सुरक्षाबलों ने 3 आतंकी मार गिराए, 15 घंटे चला एनकाउंटर; सर्च ऑपरेशन जारीDainik Bhaskar


कश्मीर में सुरक्षाबलों ने 3 आतंकी मार गिराए हैं। श्रीनगर के लावापोरा इलाके में मंगलवार को एनकाउंटर शुरू हुआ था जो 15 घंटे से ज्यादा चला। पुलिस ने आतंकियों को सरेंडर करने का मौका दिया, लेकिन उन्होंने फायरिंग शुरू कर दी। अभी पता नहीं चल पाया है कि मारे गए आतंकी किस संगठन के हैं।

जम्मू-कश्मीर पुलिस के मुताबिक, सर्च के दौरान वहां से एक AK-47, दो पिस्टल, हथियार और कुछ डॉक्यूमेंट समेत कई संदिग्ध मटेरियल बरामद हुए हैं। मारे गए आतंकियों में दो पुलवामा और एक शापियां का रहने वाला है।

बालाकोट में आतंकियों के हथियार मिले
इस बीच, पुलिस और आर्मी की टीम ने नियंत्रण रेखा (LoC) के पास बालाकोट स्थित मेंढर सेक्टर में 2 पिस्टल, 70 कारतूस और 2 ग्रेनेड बरामद किए हैं। पुंछ के SSP रमेश अग्रवाल ने बताया कि आतंकियों के पाकिस्तानी हैंडलर्स ने हथियार भेजे थे। रविवार को आतंकियों के 3 मददगारों की गिरफ्तारी के बाद हथियारों का पता चला था।

जम्मू-कश्मीर में इस साल 203 आतंकी मारे गए
न्यूज एजेंसी के सूत्रों के मुताबिक सुरक्षाबलों ने इस साल जम्मू-कश्मीर में 203 आतंकी ढेर किए। इनमें 166 लोकल और 37 पाकिस्तानी थे। इस साल 49 दहशतगर्द गिरफ्तार किए और 9 ने सरेंडर कर दिया। दक्षिण कश्मीर में सबसे ज्यादा आतंकी मारे गए। शोपियां, कुलगाम और पुलवामा में ज्यादा एनकाउंटर हुए। इन्हीं इलाकों में आतंकी संगठनों ने स्थानीय युवाओं को ज्यादा भर्ती किया था।

इस साल 96 आतंकी घटनाएं हुईं
इनमें 43 आम लोग मारे गए और 92 जख्मी हुए। यह संख्या पिछले साल के मुकाबले कम है। 2019 में 47 लोगों की जान गई थी 185 घायल हुए थे। इस साल सिर्फ 14 IED विस्फोटक मिले, पिछले साल यह आंकड़ा 36 था।

आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें


Jammu Kashmir Encounter Today; 3 Pakistan Terrorists Killed By Security Forces, Search Operation In Of Srinagar ​​Lawaypora

कश्मीर में सुरक्षाबलों ने 3 आतंकी मार गिराए हैं। श्रीनगर के लावापोरा इलाके में मंगलवार को एनकाउंटर शुरू हुआ था जो 15 घंटे से ज्यादा चला। पुलिस ने आतंकियों को सरेंडर करने का मौका दिया, लेकिन उन्होंने फायरिंग शुरू कर दी। अभी पता नहीं चल पाया है कि मारे गए आतंकी किस संगठन के हैं। जम्मू-कश्मीर पुलिस के मुताबिक, सर्च के दौरान वहां से एक AK-47, दो पिस्टल, हथियार और कुछ डॉक्यूमेंट समेत कई संदिग्ध मटेरियल बरामद हुए हैं। मारे गए आतंकियों में दो पुलवामा और एक शापियां का रहने वाला है। #SrinagarEncounterUpdate: 02 more unidentified #terrorists killed (Total 03). #Search going on. Further details shall follow. @JmuKmrPolice https://t.co/8fsswJKIPr — Kashmir Zone Police (@KashmirPolice) December 30, 2020बालाकोट में आतंकियों के हथियार मिले इस बीच, पुलिस और आर्मी की टीम ने नियंत्रण रेखा (LoC) के पास बालाकोट स्थित मेंढर सेक्टर में 2 पिस्टल, 70 कारतूस और 2 ग्रेनेड बरामद किए हैं। पुंछ के SSP रमेश अग्रवाल ने बताया कि आतंकियों के पाकिस्तानी हैंडलर्स ने हथियार भेजे थे। रविवार को आतंकियों के 3 मददगारों की गिरफ्तारी के बाद हथियारों का पता चला था। जम्मू-कश्मीर में इस साल 203 आतंकी मारे गए न्यूज एजेंसी के सूत्रों के मुताबिक सुरक्षाबलों ने इस साल जम्मू-कश्मीर में 203 आतंकी ढेर किए। इनमें 166 लोकल और 37 पाकिस्तानी थे। इस साल 49 दहशतगर्द गिरफ्तार किए और 9 ने सरेंडर कर दिया। दक्षिण कश्मीर में सबसे ज्यादा आतंकी मारे गए। शोपियां, कुलगाम और पुलवामा में ज्यादा एनकाउंटर हुए। इन्हीं इलाकों में आतंकी संगठनों ने स्थानीय युवाओं को ज्यादा भर्ती किया था। इस साल 96 आतंकी घटनाएं हुईं इनमें 43 आम लोग मारे गए और 92 जख्मी हुए। यह संख्या पिछले साल के मुकाबले कम है। 2019 में 47 लोगों की जान गई थी 185 घायल हुए थे। इस साल सिर्फ 14 IED विस्फोटक मिले, पिछले साल यह आंकड़ा 36 था। आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें

Jammu Kashmir Encounter Today; 3 Pakistan Terrorists Killed By Security Forces, Search Operation In Of Srinagar ​​LawayporaRead More

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *