किसान नेता बोले- भाजपा आंदोलन तोड़ने के लिए 700 रैलियों की बात कह रही, हम विरोध करते रहेंगेDainik Bhaskar


किसान आंदोलन का आज 47वां दिन है। किसानों ने रविवार को हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर को रैली नहीं करने दी। भारतीय किसान यूनियन के प्रमुख गुरनाम सिंह चढूनी का कहना है, “हां, हमने खट्टर साहब को रैली करने से रोका। भाजपा ने कहा था कि किसान आंदोलन को तोड़ने के लिए 700 रैलियां की जाएंगी। हम ऐसी रैलियों का विरोध करते रहेंगे।”

किसानों ने खट्टर का हेलीकॉप्टर नहीं उतरने दिया
खट्टर रविवार को करनाल जिले के कैमला गांव में किसान महापंचायत करने वाले थे। CM वहां पहुंचते उससे पहले कृषि कानूनों का विरोध कर रहे प्रदर्शनकारी पहुंच गए और काले झंडे लहराते हुए नारेबाजी करने लगे। उन्होंने मंच पर भी तोड़फोड़ की। प्रदर्शनकारियों ने CM के हेलीकॉप्टर की लैंडिंग के लिए बने हेलीपैड को भी खोद दिया, इस वजह से खट्‌टर का हेलीकॉप्टर लैंड नहीं कर सका।

किसान आंदोलन का रोडमैप
संयुक्त किसान मोर्चा ने सोमवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस कर बताया-

  • 13 जनवरी को किसान संकल्प दिवस मनाया जाएगा। कृषि कानूनों की कॉपी जलाएंगे। 18 जनवरी को किसान महिला दिवस के रूप में मनाया जाएगा।
  • 23 जनवरी को नेताजी सुभाष चन्द्र की जयंती पर अलग-अलग गांवों से किसान दिल्ली के लिए रवाना होंगे। हर गांव से 5 ट्रैक्टर निकलेंगे, इनमें एक ट्रैक्टर महिलाओं का होगा।
  • 26 जनवरी के लिए तैयारी और तेज की जाएगी। कमेटी बनाकर हर घर से 26 जनवरी को आंदोलन में शामिल होने की अपील करेंगे।
  • जल्द ही एक ऐप लॉन्च किया जाएगा, जिस पर आंदोलन की LIVE कवरेज होगी और इमरजेंसी सर्विसेज दी जाएंगी।

आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें


कई किसान अपने परिवारों को भी आंदोलन में लेकर बैठे हैं। सिंघु बॉर्डर की ये फोटो रविवार को ली गई थी।

किसान आंदोलन का आज 47वां दिन है। किसानों ने रविवार को हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर को रैली नहीं करने दी। भारतीय किसान यूनियन के प्रमुख गुरनाम सिंह चढूनी का कहना है, “हां, हमने खट्टर साहब को रैली करने से रोका। भाजपा ने कहा था कि किसान आंदोलन को तोड़ने के लिए 700 रैलियां की जाएंगी। हम ऐसी रैलियों का विरोध करते रहेंगे।” किसानों ने खट्टर का हेलीकॉप्टर नहीं उतरने दिया खट्टर रविवार को करनाल जिले के कैमला गांव में किसान महापंचायत करने वाले थे। CM वहां पहुंचते उससे पहले कृषि कानूनों का विरोध कर रहे प्रदर्शनकारी पहुंच गए और काले झंडे लहराते हुए नारेबाजी करने लगे। उन्होंने मंच पर भी तोड़फोड़ की। प्रदर्शनकारियों ने CM के हेलीकॉप्टर की लैंडिंग के लिए बने हेलीपैड को भी खोद दिया, इस वजह से खट्‌टर का हेलीकॉप्टर लैंड नहीं कर सका। किसान आंदोलन का रोडमैपसंयुक्त किसान मोर्चा ने सोमवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस कर बताया- 13 जनवरी को किसान संकल्प दिवस मनाया जाएगा। कृषि कानूनों की कॉपी जलाएंगे। 18 जनवरी को किसान महिला दिवस के रूप में मनाया जाएगा। 23 जनवरी को नेताजी सुभाष चन्द्र की जयंती पर अलग-अलग गांवों से किसान दिल्ली के लिए रवाना होंगे। हर गांव से 5 ट्रैक्टर निकलेंगे, इनमें एक ट्रैक्टर महिलाओं का होगा।26 जनवरी के लिए तैयारी और तेज की जाएगी। कमेटी बनाकर हर घर से 26 जनवरी को आंदोलन में शामिल होने की अपील करेंगे।जल्द ही एक ऐप लॉन्च किया जाएगा, जिस पर आंदोलन की LIVE कवरेज होगी और इमरजेंसी सर्विसेज दी जाएंगी। आज की ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए दैनिक भास्कर ऍप डाउनलोड करें

कई किसान अपने परिवारों को भी आंदोलन में लेकर बैठे हैं। सिंघु बॉर्डर की ये फोटो रविवार को ली गई थी।Read More

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *