आज देशभर में ड्राई रन, ट्रेनिंग ले चुके 96 हजार से ज्यादा हेल्थ वर्कर्स की तैयारी परखी जाएगीDainik Bhaskar


कोरोना वैक्सिनेशन को लेकर केंद्र सरकार पुरजोर तरीके से तैयारियों में जुटी है। हाल ही में वैक्सीन के लिए कई राज्यों में ड्राई रन कामयाब रहा। अब दिल्ली समेत देशभर में शनिवार को ड्राई रन किया जाएगा। इसे लेकर स्वास्थ्य मंत्रालय ने शुक्रवार को रिव्यू मीटिंग की।

ड्राई रन कैसे होगा?

  • ड्राई रन की प्रोसेस में वैक्सिनेशन से इतर चार स्टेप्स शामिल की जाएंगी। इनमें 1. बेनीफिशियरी (जिन लोगों को डमी वैक्सीन लगाई जानी है) की जानकारी, 2. जहां वैक्सीन दी जानी है उस जगह की डिटेल, 3. मौके पर डाक्यूमेंट्स का वैरिफिकेशन और 4. वैक्सिनेशन की मॉक ड्रिल और रिपोर्टिंग की जानकारी अपलोड करना शामिल है।
  • ड्राई रन में पहले लिस्ट में शामिल किए कुछ लोगों को डमी वैक्सीन दी जाएगी। इस दौरान वैक्सिनेशन शुरू करने के लिए जरूरी इंतजामों का रिव्यू किया जाएगा। इससे असली वैक्सिनेशन के दौरान आने वाली संभावित कमियों को दूर करने का प्रयास किया जाएगा।
  • हर साइट पर मेडिकल ऑफिसर इनचार्ज 25 बेनीफिशियरी को चुनेगा। हर सेंटर पर तीन कमरे होंगे। पहला कमरा वेटिंग के लिए होगा। इसमें हेल्थ वर्कर की पूरी जानकारी का डेमो मिलान होगा। दूसरे कमरे में वैक्सीन दी जाएगी। तीसरे कमरे में वैक्सीन लगवाने वाले को 30 मिनट रखा जाएगा। ताकि उसे कोई परेशानी होने पर इलाज दिया जा सके।
  • ड्राई रन में ये बेनीफिशियरी हेल्थ वर्कर्स ही रहेंगे। राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों से कहा गया है कि वे बेनीफिशियरी का डेटा Co-WIN ऐप पर अपलोड करें। यह वैक्सीन की डिलीवरी और मॉनीटरिंग का ऑनलाइन प्लेटफॉर्म है। इस प्रोसेस के बाद Co-WIN उपयोगी हो पाएगा।
  • स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि करीब 96 हजार वैक्सिनेटर्स को वैक्सिनेशन की ट्रेनिंग दी गई है। 2360 पार्टिसिपेंट्स को नेशनल ट्रेनिंग ऑफ ट्रेनर्स इंस्टीट्यूट में और 719 जिलों में 57 हजार से अधिक पार्टिसिपेंट्स को ट्रेनिंग दी गई है। वैक्सीन से संबंधित कोई भी जानकारी किसी भी राज्य में 104 नंबर डायल करके हासिल की जा सकेगी।

UP में लखनऊ के 6 सेंटर पर ड्राई रन
राजधानी लखनऊ में सहारा अस्पताल, आरएमएल अस्पताल, किंग जॉर्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी, SGPI और माल सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर वैक्सीन का ड्राई रन किया जाएगा। वहीं, 5 जनवरी को यह पूरे राज्य के मेडिकल कॉलेज और जिला अस्पतालों में होगा। अब तक पांच लाख से अधिक स्वास्थ्य टीमों ने निगरानी के तहत 3.10 करोड़ घरों को कवर किया है। 15.08 करोड़ से अधिक लोगों जांच की गई है।

महाराष्ट्र के 4 जिलों में होगा ड्राई रन
यहां पुणे, नागपुर, जालना और नंदुरबार में वैक्सीन का ड्राई रन किया जाएगा।

बिहार के 3 जिलों में ड्राई रन
पटना में इसे लेकर तीन सेंटर तय किए गए हैं। इनमें शास्त्रीनगर शहरी स्वास्थ्य केंद्र, फुलवारी PHC और दानापुर हॉस्पिटल में यह ड्राई रन होगा। पटना के अलावा जमुई और बेतिया में भी एक-एक सेंटर पर ड्राई वैक्सिनेशन किया जाएगा।

कर्नाटक के 5 जिलों में होगा ड्राई रन
राज्य के पांच जिलों बेंगलुरु अर्बन, मैसूरु, शिवमोगा, बेलगावी और कलबुर्गी में वैक्सीन का ड्राई रन किया जाएगा। हर जिले में तीन साइट होंगी। एक जिले में एक तालुक में और एक प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में।

पंजाब में सिर्फ पटियाला में होगा ड्राई रन
यहां पटियाला में तीन सेंटर पर 2 और 3 जनवरी को ड्राई रन किया जाएगा। ये सेंटर हैं- गवर्नमेंट मेडिकल कॉलेज, सद्भावना हॉस्पिटल और शतराण का सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र। स्वास्थ्य मंत्री बलबीर सिंह सिद्धू ने यह जानकारी दी।

हरियाणा के पंचकूला में होगा ड्राई रन
यहां सिर्फ पंचकूला जिले की तीन साइट्स पर ड्राई रन किया जाएगा। राज्य के स्वास्थ्य विभाग के डायरेक्टर जनरल डॉ. सूरज भान कंबोज ने शुक्रवार को यह जानकारी दी। यहां

मध्यप्रदेश में एक जिले में होगा ड्राई रन
राजधानी भोपाल में तीन प्वॉइंट्स पर ड्राई रन होगा। इसके लिए लोगों का Co-WIN प्लेटफॉर्म पर रजिस्ट्रेशन करवाया जाएगा। इसके बाद उन्हें मैसेज के जरिए वैक्सिनेशन के लिए वक्त और जगह के बारे में बताया जाएगा। इस मॉक ड्रिल का ब्योरा और आंकड़े केंद्र को भेजे जाएंगे।

गुजरात के चार जिलों में होगा ड्राई रन
राज्य के चार जिलों में ड्राई रन किया जाएगा। ये जिले हैं- दाहोद, भावनगर, वलसाड और आणंद। राज्य के हेल्थ कमिशनर जय प्रकाश शिवहरे ने शुक्रवार को यह जानकारी दी।

आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें


Covid 19 Coronavirus Vaccine Dry run from 2 January what it means and how it will be done

कोरोना वैक्सिनेशन को लेकर केंद्र सरकार पुरजोर तरीके से तैयारियों में जुटी है। हाल ही में वैक्सीन के लिए कई राज्यों में ड्राई रन कामयाब रहा। अब दिल्ली समेत देशभर में शनिवार को ड्राई रन किया जाएगा। इसे लेकर स्वास्थ्य मंत्रालय ने शुक्रवार को रिव्यू मीटिंग की। ड्राई रन कैसे होगा? ड्राई रन की प्रोसेस में वैक्सिनेशन से इतर चार स्टेप्स शामिल की जाएंगी। इनमें 1. बेनीफिशियरी (जिन लोगों को डमी वैक्सीन लगाई जानी है) की जानकारी, 2. जहां वैक्सीन दी जानी है उस जगह की डिटेल, 3. मौके पर डाक्यूमेंट्स का वैरिफिकेशन और 4. वैक्सिनेशन की मॉक ड्रिल और रिपोर्टिंग की जानकारी अपलोड करना शामिल है।ड्राई रन में पहले लिस्ट में शामिल किए कुछ लोगों को डमी वैक्सीन दी जाएगी। इस दौरान वैक्सिनेशन शुरू करने के लिए जरूरी इंतजामों का रिव्यू किया जाएगा। इससे असली वैक्सिनेशन के दौरान आने वाली संभावित कमियों को दूर करने का प्रयास किया जाएगा।हर साइट पर मेडिकल ऑफिसर इनचार्ज 25 बेनीफिशियरी को चुनेगा। हर सेंटर पर तीन कमरे होंगे। पहला कमरा वेटिंग के लिए होगा। इसमें हेल्थ वर्कर की पूरी जानकारी का डेमो मिलान होगा। दूसरे कमरे में वैक्सीन दी जाएगी। तीसरे कमरे में वैक्सीन लगवाने वाले को 30 मिनट रखा जाएगा। ताकि उसे कोई परेशानी होने पर इलाज दिया जा सके।ड्राई रन में ये बेनीफिशियरी हेल्थ वर्कर्स ही रहेंगे। राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों से कहा गया है कि वे बेनीफिशियरी का डेटा Co-WIN ऐप पर अपलोड करें। यह वैक्सीन की डिलीवरी और मॉनीटरिंग का ऑनलाइन प्लेटफॉर्म है। इस प्रोसेस के बाद Co-WIN उपयोगी हो पाएगा।स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि करीब 96 हजार वैक्सिनेटर्स को वैक्सिनेशन की ट्रेनिंग दी गई है। 2360 पार्टिसिपेंट्स को नेशनल ट्रेनिंग ऑफ ट्रेनर्स इंस्टीट्यूट में और 719 जिलों में 57 हजार से अधिक पार्टिसिपेंट्स को ट्रेनिंग दी गई है। वैक्सीन से संबंधित कोई भी जानकारी किसी भी राज्य में 104 नंबर डायल करके हासिल की जा सकेगी। UP में लखनऊ के 6 सेंटर पर ड्राई रन राजधानी लखनऊ में सहारा अस्पताल, आरएमएल अस्पताल, किंग जॉर्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी, SGPI और माल सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर वैक्सीन का ड्राई रन किया जाएगा। वहीं, 5 जनवरी को यह पूरे राज्य के मेडिकल कॉलेज और जिला अस्पतालों में होगा। अब तक पांच लाख से अधिक स्वास्थ्य टीमों ने निगरानी के तहत 3.10 करोड़ घरों को कवर किया है। 15.08 करोड़ से अधिक लोगों जांच की गई है। महाराष्ट्र के 4 जिलों में होगा ड्राई रन यहां पुणे, नागपुर, जालना और नंदुरबार में वैक्सीन का ड्राई रन किया जाएगा। बिहार के 3 जिलों में ड्राई रन पटना में इसे लेकर तीन सेंटर तय किए गए हैं। इनमें शास्त्रीनगर शहरी स्वास्थ्य केंद्र, फुलवारी PHC और दानापुर हॉस्पिटल में यह ड्राई रन होगा। पटना के अलावा जमुई और बेतिया में भी एक-एक सेंटर पर ड्राई वैक्सिनेशन किया जाएगा। कर्नाटक के 5 जिलों में होगा ड्राई रन राज्य के पांच जिलों बेंगलुरु अर्बन, मैसूरु, शिवमोगा, बेलगावी और कलबुर्गी में वैक्सीन का ड्राई रन किया जाएगा। हर जिले में तीन साइट होंगी। एक जिले में एक तालुक में और एक प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में। पंजाब में सिर्फ पटियाला में होगा ड्राई रन यहां पटियाला में तीन सेंटर पर 2 और 3 जनवरी को ड्राई रन किया जाएगा। ये सेंटर हैं- गवर्नमेंट मेडिकल कॉलेज, सद्भावना हॉस्पिटल और शतराण का सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र। स्वास्थ्य मंत्री बलबीर सिंह सिद्धू ने यह जानकारी दी। हरियाणा के पंचकूला में होगा ड्राई रन यहां सिर्फ पंचकूला जिले की तीन साइट्स पर ड्राई रन किया जाएगा। राज्य के स्वास्थ्य विभाग के डायरेक्टर जनरल डॉ. सूरज भान कंबोज ने शुक्रवार को यह जानकारी दी। यहां मध्यप्रदेश में एक जिले में होगा ड्राई रन राजधानी भोपाल में तीन प्वॉइंट्स पर ड्राई रन होगा। इसके लिए लोगों का Co-WIN प्लेटफॉर्म पर रजिस्ट्रेशन करवाया जाएगा। इसके बाद उन्हें मैसेज के जरिए वैक्सिनेशन के लिए वक्त और जगह के बारे में बताया जाएगा। इस मॉक ड्रिल का ब्योरा और आंकड़े केंद्र को भेजे जाएंगे। गुजरात के चार जिलों में होगा ड्राई रन राज्य के चार जिलों में ड्राई रन किया जाएगा। ये जिले हैं- दाहोद, भावनगर, वलसाड और आणंद। राज्य के हेल्थ कमिशनर जय प्रकाश शिवहरे ने शुक्रवार को यह जानकारी दी। आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें

Covid 19 Coronavirus Vaccine Dry run from 2 January what it means and how it will be doneRead More

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *