एयरक्राफ्ट के दोनों ब्लैक बॉक्स की लोकेशन मिली, इन्हें निकालने के लिए नेवी टीम जुटीDainik Bhaskar


इंडोनेशिया की श्रीविजया एयरलाइंस के शनिवार को क्रैश हुए विमान के दोनों ब्लैक बॉक्स की लोकेशन ट्रेस कर ली गई। इन्हें निकालने के लिए इंडोनेशियाई नेवी की स्पेशल टीम को तैनात किया गया है। हालांकि, रविवार रात तक दोनों ब्लैक बॉक्स रिकवर नहीं किए जा सके थे। इस क्रैश में सभी 62 पैसेंजर्स की मौत हो गई थी। मलबा समुद्र में मिला।

‘जकार्ता पोस्ट’ के मुताबिक, क्रैश हुए एयरक्राफ्ट के फ्लाइट डेटा रिकॉर्डर और वॉइस रिकॉर्डर को रविवार शाम सिर्फ लोकेट किया जा सका है। इसे नेवी के एक स्पेशल शिप की मदद से लोकेट किया गया। हालांकि, इनको निकालने में दिक्कत आ रही है, क्योंकि यह समुद्री चट्टानों के करीब बताए गए हैं और इनके सिग्नल भी कमजोर होते जा रहे हैं।

इंडोनेशिया के ट्रांसपोर्ट सेफ्टी सेक्रेटरी सोरेजांतो ताहंतो ने कहा, ‘हमारी नेवी टीम ने ब्लैक बॉक्स का पता लगा लिया है। इन्हें निकालना आसान तो नहीं, लेकिन हम जल्द कामयाबी का भरोसा है। इंडोनेशियाई सरकार ने नेवी के हेलिकॉप्टर्स भी सर्च ऑपरेशन में लगाए हैं। रेस्क्यू टीम को रविवार तक सिर्फ पांच डेड बॉडीज मिलीं। मरने वालों में 10 बच्चे भी शामिल हैं।’

क्रैश की वजह का अब तक पता नहीं
श्रीविजया एयर का फ्लाइट का नंबर SJ 182 था। बोइंग 737-500 क्लास के इस प्लेन ने जकार्ता के सुकर्णो-हट्टा हवाई अड्डे से उड़ान भरी थी। उड़ान भरने के चार मिनट बाद ही इसका एयर ट्रैफिक कंट्रोल (ATC) से संपर्क टूट गया था। उस वक्त विमान 10 हजार फीट की ऊंचाई पर था।

आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें


जावा सागर से रविवार को क्रैश हुए एयरक्राफ्ट का मलबा और पांच लोगों के शव निकाले गए। इंडोनेशिया सरकार ने घटना की जांच के आदेश दे दिए हैं।

इंडोनेशिया की श्रीविजया एयरलाइंस के शनिवार को क्रैश हुए विमान के दोनों ब्लैक बॉक्स की लोकेशन ट्रेस कर ली गई। इन्हें निकालने के लिए इंडोनेशियाई नेवी की स्पेशल टीम को तैनात किया गया है। हालांकि, रविवार रात तक दोनों ब्लैक बॉक्स रिकवर नहीं किए जा सके थे। इस क्रैश में सभी 62 पैसेंजर्स की मौत हो गई थी। मलबा समुद्र में मिला। ‘जकार्ता पोस्ट’ के मुताबिक, क्रैश हुए एयरक्राफ्ट के फ्लाइट डेटा रिकॉर्डर और वॉइस रिकॉर्डर को रविवार शाम सिर्फ लोकेट किया जा सका है। इसे नेवी के एक स्पेशल शिप की मदद से लोकेट किया गया। हालांकि, इनको निकालने में दिक्कत आ रही है, क्योंकि यह समुद्री चट्टानों के करीब बताए गए हैं और इनके सिग्नल भी कमजोर होते जा रहे हैं। इंडोनेशिया के ट्रांसपोर्ट सेफ्टी सेक्रेटरी सोरेजांतो ताहंतो ने कहा, ‘हमारी नेवी टीम ने ब्लैक बॉक्स का पता लगा लिया है। इन्हें निकालना आसान तो नहीं, लेकिन हम जल्द कामयाबी का भरोसा है। इंडोनेशियाई सरकार ने नेवी के हेलिकॉप्टर्स भी सर्च ऑपरेशन में लगाए हैं। रेस्क्यू टीम को रविवार तक सिर्फ पांच डेड बॉडीज मिलीं। मरने वालों में 10 बच्चे भी शामिल हैं।’ क्रैश की वजह का अब तक पता नहीं श्रीविजया एयर का फ्लाइट का नंबर SJ 182 था। बोइंग 737-500 क्लास के इस प्लेन ने जकार्ता के सुकर्णो-हट्टा हवाई अड्डे से उड़ान भरी थी। उड़ान भरने के चार मिनट बाद ही इसका एयर ट्रैफिक कंट्रोल (ATC) से संपर्क टूट गया था। उस वक्त विमान 10 हजार फीट की ऊंचाई पर था। आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें

जावा सागर से रविवार को क्रैश हुए एयरक्राफ्ट का मलबा और पांच लोगों के शव निकाले गए। इंडोनेशिया सरकार ने घटना की जांच के आदेश दे दिए हैं।Read More

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *