजनीति में बदलाव लाने के लिए मैगजीन ने यह सम्मान दियाDainik Bhaskar


टाइम मैगजीन ने 2020 के लिए पर्सन ऑफ द ईयर का ऐलान कर दिया है। इस बार अमेरिका के प्रेसिडेंट इलेक्ट जो बाइडेन और वाइस प्रेसिडेंट इलेक्ट कमला हैरिस को मैगजीन ने अपने कवर पेज पर जगह दी है। दोनों के फोटो के साथ लिखा- Changing America’S story यानी बदलते अमेरिका की कहानी। 1927 से टाइम मैगजीन पर्सन ऑफ द इयर चुनती आ रही है। इस साल पर्सन ऑफ द इयर की रेस में अमेरिकी फिजिशियन डॉक्टर एंथनी फौसी, रेसियल जस्टिस मूवमेंट और राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प भी थे।

बाइडेन पिछले महीने हुए राष्ट्रपति चुनाव में डोनाल्ड ट्रम्प को हराया है। अमेरिका के सभी 50 राज्यों में चुनाव को सर्टिफाई किया जा चुका है। इसके बावजूद ट्रम्प चुनाव में धांधली के आरोप लगा रहे हैं।

अमेरिका की राजनीति में बदलाव

मैगजीन ने दोनों को अमेरिकी इतिहास में बदलाव लाने के लिए पॉलिटिक्स कैटेगरी में यह खिताब दिया है। टाइम के एडिटर इन चीफ एडवर्ड फेल्सेंथल ने सोशल मीडिया पर लिखा- बाइडेन और कमला हैरिस ने अमेरिकी इतिहास को बदलने की कोशिश की है। यह दिखाया कि लोगों की बांटने से ज्यादा ताकत उनसे हमदर्दी दिखाने में होती है। दोनों ने दुख में डूबी दुनिया के जख्मों पर मरहम लगाने का विजन पेश किया है।

ओबामा और ट्रम्प भी रह चुके हैं पर्सन ऑफ द इयर

यह पहली बार नहीं है जब टाइम ने पर्सन ऑफ द इयर के लिए किसी प्रेसिडेंट इलेक्ट को चुना है। इससे पहले 2016 में ट्रम्प को अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव जीतने के बाद इसके लिए चुना गया था। इसी तरह बराक ओबामा और जॉर्ज डब्ल्यू बुश दो बार टाइम पर्सन ऑफ द ईयर रह चुके हैं। हालांकि, इन दोनों को मैगजीन ने राष्ट्रपति चुनाव जीतने के बाद चुना गया था। पिछले साल यानी 2019 में जलवायु परिवर्तन के लिए काम करने वाली स्वीडन की एक्टिविस्ट ग्रेटा थनबर्ग को यह सम्मान हासिल हुआ था।

1927 से पर्सन ऑफ द इयर चुनने की शुरुआत हुई

1927 से टाइम ने पर्सन ऑफ द इयर चुनने की शुरुआत की। 1998 में इसके लिए पहली बार ऑनलाइन पोलिंग शुरू हुई। अब तक 108 बार यह सम्मान दिया जा चुका है। यह किसी व्यक्ति, ग्रुप, ऑर्गनाइजेशन या आंदोलन को उसके कामों के लिए दिया जाता है। यह किसी तरह का सम्मान या अवार्ड नहीं है। टाइम इसके लिए यह देखता है कि जिसे यह खिताब दिया जाना है उसका प्रभाव कितना है या वह कितना अहम है।

पिछले पांच साल में ये रहे पर्सन ऑफ द इयर

साल नाम कैटेगरी
2019 ग्रेटा थनबर्ग सोसाइटी
2018 गार्जियन्स एंड वार ऑन ट्रूथ सोसाइटी
2017 द साइलेंस ब्रेकर्स सोसाइटी
2016 डोनाल्ड ट्रम्प पॉलिटिक्स
2015 एंजेला मर्केल पॉलिटिक्स

आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें


टाइम मैगजीन ने 2020 में पर्सन ऑफ द ईयर के लिए अमेरिका के प्रेसिडेंट इलेक्ट जो बाइडेन और वाइस प्रेसिडेंट इलेक्ट कमला हैरिस को चुना है। दोनों को कवर पेज पर जगह दी गई है।

टाइम मैगजीन ने 2020 के लिए पर्सन ऑफ द ईयर का ऐलान कर दिया है। इस बार अमेरिका के प्रेसिडेंट इलेक्ट जो बाइडेन और वाइस प्रेसिडेंट इलेक्ट कमला हैरिस को मैगजीन ने अपने कवर पेज पर जगह दी है। दोनों के फोटो के साथ लिखा- Changing America’S story यानी बदलते अमेरिका की कहानी। 1927 से टाइम मैगजीन पर्सन ऑफ द इयर चुनती आ रही है। इस साल पर्सन ऑफ द इयर की रेस में अमेरिकी फिजिशियन डॉक्टर एंथनी फौसी, रेसियल जस्टिस मूवमेंट और राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प भी थे। बाइडेन पिछले महीने हुए राष्ट्रपति चुनाव में डोनाल्ड ट्रम्प को हराया है। अमेरिका के सभी 50 राज्यों में चुनाव को सर्टिफाई किया जा चुका है। इसके बावजूद ट्रम्प चुनाव में धांधली के आरोप लगा रहे हैं। अमेरिका की राजनीति में बदलाव मैगजीन ने दोनों को अमेरिकी इतिहास में बदलाव लाने के लिए पॉलिटिक्स कैटेगरी में यह खिताब दिया है। टाइम के एडिटर इन चीफ एडवर्ड फेल्सेंथल ने सोशल मीडिया पर लिखा- बाइडेन और कमला हैरिस ने अमेरिकी इतिहास को बदलने की कोशिश की है। यह दिखाया कि लोगों की बांटने से ज्यादा ताकत उनसे हमदर्दी दिखाने में होती है। दोनों ने दुख में डूबी दुनिया के जख्मों पर मरहम लगाने का विजन पेश किया है। ओबामा और ट्रम्प भी रह चुके हैं पर्सन ऑफ द इयर यह पहली बार नहीं है जब टाइम ने पर्सन ऑफ द इयर के लिए किसी प्रेसिडेंट इलेक्ट को चुना है। इससे पहले 2016 में ट्रम्प को अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव जीतने के बाद इसके लिए चुना गया था। इसी तरह बराक ओबामा और जॉर्ज डब्ल्यू बुश दो बार टाइम पर्सन ऑफ द ईयर रह चुके हैं। हालांकि, इन दोनों को मैगजीन ने राष्ट्रपति चुनाव जीतने के बाद चुना गया था। पिछले साल यानी 2019 में जलवायु परिवर्तन के लिए काम करने वाली स्वीडन की एक्टिविस्ट ग्रेटा थनबर्ग को यह सम्मान हासिल हुआ था। 1927 से पर्सन ऑफ द इयर चुनने की शुरुआत हुई 1927 से टाइम ने पर्सन ऑफ द इयर चुनने की शुरुआत की। 1998 में इसके लिए पहली बार ऑनलाइन पोलिंग शुरू हुई। अब तक 108 बार यह सम्मान दिया जा चुका है। यह किसी व्यक्ति, ग्रुप, ऑर्गनाइजेशन या आंदोलन को उसके कामों के लिए दिया जाता है। यह किसी तरह का सम्मान या अवार्ड नहीं है। टाइम इसके लिए यह देखता है कि जिसे यह खिताब दिया जाना है उसका प्रभाव कितना है या वह कितना अहम है। पिछले पांच साल में ये रहे पर्सन ऑफ द इयर साल नाम कैटेगरी 2019 ग्रेटा थनबर्ग सोसाइटी 2018 गार्जियन्स एंड वार ऑन ट्रूथ सोसाइटी 2017 द साइलेंस ब्रेकर्स सोसाइटी 2016 डोनाल्ड ट्रम्प पॉलिटिक्स 2015 एंजेला मर्केल पॉलिटिक्स आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें

टाइम मैगजीन ने 2020 में पर्सन ऑफ द ईयर के लिए अमेरिका के प्रेसिडेंट इलेक्ट जो बाइडेन और वाइस प्रेसिडेंट इलेक्ट कमला हैरिस को चुना है। दोनों को कवर पेज पर जगह दी गई है।Read More

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *