जम्मू-कश्मीर में एनकाउंटर के दौरान 2 आतंकियों ने किया सरेंडर, परिवार की अपील के बाद किया समर्पणDainik Bhaskar


दक्षिण कश्मीर के कुलगाम में आतंकियों और सुरक्षाबलों के बीच हुए एनकाउंटर में आतंकियों सरेंडर कर दिया। पुलिस ने मंगलवार को बताया कि तोंगदोनू इलाके में आतंकियों के छिपे होने की सूचना पर सर्च ऑपरेशन चलाया गया। इलाके घेराबंदी करने के बाद एनकाउंटर शुरू हुआ।

ऑपरेशन के दौरान आतंकियों के परिवार ने उनसे हथियार डालने और सरेंडर करने के लिए कहा। इसके बाद दोनों लोकल आतंकियों ने पुलिस और सशस्त्र बलों के सामने सरेंडर कर दिया।

दो पिस्टल और गोला-बारूद बरामद
कश्मीर जोन पुलिस के मुताबिक, दोनों आतंकी लश्कर-ए-तैयबा से जुड़े हुए थे। सर्च ऑपरेशन के दौरान आतंकियों के पास से दो पिस्टल और गोला-बारूद बरामद किए हैं। उनके पास से कुछ संदिग्ध डॉक्यूमेंट भी मिले हैं। वहीं, कश्मीर के IGP विजय कुमार ने कहा कि इस साल एनकाउंटर के दौरान 12 आतंकवादी सरेंडर कर चुके हैं।

पाकिस्तान के खिलाफ पर्याप्त सबूत
इससे पहले जम्मू-कश्मीर के DGP दिलबाग सिंह ने पाकिस्तान पर भारत में आतंकियों को भेजने के आरोप लगाए थे। उन्होंने कहा था कि हमारे पास पाकिस्तान के खिलाफ पर्याप्त सबूत हैं। पाकिस्तान न सिर्फ आतंकियों को ट्रेनिंग दे रहा है, बल्कि उन्हें यहां भेजकर डिस्ट्रिक्ट डेवलपमेंट चुनाव को भी प्रभावित करने की कोशिश कर रहा है। वहीं, चिनार कॉर्प्स के जनरल ऑफिसर कमांडिंग (GOC) ने कहा था कि पाकिस्तान जम्मू-कश्मीर के युवाओं को बरगलाने की कोशिश कर रहा है।

ड्रोन से घुसपैठ की कोशिश नाकाम की थी
पंजाब में इंटरनेशनल बॉर्डर पर पाकिस्तानी ड्रोन ने 19 दिसंबर को घुसपैठ की कोशिश की थी। मौके पर तैनात बॉर्डर सिक्योरिटी फोर्स (BSF) के जवानों ने ड्रोन को गिराने के लिए फायरिंग की, जिसके बाद ड्रोन वापस पाकिस्तान सीमा की ओर चला गया। इलाके में चलाए गए सर्च ऑपरेशन में पंजाब पुलिस ने 11 ग्रेनेड जब्त किए थे।

आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें


यह फोटो श्रीनगर का है। यहां मंगलवार को जारी DDC चुनाव की मतगणना के लिए कड़ी सुरक्षा व्यवस्था की गई है।

दक्षिण कश्मीर के कुलगाम में आतंकियों और सुरक्षाबलों के बीच हुए एनकाउंटर में आतंकियों सरेंडर कर दिया। पुलिस ने मंगलवार को बताया कि तोंगदोनू इलाके में आतंकियों के छिपे होने की सूचना पर सर्च ऑपरेशन चलाया गया। इलाके घेराबंदी करने के बाद एनकाउंटर शुरू हुआ। ऑपरेशन के दौरान आतंकियों के परिवार ने उनसे हथियार डालने और सरेंडर करने के लिए कहा। इसके बाद दोनों लोकल आतंकियों ने पुलिस और सशस्त्र बलों के सामने सरेंडर कर दिया। दो पिस्टल और गोला-बारूद बरामद कश्मीर जोन पुलिस के मुताबिक, दोनों आतंकी लश्कर-ए-तैयबा से जुड़े हुए थे। सर्च ऑपरेशन के दौरान आतंकियों के पास से दो पिस्टल और गोला-बारूद बरामद किए हैं। उनके पास से कुछ संदिग्ध डॉक्यूमेंट भी मिले हैं। वहीं, कश्मीर के IGP विजय कुमार ने कहा कि इस साल एनकाउंटर के दौरान 12 आतंकवादी सरेंडर कर चुके हैं। पाकिस्तान के खिलाफ पर्याप्त सबूत इससे पहले जम्मू-कश्मीर के DGP दिलबाग सिंह ने पाकिस्तान पर भारत में आतंकियों को भेजने के आरोप लगाए थे। उन्होंने कहा था कि हमारे पास पाकिस्तान के खिलाफ पर्याप्त सबूत हैं। पाकिस्तान न सिर्फ आतंकियों को ट्रेनिंग दे रहा है, बल्कि उन्हें यहां भेजकर डिस्ट्रिक्ट डेवलपमेंट चुनाव को भी प्रभावित करने की कोशिश कर रहा है। वहीं, चिनार कॉर्प्स के जनरल ऑफिसर कमांडिंग (GOC) ने कहा था कि पाकिस्तान जम्मू-कश्मीर के युवाओं को बरगलाने की कोशिश कर रहा है। ड्रोन से घुसपैठ की कोशिश नाकाम की थी पंजाब में इंटरनेशनल बॉर्डर पर पाकिस्तानी ड्रोन ने 19 दिसंबर को घुसपैठ की कोशिश की थी। मौके पर तैनात बॉर्डर सिक्योरिटी फोर्स (BSF) के जवानों ने ड्रोन को गिराने के लिए फायरिंग की, जिसके बाद ड्रोन वापस पाकिस्तान सीमा की ओर चला गया। इलाके में चलाए गए सर्च ऑपरेशन में पंजाब पुलिस ने 11 ग्रेनेड जब्त किए थे। आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें

यह फोटो श्रीनगर का है। यहां मंगलवार को जारी DDC चुनाव की मतगणना के लिए कड़ी सुरक्षा व्यवस्था की गई है।Read More

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *