जहर दिए जाने का दावा करने वाले इसरो साइंटिस्ट ने कहा- जो हुआ, संयोग नहीं; उम्मीद है सरकार कुछ करेगीDainik Bhaskar


इसरो के स्पेस एप्लिकेशन सेंटर के डायरेक्टर रह चुके वरिष्ठ वैज्ञानिक तपन मिश्रा ने मंगलवार को सोशल मीडिया में एक पोस्ट में दावा किया था कि उन्हें जहर देकर, सांप से कटवाकर जैसे तरीकों के जरिए जान से मारने की कोशिशें की गईं। उनकी इस पोस्ट से देश में जबर्दस्त बहस छिड़ी हुई है। इसी को लेकर भास्कर ने उनसे बात की। पढ़िए हमारे सवालों पर उनके जवाब…

सोशल मीडिया पर आपकी पोस्ट ने राष्ट्रीय बहस छेड़ दी है। इस बारे में आपका क्या कहना है?

मुझे जो कहना था, वह मैं अपनी पोस्ट में कह चुका हूं। इस बारे में अब मुझे कुछ नहीं कहना है। 2017 में मुझे चटनी में जहर देने की कोशिश की गई थी। मुझे शक है कि इसके बाद मेरे घर में जहरीला सांप भी छोड़ा गया था। यह सब संयोग नहीं हो सकता। यही बात मैंने अपनी पोस्ट में कही है और मैं फिर से यही दोहरा रहा हूं।

पोस्ट के बाद आपको क्या प्रतिक्रियाएं मिल रही हैं?
मैंने अभी तक उन्हें देखा नहीं है।

सरकार की तरफ से कोई प्रतिक्रिया आई?
नहीं, मुझे अभी तक कोई आधिकारिक प्रतिक्रिया मिली नहीं है और न ही पूछताछ हुई है। हां, उस समय गृह मंत्रालय और सुरक्षा एजेंसियों ने मेरी काफी मदद की थी। इस बारे में भी मैंने अपनी पोस्ट में लिखा है।

इस बारे में इसरो की तरफ से पूछताछ हुई है?
नहीं, इस बारे में अभी बात किसी ने मुझसे बात नहीं की है।

आपकी पोस्ट को लेकर राष्ट्रीय स्तर पर चर्चा हो रही है। आप वैज्ञानिकों की सुरक्षा को लेकर क्या अपेक्षा रखते हैं?
मुझे जो कहना था, वह कह चुका हूं। अब मेरे पास कहने के लिए कुछ नया नहीं है। अब जो करना है, वह सरकार को करना है। मुझे यकीन है कि सरकार इस मामले में कदम उठाएगी।

आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें


तपन मिश्रा ने पोस्ट में दावा किया था कि उन्हें जहर देने, सांप से कटवाकर जान से मारने की कोशिश की गई। – फाइल फोटो

इसरो के स्पेस एप्लिकेशन सेंटर के डायरेक्टर रह चुके वरिष्ठ वैज्ञानिक तपन मिश्रा ने मंगलवार को सोशल मीडिया में एक पोस्ट में दावा किया था कि उन्हें जहर देकर, सांप से कटवाकर जैसे तरीकों के जरिए जान से मारने की कोशिशें की गईं। उनकी इस पोस्ट से देश में जबर्दस्त बहस छिड़ी हुई है। इसी को लेकर भास्कर ने उनसे बात की। पढ़िए हमारे सवालों पर उनके जवाब… सोशल मीडिया पर आपकी पोस्ट ने राष्ट्रीय बहस छेड़ दी है। इस बारे में आपका क्या कहना है? मुझे जो कहना था, वह मैं अपनी पोस्ट में कह चुका हूं। इस बारे में अब मुझे कुछ नहीं कहना है। 2017 में मुझे चटनी में जहर देने की कोशिश की गई थी। मुझे शक है कि इसके बाद मेरे घर में जहरीला सांप भी छोड़ा गया था। यह सब संयोग नहीं हो सकता। यही बात मैंने अपनी पोस्ट में कही है और मैं फिर से यही दोहरा रहा हूं। पोस्ट के बाद आपको क्या प्रतिक्रियाएं मिल रही हैं? मैंने अभी तक उन्हें देखा नहीं है। सरकार की तरफ से कोई प्रतिक्रिया आई? नहीं, मुझे अभी तक कोई आधिकारिक प्रतिक्रिया मिली नहीं है और न ही पूछताछ हुई है। हां, उस समय गृह मंत्रालय और सुरक्षा एजेंसियों ने मेरी काफी मदद की थी। इस बारे में भी मैंने अपनी पोस्ट में लिखा है। इस बारे में इसरो की तरफ से पूछताछ हुई है? नहीं, इस बारे में अभी बात किसी ने मुझसे बात नहीं की है। आपकी पोस्ट को लेकर राष्ट्रीय स्तर पर चर्चा हो रही है। आप वैज्ञानिकों की सुरक्षा को लेकर क्या अपेक्षा रखते हैं? मुझे जो कहना था, वह कह चुका हूं। अब मेरे पास कहने के लिए कुछ नया नहीं है। अब जो करना है, वह सरकार को करना है। मुझे यकीन है कि सरकार इस मामले में कदम उठाएगी। आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें

तपन मिश्रा ने पोस्ट में दावा किया था कि उन्हें जहर देने, सांप से कटवाकर जान से मारने की कोशिश की गई। – फाइल फोटोRead More

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *